विज्ञापन
Story ProgressBack

Dummy Candidate In RPSC Exam: RPSC ने की संस्कृत अध्यायक परीक्षा में बैठे डमी कैंडिडेट की पहचान, इस ग़लती से पकड़ा गया आरोपी

अभ्यर्थी रामलाल मीणा द्वारा अटेंडेंस शीट में लगाई गई फोटो का मिलान नहीं हुआ. फोटो मिलान नहीं होने से पता चला कि अभ्यर्थी रामलाल मीणा ने अपनी जगह पर किसी अन्य डमी अभ्यर्थी को बैठकर परीक्षा दिलवाई थी.

Dummy Candidate In RPSC Exam: RPSC ने की संस्कृत अध्यायक परीक्षा में बैठे डमी कैंडिडेट की पहचान, इस ग़लती से पकड़ा गया आरोपी
आरोपी रामलाल मीणा

Dummy Candidate Caught In Senior Teacher Sanskrit Exam: वरिष्ठ अध्यापक संस्कृत शिक्षा विभाग प्रतियोगी परीक्षा में मूल अभ्यर्थी के स्थान पर डमी अभ्यर्थी द्वारा परीक्षा देने का मामला सामने आया है. आरपीएससी द्वारा पात्रता जांच के दौरान खुलासा हुआ कि उनियारा टोंक निवासी रामलाल मीणा ने अपने स्थान पर डमी कैंडिडेट बैठकर परीक्षा दी थी.

RPSC ने रामलाल मीणा के खिलाफ दर्ज की FIR

 इस मामले में आरपीएससी आयोग ने टोंक उनियारा निवासी रामलाल मीणा के खिलाफ सिविल लाइन थाने में मुकदमा दर्ज कर नियम अनुसार कार्रवाई करने की मांग की है. आयोग की ओर से नमन शर्मा द्वारा दी गई FIR में बताया गया कि वरिष्ठ अध्यापक संस्कृत शिक्षा विभाग की प्रतियोगी परीक्षा की विज्ञप्ति 18 मई 2022 को जारी की गई थी. इस प्रतियोगी परीक्षा के लिए 25 मई 2022 से 21 जून 2022 तक ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे.

इस प्रतियोगी परीक्षा की तिथि बढ़कर 23 जून निर्धारित की गई थी. 12 फरवरी 2023 को सुबह 10:00 से 12:00 तक परीक्षा का आयोजन किया गया था. इस परीक्षा में टोंक उनियारा निवासी रामलाल मीणा जिसका रोल नम्बर 31 32 32 328 था. मीणा ने गवर्नमेंट दरबार सीनियर सेकेंडरी स्कूल सुभाष बाजार में अपनी जगह डमी कैंडिडेट बैठकर परीक्षा दिलवाई थी.

पात्रता जांच में हुआ खुलासा

परिणाम जारी होने के बाद विचारित सूची 9 जनवरी 2024 और अतिरिक्त विचारित सूची 25 अप्रैल 2024 को जारी की गई. विचारीत सूची में सम्मिलित अभ्यर्थियों को पात्रता जांच के लिए आयोग कार्यालय 5 फरवरी 2024 से 9 फरवरी 2024 तक बुलाया गया. अतिरिक्त विचारित सूची मे सफल अभ्यर्थियों की पात्रता जांच 13 मई 2024 से 17 मई 2024 तक आयोजित की गई.

इस दौरान अभ्यर्थियों के फोटो हस्ताक्षर और अभ्यर्थियों द्वारा दिए गए मूल दस्तावेजों की जांच की गई इस प्रक्रिया के दौरान अभ्यर्थी रामलाल मीणा पात्रता जांच के लिए 15 मई 2024 को अजमेर के आरपीएससी कार्यालय में उपस्थित हुआ . इस दौरान अभ्यर्थी रामलाल मीणा द्वारा अटेंडेंस शीट में लगाई गई फोटो का मिलान नहीं हुआ. फोटो मिलान नहीं होने से स्पष्ट होता है कि अभ्यर्थी रामलाल मीणा ने अपने स्थान पर किसी अन्य डमी अभ्यर्थी को बैठकर परीक्षा दिलवाई थी.

यह भी पढ़ें- राजस्थान में आचार संहिता के दौरान रिकॉर्ड 1100 करोड़ की जब्ती, नशीली दवा से लेकर शराब तक जानें क्या-क्या मिला?

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
'राजनेताओं के इशारे पर आनंदपाल सिंह की हुई हत्या', भाई मंजीत पाल ने कोर्ट के फैसले पर दी प्रतिक्रिया
Dummy Candidate In RPSC Exam: RPSC ने की संस्कृत अध्यायक परीक्षा में बैठे डमी कैंडिडेट की पहचान, इस ग़लती से पकड़ा गया आरोपी
War of words between Minister of State Manju Baghmar and Congress MLA Amit Chachan on bypass construction in Rajasthan Assembly
Next Article
राजस्थान विधानसभा में बाईपास निर्माण पर राज्यमंत्री और कांग्रेस विधायक के बीच जुबानी जंग
Close
;