विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: जिस काम में फेल हो गए थे गहलोत, उसे पूरा करने निकले भजनलाल; तेलंगाना में दिया बड़ा बयान

Rajasthan CM Telangana Visit: तेलंगाना के सिकंदराबाद लोकसभा क्षेत्र में आयोजित प्रवासी राजस्थानी सम्मेलन को संबोधित करते हुए सीएम भजनलाल शर्मा ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में राजस्थान की सरकार ने 3 माह में जो कार्य किया है, उतना कार्य किसी सरकार ने नहीं किया.'

Rajasthan Politics: जिस काम में फेल हो गए थे गहलोत, उसे पूरा करने निकले भजनलाल; तेलंगाना में दिया बड़ा बयान
राजस्थान के सीएम भजन लाल शर्मा.

Rajasthan News: राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा (Bhajan Lal Sharma) इन दिनों देश के उन राज्यों में चुनाव प्रचार (Election Campaign) कर रहे हैं, जहां बड़ी संख्या में प्रवासी राजस्थानी रहते हैं. इस कड़ी में सीएम पश्चिम बंगाल, झारखंड, दिल्ली जैसे राज्यों में दौरे के बाद अब तेलंगाना में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. सीएम अपने भाषण में मोदी की रीति नीति और उनके विकसित भारत के सपने के साथ राजस्थान सरकार के कामकाज पर भी बड़ा फोकस करते हैं. सीएम की कोशिश रहती है कि राजस्थानियों को उनकी मिट्टी से फिर से जोड़ा जाए. यही वजह है कि उन्होंने सभी प्रवासी राजस्थानियों को फिर से राजस्थान आकर उद्योग प्रारंभ करने का आह्वान किया है. 

'सिंगल विंडो सिस्टम की सुविधा मिलेगी'

तेलंगाना के सिकंदराबाद में मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोई भी प्रवासी राजस्थानी वापस अपने राज्य उद्योग प्रारंभ करना चाहे तो उसे किसी तरह की परेशानी नहीं होगी. सीएम ने यहां तक कहा कि आपको सिंगल विंडो सिस्टम (Single Window System) की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी, ताकि लालफीताशाही से बचा जा सके. एक्स पर सीएम ने पोस्ट करते हुए लिखा, 'राजस्थानी प्रवासी भाई-बंधुओं ने दिन रात मेहनत करके दूसरे राज्यों में जो स्थान बनाया है उसको देखकर मन प्रफुल्लित होता है. आप राजस्थान आकर कोई भी उद्योग प्रारंभ करें. आपको वहां किसी कार्य को प्रारंभ करने में किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पडे़गा. आपको "सिंगल विंडो सिस्टम" की सुविधा प्राप्त होगी.'

गहलोत सरकार को नहीं मिली थी कामयाबी

गौरतलब है कि पिछली गहलोत सरकार में भी इस संबंध में कई कोशिशें की गईं, लेकिन वो साकार नहीं हो पाई. गहलोत सरकार ने जयपुर में प्रवासी समिट भी करवाई, लेकिन अधिकांश MoU सिरे नहीं चढ़ पाए. ऐसे में मुख्यमंत्री भजनलाल एक बार फिर से कोशिश कर रहे हैं, ताकि राजस्थान के उन बड़े उद्योगपतियों, जो देश के अन्य राज्यों में काम करते हैं, उन्हें वापस राजस्थान से जोड़ा जा सके. जिससे ना केवल उनका जुड़ाव अपनी धरती से हो, बल्कि राजस्थान की आर्थिक व्यवस्था को बेहतर करने की दिशा में भी ये कदम कारगर साबित हो.

ये भी पढ़ें:- PM मोदी ने अहमदाबाद में डाला वोट, बोले- 'लोकतंत्र में मतदान सामान्य दान नहीं'

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
विश्व धरोहर समिति में डिप्टी सीएम दिया कुमारी ने की शिरकत, कहा- टेक्नोलॉजी से मिल रहा विरासत प्रबंधन को नया आयाम
Rajasthan Politics: जिस काम में फेल हो गए थे गहलोत, उसे पूरा करने निकले भजनलाल; तेलंगाना में दिया बड़ा बयान
Last Day of discussion on Budget in Rajasthan Assembly, Diya Kumari will answer after the LoP address
Next Article
Rajasthan Politics: बजट पर चर्चा का आज आखिरी दिन, विधानसभा में दिया कुमारी सरकार की ओर से देंगी जवाब
Close
;