विज्ञापन
Story ProgressBack

फेसबुक पर विज्ञापन देख किडनी बेचने बांग्लादेश से आया युवक, जयपुर में हुआ ऑपरेशन, गुरुग्राम पुलिस ने पकड़ा

किडनी को जयपुर फोर्टिस अस्पताल में निकाला गया था. प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि व्यक्ति की डील एक एजेंट के जरिए चार लाख टका (बांग्लादेशी करेंसी) में हुई थी. जयपुर में ऑपरेशन के बाद कोई दिक्कत होने की बात कहकर उसे गुरुग्राम के एक होटल में शिफ्ट कर दिया गया था. इसी होटल में उसे उपचार दिया जा रहा था.

Read Time: 3 mins
फेसबुक पर विज्ञापन देख किडनी बेचने बांग्लादेश से आया युवक, जयपुर में हुआ ऑपरेशन, गुरुग्राम पुलिस ने पकड़ा
जयपुर फोर्टिस अस्पताल (फाइल फोटो)

Kidney Racket In Jaipur: गुरुग्राम में किडनी रैकेट का भंडाफोड़ किया गया है. हरियाणा सीएम फ्लाइंग की टीम और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने संयुक्त रेड कर एक होटल में जयपुर में चल रहे किडनी रैकेट का भंडाफोड़ किया है. टीम ने मौके से एक बांग्लादेशी युवक को पकड़ा है जो किडनी बेचने के लिए यहां पहुंचा था.

दरअसल सीएम फ्लाइंग और स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गुरुग्राम के सेक्टर-39 के बाबिल पाला होटल में रेड की. यहां से पुलिस ने एक व्यक्ति को पकड़. जिसकी किडनी को जयपुर फोर्टिस अस्पताल में निकाला गया था. प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि व्यक्ति की डील एक एजेंट के जरिए चार लाख टका (बांग्लादेशी करेंसी) में हुई थी. जयपुर में ऑपरेशन के बाद कोई दिक्कत होने की बात कहकर उसे गुरुग्राम के एक होटल में शिफ्ट कर दिया गया था. इसी होटल में उसे उपचार दिया जा रहा था.

गुरुग्राम के होटल में रह रहा था युवक 

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि सीएम फ्लाइंग को सूचना मिली थी कि गुरुग्राम में एक किडनी प्रत्यारोपण रैकेट एक होटल के जरिए चल रहा है. इस पर स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर एक टीम गठित कर गुरुग्राम के सेक्टर-39 के बाबिल पाला होटल में रेड की गई. यहां शमीम नाम का एक व्यक्ति मिला. जो बंगलदेश का रहने वाला है. जिसकी किडनी निकाली जा चुकी थी.

एजेंट ने फर्जी पासपोर्ट बनवाया, 4 लाख टका में सौदा  

शमीम ने बताया कि वह बांगलादेश का रहने वाला है और वहां मोबाइल शॉप चलाता है. फेसबुक पर किडनी प्रत्यारोपण का विज्ञापन देखकर उसने एजेंट से संपर्क किया, जिसने बांगलादेशी करेंसी के मुताबिक उसे चार लाख टका दिए जाने का सौदा तय किया. यह राशि लेकर उसने किडनी देने के लिए डील फाइनल कर दी. एजेंट ने ही उसके फिंगरप्रिंट लेकर उसका फर्जी पासपोर्ट बनवाया और करीब दो महीने पहले भारत भेज दिया. यहां उसका फोर्टिस अस्पताल जयपुर में ऑपरेशन किया गया और कुछ दिन पहले ही उसे गुरुग्राम में शिफ्ट किया गया है.

एजेंटों की तलाश कर रहे पुलिस 

मामले में फिलहाल सदर थाना पुलिस केस दर्ज कर रही है. पुलिस का कहना है कि मामला बेहद संवेदनशील है. ऐसे में तथ्यों के आधार पर ही आगामी कार्रवाई की जाएगी. फिलहाल शमीम से पूछताछ कर पता लगाया जा रहा है कि आखिर वह किस एजेंट के जरिए गुरुग्राम आया था. बहरहाल गुरुग्राम पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है. पुलिस का कहना है कि मामले में जैसे-जैसे तब से सामने आएंगे वैसे-वैसे आगामी कार्रवाई की जाएगी.

 यह भी पढ़ें- RBI की नई मौद्रिक नीति का ऐलान, EMI में कोई बदलाव नहीं, रेपो रेट भी 7वीं बार बरकरार

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राजस्थान में 11 लोकसभा सीटों पर क्यों हारी बीजेपी? मंथन में बड़ी वजह आई सामने
फेसबुक पर विज्ञापन देख किडनी बेचने बांग्लादेश से आया युवक, जयपुर में हुआ ऑपरेशन, गुरुग्राम पुलिस ने पकड़ा
Bhupendra Yadav again got the Ministry of Environment, Forest and Climate Change, again got a big responsibility
Next Article
भूपेंद्र यादव को फिर मिला पर्यावरण-वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, मिली फिर बड़ी जिम्मेदारी
Close
;