विज्ञापन
Story ProgressBack

मदन दिलावर की गाड़ी उड़ाने वाले बयान पर अब अशोक चांदना ने दी सफाई, DGP को लिखा लेटर

कोटा में प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री अशोक चांदना का शिक्षा मंत्री मदन दिलावर के बारे में दिया गया एक बयान काफी वायरल हुआ था.

मदन दिलावर की गाड़ी उड़ाने वाले बयान पर अब अशोक चांदना ने दी सफाई, DGP को लिखा लेटर
अशोक चांदना.

Rajasthan News: राजस्थान की हिंडोली विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक व पूर्व मंत्री अशोक चांदना (Ashok Chandna) का एक वीडियो इस वक्त सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इसमें वे 'आदिवासियों के डीएनए' वाले मुद्दे पर राजस्थान के स्कूल शिक्षा मंत्री मदन दिलावर (Madan Dilawar) की 'गाड़ी उड़ाने' वाला बयान देते हुए नजर आ रहे हैं. कोटा में उग्र प्रदर्शन के वक्त दिया गया यह बयान अब कांग्रेस नेता के लिए परेशानी बन गया है, और उन्होंने डीजीपी को लेटर लिखकर अपनी सफाई दी है.

'गाड़ी उड़ाने में टाइम नहीं लगेगा', कांग्रेस विधायक ने राजस्थान के शिक्षा मंत्री को चेताया, जानें पूरा मामला

अशोक चांदना ने दी सफाई

पूर्व खेल मंत्री ने सफाई देते हुए लेटर में लिखा, ''मैंने शिक्षा मंत्री की गाड़ी 'उड़ाने' नहीं बल्कि 'गुड़ाने' की बात कही थी. राजस्थानी भाषा में गुड़ाने का मतलब- 'चलता करना' होता है. लेकिन मेरे इस बयान को सोशल मीडिया पर तोड़मरोड़ का पेश किया जा रहा है, जो गलत है. मैंने इस प्रकार का कोई बयान जारी नहीं किया है.'

शोक चांदना इससे पहले भी कांग्रेस राज में सचिन पायलट पर बयानबाजी के चलते चर्चाओं में रहे थे. उस वक्त उन पर अधिकारियों को धमकी देने के मामले भी सामने आए थे. कांग्रेस प्रदर्शन के दौरान दिया यह बयान भी उन्होंने खुद अपने आधिकारिक एक्स अकाउंट से शेयर किया था, जिसे बाद में राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आधिकारिक एक्स अकाउंट से रिट्वीट किया गया.

Latest and Breaking News on NDTV

वीडियो में दे रहे ये बयान

उक्त वीडियो में अशोक चांदना शिक्षा मंत्री को चेताते हुए कह रहे हैं कि, 'मंत्री जी! क्या करेंगे डीएनए चेक करके? किसी दिन आदिवासियों को बीच रास्ते में मिल गए तो आपका ही डीएनए चेक कर लेंगे. संभल जाओ. इनकी सुनो. वरना किसानों ने मोदी भी हरा दिया था. पलटने में समय नहीं लगा और आपकी तो गाड़ी उड़ाने में भी टाइम नहीं लगेगा.'

अशोक चांदना के सोशल मीडिया अकाउंट से शेयर किए गए इस वीडियो को चौबीस घंटे के अंदर 34 हजार से ज्यादा लोग देख चुके हैं. इनमें से 2 हजार 700 लोगों ने इस वीडियो को लाइक किया है, जबकि 358 लोग अभी तक इस वीडियो को रिट्वीट कर चुके हैं.

चांदना पर दर्ज हुई FIR

राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (NEET) के आयोजन में कथित गड़बड़ी को लेकर कोटा शहर में सोमवार को उग्र प्रदर्शन करने वाले कांग्रेस नेताओं के खिलाफ दो एफआईआर भी दर्ज की गई हैं. पहली एफआईआर में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली, विधायक अशोक चांदना, चेतन पटेल व सीएल प्रेमी का नाम शामिल है. 

दूसरी एफआईआर में कांग्रेस नेता प्रहलाद गुंजल, नईमुद्दीन गुड्डू, मोईजुद्दीन गुड्डू, जिलाध्यक्ष भानुप्रताप सिंह सहित अन्य के नाम शामिल हैं.

मामले में कोटा सिटी एसपी डॉक्टर अमृता दुहन का कहना है कि पूरे घटनाक्रम की वीडियोग्राफी कराई थी. इस उग्र प्रदर्शन के दौरान पुलिस से टकराव की स्थिति बन गई थी. इसलिए पुलिस अधिकारी व पुलिस कर्मियों की शिकायत पर कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मुकदमे दर्ज किए हैं.

ये भी पढ़ें:-  लगातार दूसरी बार लोकसभा अध्यक्ष चुने गए ओम बिरला, पीएम मोदी-राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राजस्थान के इन दो जिलों में 15 दिन बाद क्यों होती है सावन माह की शुरुआत? जानिए इसके पीछे की वजह
मदन दिलावर की गाड़ी उड़ाने वाले बयान पर अब अशोक चांदना ने दी सफाई, DGP को लिखा लेटर
Bundi Nainwa post office Employee fraud crores rupees from more than 20 account holders and invested all money in share market
Next Article
Rajasthan: पोस्ट ऑफिस कर्मचारी ने 20 से अधिक खाताधारकों के हड़पे करोड़ों रुपये, सारा पैसा शेयर मार्केट में किया इन्वेस्ट
Close
;