विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में पकड़ा गया बड़े साइबर ठगों का गैंग, ईमित्र संचालक की दुकान से होता था खेल

धौलपुर में पुलिस ने 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जो साइबर ठगी का काम कर रहे थे. यह आरोपी ठगी के लिए कई तरीके अपना रहे थे.

Read Time: 3 mins
राजस्थान में पकड़ा गया बड़े साइबर ठगों का गैंग, ईमित्र संचालक की दुकान से होता था खेल

Rajasthan News: राजस्थान के धौलपुर जिले में साइबर ठगों की एक बड़ी गैंग का पर्दाफाश किया गया है. बताया जाता है कि धौलपुर के मनिया कस्बे में ईमित्र संचालक की दुकान से साइबर ठगी का पूरा खेल चल रहा था. वहीं पुलिस ने ऑपरेशन एंटी वायरस के तहत छापेमारी कर 12 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. इन आरोपियों के पास से काफी सारे मोबाइल, आधार कार्ड, सिम कार्ड और अन्य सामग्री बरामद की गई है. जो साइबर ठगी के लिए इस्तेमाल किये जा रहे थे. जबकि इन आरोपियों द्वारा हैनीट्रैप के जरिए भी ठगी कर रहे थे.

सीओ सिटी तपेंद्र मीणा ने बताया आईजी भरतपुर रेंज राहुल प्रकाश एवं पुलिस अधीक्षक धौलपुर सुमित मेहरडा के निर्देश में साइबर ठगी पर रोकथाम के लिए ऑपरेशन एंटी वायरस चलाया जा रहा है. उन्होंने बताया सोमवार को मनिया थाना प्रभारी देवेश कुमार को जरिए मुखबिर गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि मनिया कस्बे में एक ईमित्र संचालक की दुकान पर कुछ लोग साइबर ठगी को अंजाम देने की फिराक में है. मुखबिर की सूचना पर स्पेशल पुलिस एवं साइबर टीम का गठन कर मौके पर कार्रवाई करने के लिए भेजा गया. पुलिस टीम ने ईमित्र संचालक की दुकान पर छापा मारकर भारी तादाद में ठगी की सामग्री को बरामद किया है. मौके से पुलिस ने 18 मोबाइल, लैपटॉप, आधार कार्ड 42, सिम कार्ड,चेकबुक 12, पासपोर्ट समेत अन्य सामग्री को बरामद किया है.

12 साइबर ठग गिरफ्तार

ई-मित्र की दुकान से पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया था. सीओ तपेंद्र मीणा ने बताया हिरासत में दिए गए आरोपियों के निशान देई पर पुलिस ने 6 आरोपी धौलपुर,दो आरोपी आगरा, दो आरोपी कानपुर एवं एक आरोपी को कानपुर से गिरफ्तार किया है.

कौन-कौन किये गए गिरफ्तार

कल्याण सिंह पुत्र छीतरिया निवासी मनिया, भूपेंद्र सिंह पुत्र भंवर सिंह निवासी पिपरिपुरा, राहुल मिश्रा पुत्र सुभाष चंद्र मिश्रा निवासी फिरोजाबाद, चंद्रपाल पुत्र नेमीचंद निवासी मनिया, रविकांत पुत्र ईशान निवासी इटावा, सौरभ वर्मा पुत्र रमाकांत वर्मा निवासी आगरा, शिव प्रताप पुत्र महावीर सिंह निवासी मुरैना, धर्मेंद्र सिंह पुत्र गंगा सिंह निवासी ग्वालियर, गगन कुमार पुत्र विनोद कुमार निवासी आगरा, नितिन कुमार पुत्र राम किशोर निवासी फिरोजाबाद, चैतन्य कुमार पुत्र नेमीचंद निवासी मनिया एवं लोकेंद्र कुमार पुत्र मुकेश कुमार निवासी मनिया को गिरफ्तार किया है.

हनीट्रैप के जरिए भी किया जा रहा था ठगी

सीओ तपेंद्र मीणा ने बताया साइबर ठगी की बड़ी गैंग का पुलिस ने पर्दाफाश किया है. 12 आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस द्वारा अलग-अलग एंगल से पूछताछ की जा रही है. प्रारंभिक जांच में ज्ञात हुआ है कि आरोपी धन दोगुना करने का लालच देकर लोगों को ठगी का शिकार करते थे. इसके अलावा अपहरण की धमकी देकर डरा धमका कर भी लोगों से धन हड़पते थे. जबकि आरोपी फेसबुक, इंस्टाग्राम ट्विटर आदि सोशल मीडिया के बैनरों पर लड़कियों की फेक आईडी बनाकर युवकों को फंसाते है. वीडियो कॉलिंग के माध्यम से अश्लील फिल्म एडिट कर स्क्रीनशॉट एवं वीडियो रिकॉर्डिंग कर ब्लैकमेलिंग कर ठगी का धंधा किया जा रहा था. उन्होंने बताया गैंग में अभी और सदस्य शामिल हो सकते हैं. आरोपियों को गिरफ्तार कर पुलिस बारीकी से जांच पड़ताल कर रही है.

यह भी पढ़ेंः लेडी सब इंस्पेक्टर टीनू सोगरवाल को मारी थी गोली, कोर्ट ने 7 साल बाद सुनाई दो आरोपियों को 10-10 साल की सजा

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Sonakshi-Zaheer Wedding: जानें सोनाक्षी सिन्हा और जहीर इकबाल के शादी की ये खास बातें
राजस्थान में पकड़ा गया बड़े साइबर ठगों का गैंग, ईमित्र संचालक की दुकान से होता था खेल
Rajasthan Budget 2024: Deputy CM Diya Kumari gave big hints before presenting the budget, the budget will be special before the by-elections.
Next Article
Rajasthan Budget 2024: डिप्टी सीएम दीया कुमारी ने बजट पेश करने से पहले दिये बड़े संकेत, उपचुनाव से पहले बजट होगा खास
Close
;