विज्ञापन
Story ProgressBack

राहुल कस्वां के खिलाफ देवेंद्र झाझड़िया ने खोला मोर्चा, सीधा हमला करते हुए कहा- SDM ने भी नहीं किया होगा...

दवेंद्र झाझड़िया अब तक सधे हुए अंदाज में जनता के बीच जा रहे थे. लेकिन अब उन्होंने राहुल कस्वां के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

Read Time: 3 min
राहुल कस्वां के खिलाफ देवेंद्र झाझड़िया ने खोला मोर्चा, सीधा हमला करते हुए कहा- SDM ने भी नहीं किया होगा...
दवेंद्र झाझड़िया

Lok Sabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर उम्मीदवार अपनी-अपनी जीत के लिए मैदान में उतर गए हैं. इस बार राजस्थान के कई सीटों पर जबरदस्त टक्कर दिखने वाली है. इन दिलचस्प सीटों में चूरू लोकसभा सीट का नाम भी शामिल है. क्योंकि सालों से बीजेपी के लिए लड़ने वाला कस्वां परिवार इस बार उनके खिलाफ मैदान में हैं. राहुल कस्वां ने बीजेपी से लगातार दो बार जीत हासिल की थी. लेकिन बीजेपी ने उनका टिकट काट कर दवेंद्र झाझड़िया को चूरू से उम्मीदवार घोषित कर दिया है. जिसके बाद राहुल कस्वां कांग्रेस में शामिल हो गए और उन्हें चूरू से टिकट दे दिया गया. ऐसे में खेल के अनुभवी के सामने अब राजनीति के अनुभवी राहुल कस्वां की सबसे बड़ी चुनौती है. वहीं देवेंद्र झाझड़िया ने भी इस चुनौती को संभल लिया है और एक राजनीतिज्ञ की तरह चुनावी मैदान में बयानों का वार करना शुरू कर दिया है.

चूरू लोकसभा सीट पर 19 अप्रैल को यानी पहले फेज में मतदान होना है. ऐसे में देवेंद्र झाझड़िया को पूरी ताकत झोंकनी होगी. चूरू इस बार राजस्थान की हाट सीट में से एक बन गई है जिस पर सभी की निगाहें टिकी हैं.

दवेंद्र झाझड़िया का राहुल कस्वां पर हमला

दवेंद्र झाझड़िया अब तक सधे हुए अंदाज में जनता के बीच जा रहे थे. लेकिन अब उन्होंने राहुल कस्वां के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने चुप्पी तोड़ते हुए राहुल कस्वां पर चुनावी बाण चलाना शुरू कर दिया है. उन्होंने एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए राहुल कस्वां पर सबसे बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि

मैंने तो इस देश के लिए 20 साल सेवा कर 60 से 70 इंटरनेशनल मेडल जीते है. सब कुछ त्याग कर एक कमरे में रह कर तैयारी की है. आज मुझे आदेश मिला तो अफसर की नौकरी छोड़कर आ गया. क्योंकि मैं युवाओं के लिए कुछ करना चाहता हूं. राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री से सम्मान, खेल की प्रतिष्ठित पुरस्कार अर्जुन अवार्ड, खेल रत्न, पद्म पुरस्कार जैसे सम्मान पाए हैं. लेकिन उनको तो (राहुल कस्वां) SDM ने भी सम्मानित नहीं किया. वह तो जाति की बात करेंगे और उनके पास हैं क्या?

बता दें दवेंद्र झाझड़िया ने इससे पहले कभी चुनाव नहीं लड़ा है. उनकी यह पहली राजनीतिक पारी है. बता दें दवेंद्र झाझड़िया ने राहुल कस्वां पर सीधा पर्सनल अटैक पहली बार किया है. वहीं राहुल कस्वां ने देवेंद्र झाझड़िया पर किसी तरह का सीधा अटैक नहीं किया है.

राहुल कस्वां लगातार बीजेपी को सामंतवादी सोच बता रहे हैं

राहुल कस्वां लगातार बीजेपी नेताओं की कार्यशैली पर सवाल उठा रहे हैं. वहीं बीजेपी को सामंतवादी सोच बता कर अटैक कर रहे हैं. उनका कहना है कि बीजेपी एक आदमी की पार्टी बन गई है. जिसमें एक आदमी ही फैसला लेता है और वहां दूसरों की कदर नहीं की जाती है. उन्होंने कहा था कि टिकट काटने का गुस्सा नहीं लेकिन इतना तो होना चाहिए कि एक सीटिंग सांसद से बात करनी चाहिए.राहुल कस्ंवा अपनी बात अब जनता के पास लेकर जा रहे हैं. वहीं राहुल कस्वां को लोगों का सपोर्ट भी जबरदस्त मिल रहा है.

बहरहाल दवेंद्र झाझड़िया के सामने राहुल कस्वां की सबसे बड़ी चुनौती है. और राजनीति में झाझड़िया के पास कोई अनुभव नहीं है. उनके पास केवल पीएम मोदी के चेहरे का भरोसा है. देखना ये है कि जनता क्या फैसला करती है.

यह भी पढ़ेंः Jalore-Sirohi Lok Sabha: वैभव गहलोत के लिए कितनी मुश्किल है जीत की डगर? इस फैक्टर ने बढ़ाई जीत की उम्मीद

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close