विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan: राजस्थान में सांवलिया सेठ मंदिर के भंडारे से निकला रिकॉर्ड तोड़ चढ़ावा, 1 क्विंटल चांदी और सोना भी मिला

Sanwariya Seth Temple Chittorgarh: दानपात्र से विदेशी मुद्राएं भी निकली हैं जिसमें सबसे अधिक अमेरिकी एक डॉलर मूल्य के 820 नोट मिले हैं. इसके अलावा यूएई, कुवैत, थाईलैंड, ओमान, म्यांमार, बंगलादेश, इंग्लैंड, मलेशिया, कनाडा, सिंगापुर, कजाकिस्तान व इंडोनेशिया की विदेशी मुद्राएं भी भंडार से मिली हैं.

Read Time: 3 mins
Rajasthan: राजस्थान में सांवलिया सेठ मंदिर के भंडारे से निकला रिकॉर्ड तोड़ चढ़ावा, 1 क्विंटल चांदी और सोना भी मिला
श्री सांवरिया सेठ मंदिर को दान में मिले 18 करोड़.

Rajasthan News: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ जिले में स्थित श्री सांवलिया सेठ मंदिर (Shri Sanwaliya Seth) के दानपात्र में इस बार चढ़ावे का नया रिकॉर्ड बना है. डेढ़ माह बाद जब होली (Holi 2024) पर भंडारा खोला गया तो उसमें 18 करोड़ रुपये का चढ़ावा निकला है, जिसकी गिनती चार चरणों में पूरी हुई है. मंदिर के दानपात्र से निकला ये अभी तक का सबसे ज्यादा चढ़ावा है, जिसमें करीब 1 क्विंटल चांदी समेत 12 देशों की विदेशी मुद्राएं शामिल हैं.

4 चरणों में गुरुवार को पूरी हुई गिनती

24 मार्च को राजभोग आरती के बाद प्रशासनिक व मन्दिर मण्डल अध्यक्ष और सदस्यों की मौजूदगी में श्री सांवलिया सेठ मंदिर का दानपात्र खोला गया और नोटों की गिनती शुरू हुई. पहले चरण की गिनती में करीब 4 करोड़ रुपए गिनकर स्टांग रूम में रखे गए. ये धनराशि दूसरे चरण की गिनती के बाद बढ़कर 13 करोड़ 1 लाख 80 हजार रुपए हो गई. इसके बाद दानपात्र से निकले सोने और चांदी का वजन करके उसकी गिनती शुरू हुई. चढ़ावे की राशि की गिनती चार चरणों में गुरुवार को पूरी हो गई.

14 करोड़ कैश, 4 करोड़ ऑनलाइन दान

मंदिर मंडल के अध्यक्ष भैरु लाल गुर्जर ने बताया कि श्री सांवलिया सेठ मंदिर के दानपात्र से चार चरणों में कुल 14 करोड़ 19 लाख 36 हजार 110 रुपये के नोट निकले हैं. इसके अलावा ऑनलाइन माध्यम से श्री सांवलिया सेठ मंदिर को 4 करोड़ 36 लाख 50 हजार 831 रुपये का चढ़ावा मिला है. साथ ही भेंट कक्ष कार्यालय से 303 ग्राम 830 मिलीग्राम सोना, 82 किलो 16 ग्राम चांदी मिली है. वहीं श्री सांवलिया सेठ मंदिर के दानपात्र से 560 ग्राम सोना और 17 किलो  413 ग्राम चांदी निकली है. भंडार व भेंट कक्ष से कुल 18 करोड़ 55 लाख 86 हजार 941 रुपये चढ़ावे में मिले. जबकि कुल 99 किलो 573 ग्राम चांदी व करीब 830 ग्राम सोने का चढ़ावा मिला है. 

विदेशी मुद्राओं में अमेरिकी डॉलर ज्यादा

भैरु लाल गुर्जर ने बताया कि चढ़ावे में 2016 में बंद हुए 500 के 4 नोट व 1000 का एक नोट के अलावा गत साल बंद हुए 2000 के 6 नोट भी निकले हैं. दानपात्र से विदेशी मुद्राएं भी निकली हैं जिसमें सबसे अधिक अमेरिकी एक डॉलर मूल्य के 820 नोट मिले हैं. इसके अलावा यूएई, कुवैत, थाईलैंड, ओमान, म्यांमार, बंगलादेश, इंग्लैंड, मलेशिया, कनाडा, सिंगापुर, कजाकिस्तान व इंडोनेशिया की विदेशी मुद्राएं भी भंडार से मिली हैं. बताते चलें कि पिछले साल फूलडोल महोत्सव के मौके पर खोले गए भंडार से करीब 10 करोड़ राशि का चढ़ावा निकला था. लेकिन इस बार दानपात्र से निकले चढ़ावे ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं.

ये भी पढ़ें:- 'कांग्रेस को नहीं मिल रहे प्रत्याशी, अब गठबंधन ही आखिरी विकल्प', मालवीया ने खोली पोल

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Holi in Rajasthan: होली पर वागड़ की अनूठी परंपरा, जहां पत्थरों से खेली जाती है Holi
Rajasthan: राजस्थान में सांवलिया सेठ मंदिर के भंडारे से निकला रिकॉर्ड तोड़ चढ़ावा, 1 क्विंटल चांदी और सोना भी मिला
Rajasthan Diwas 2024: Jaisalmer artist Shiv Kumar tells the story of Rajputana becoming Rajasthan in his painting
Next Article
Rajasthan Diwas: राजपूताना से राजस्थान बनने की कहानी, जैसलमेर के आर्टिस्ट ने अपनी पेंटिंग में बताई
Close
;