विज्ञापन
Story ProgressBack

अवैध खनन के खिलाफ सरकार के एक्शन मोड के बावजूद नागौर में दिखा माफियाओं का आतंक

नागौर में जहां अवैध खनन माफिया जहां बजरी का अवैध खनन कर रहे हैं. वहीं, यहां माफिया पुलिस-प्रशासन से भी टकराने से नहीं चूक रहे हैं. खनन माफिया यहां पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं.

Read Time: 3 min
अवैध खनन के खिलाफ सरकार के एक्शन मोड के बावजूद नागौर में दिखा माफियाओं का आतंक
नागौर में खनन माफिया का आतंक

Rajasthan News: राजस्थान में भजनलाल सरकार ने आते ही खनन माफियाओं के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था. कई जगहों पर तो खनन माफियाओं पर नकेल कसी गई है. जबकि पुलिस द्वारा माफियाओं के खिलाफ अभियान चला रही है. लेकिन नागौर जिले में खनन माफियाओं का आतंक कम होते नहीं दिख रहा है. मुख्यमंत्री के निर्देश पर अवैध खनन माफियाओ के विरुद्ध सघन अभियान चलाकर कार्रवाई की जा रही है. लेकिन इसके बावजूद नागौर में अवैध बजरी माफियाओं का आंतक देखने को मिल रहा है.

नागौर में जहां अवैध खनन माफिया जहां बजरी का अवैध खनन कर रहे हैं. वहीं, यहां माफिया पुलिस-प्रशासन से भी टकराने से नहीं चूक रहे हैं. खनन माफिया यहां पुलिस को खुली चुनौती दे रहे हैं. इसका एक उदाहरण 16 जनवरी को नागौर की सड़कों पर दिखा.

सड़क पर पुलिस के सामने मचाया आतंक

नागौर जिले के मेड़तासिटी में उस समय सामने आया, जब उपखंड अधिकारी ने बजरी का अवैध खनन कर ले जाते दो ट्रैक्टर ट्रॉलियों का पीछा किया. तभी ट्रैक्टर ट्रॉलियों के ड्राइवरों ने भरे बाजार और छोटी गलियों में ही बजरी से भरे ट्रैक्टरों को दौड़ा दिया. यही नहीं ड्राइवरों ने दौड़ते हुए ट्रैक्टरों से ही बजरी और बालू सड़क पर बिखेर दिये.  हालांकि गनीमत रही की इस घटना के दौरान सड़क पर किसी भी तरह का कोई हादसा या जनहानि नहीं हुई. वरना बड़ा हादसा घटित हो सकता था. इस मामले का एक वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है.

एसडीएम अर्चना चौधरी की अगुवाई में अभियान

आपको बता दें कि नागौर जिले के मेड़ता सिटी में लूनी नदी में लंबे समय से अवैध खनन किया जा रहा है. इस पर कार्रवाई करने के लिए एसडीएम अर्चना चौधरी की अगुवाई में अभियान चलाया गया. इस दौरान मेड़ता सिटी की छोटी गलियों से अवैध बजरी से भरी दो ट्रैक्टर ट्राली का मेड़ता एसडीएम अर्चना चौधरी ने 20 मिनट तक पीछा किया. ट्रॉलियों को रोकने के लिए एसडीएम ने सायरन बजाकर चेतावनी भी दी, इसके बावजूद ट्रैक्टरों के ड्राइवर ने अपने ट्रॉलियां नहीं रोकी और सड़क पर दौड़ाते रहे. इस दौरान माफियाओं ने बजरी से भरी ट्रॉलियों को हाइड्रोलिक पावर से ऊपर करके चलती ट्राली से ही पूरी सड़क पर बजरी को बिखेर दिया. शहर की तंग गलियों में जब बजरी से भरी इन ट्रैक्टर ट्रॉली को स्पीड से दौड़ते हुए लोगों ने देखा तो सभई हैरान रह गए. हालांकि बाद में एसडीएम की गाड़ी ने ओवरटेक कर दोनों ट्रैक्टर ट्रॉलियों को रुकवा दिया, लेकिन एक ट्रैक्टर का चालक एसडीएम को चकमा देकर मौके से फरार हो गया. वहीं दूसरी ट्रैक्टर ट्राली का चालक भी चकमा देकर फरार हो गया. सूचना पर मेड़ता पुलिस मौके पर पहुंची और ट्रैक्टर ट्राली को जब्त कर कार्रवाई शुरू की. जबकि दूसरे ट्रैक्टर ट्रॉली की तलाश शुरू कर दी गई है.

यह भी पढ़ेंः Rajasthan IPS Transfer: राजस्थान में 65 IPS अधिकारियों का तबादला, जानें किन-किन जिलों के बदल गए SP

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close