विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan: अजमेर में गैंगरेप पीड़िता को 12वीं बोर्ड के एग्जाम देने से रोका, कहा- 'स्कूल का माहौल खराब हो जाएगा'

स्कूल प्रशासन ने गैंगरेप पीड़िता से कहा कि आपके साथ अनहोनी हुई है. अगर आप स्कूल आओगी तो यहां का माहौल खराब होगा, इसीलिए घर से पढ़ाई कर लीजिए. छात्रा मान गई. जब पेपर नजदीक आने पर एडमिट कार्ड लेने स्कूल गई तो उससे कहा कि स्कूल प्रशासने ने आपका नाम काट दिया है.

Read Time: 3 mins
Rajasthan: अजमेर में गैंगरेप पीड़िता को 12वीं बोर्ड के एग्जाम देने से रोका, कहा- 'स्कूल का माहौल खराब हो जाएगा'
प्रतीकात्मक तस्वीर.

Rajasthan News: राजस्थान के अजमेर जिले में एक गैंगरेप पीड़िता का बिना बताए स्कूल से नाम काट देने और 12वीं बोर्ड की परीक्षा से वंचित रखने का सामने आया है, जिसकी चर्चा इस वक्त पूरे प्रदेश में हो रही है. 1098 पर जब छात्रा ने इसकी शिकायत दर्ज कराई तो बाल कल्याण समिति ने इस मामले में हस्तक्षेप किया और फिर मामला जिला कलेक्टर तक पहुंच गया.

'स्कूल का माहौल खराब होगा'

बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष अंजली शर्मा ने बताया कि गैंगरेप पीड़िता 12वीं कक्षा की छात्रा है जो गेगल स्थित एक निजी स्कूल में पढ़ती है. स्कूल प्रशासन ने छात्रा से कहा था कि आपके साथ अनहोनी वरदात हुई है, जिससे स्कूल का माहौल खराब हुआ है. आप घर पर रहकर 12वीं कक्षा की पढ़ाई करें और बोर्ड एग्जाम की तैयारी करें. छात्रा ने स्कूल प्रशासन की इस बात को मान लिया और घर पर रहकर 12वीं बोर्ड परीक्षा की तैयारी करने लगी. जब 12वीं कक्षा के एग्जाम करीब आए तो वह परमिशन कार्ड लेने स्कूल पहुंची जहां से उसे स्कूल प्रशासन ने यह कहकर लौटा दिया कि उसका नाम काट दिया गया है. पीड़िता छात्रा को कुछ समझ नहीं आया और वह अपने घर वापस लौट आई.

सरकारी टीचर ने की मदद

लेकिन स्कूल प्रशासन का कहना है कि छात्रा 4 महीने तक स्कूल नहीं आई, इसलिए उसे बोर्ड के एग्जाम में नहीं बैठने दिया. मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित छात्रा ने आप बीती किसी सरकारी स्कूल की शिक्षिका को बताई. शिक्षिका ने तुरंत छात्रा को 1098 चाइल्ड हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करने को कहा. छात्रा ने ऐसा ही किया. इसके बाद बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष अंजली शर्मा ने पीड़ित छात्रा को अपने कार्यालय बुलाया और पूरी घटना की जानकारी ली. पूरा मामला समझने के बाद अंजली शर्मा ने इस गंभीरता से लिया और जांच शुरू कर दी. बता दें कि निजी स्कूल में पढ़ने वाली 12वीं कक्षा की छात्रा के साथ 18 अक्टूबर 2023 को उसके दूर के चाचा सहित दो अन्य लोगों ने गैंगरेप किया था. इस मामले में गेगल थाना पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था. हालांकि न्यायालय ने एक आरोपी को जमानत दे दी और दो आरोपी अभी भी न्यायिक अभिरक्षा में हैं.

मान्यता रद्द करने की मांग

अंजली शर्मा ने बताया कि जब बच्ची से उनकी बात हुई तब पीड़ित छात्रा ने उन्हें बताया कि वह पढ़ाई में काफी होशियार है और उन्होंने 10th बोर्ड के एग्जाम में 79% अंक हासिल किए थे. अगर वह 12th के एग्जाम भी देती तो शायद वह टॉप कर सकती थी. मगर स्कूल प्रशासन की लापरवाही के चलते उसका 1 साल बर्बाद हो गया. इस मामले में अब हमने स्कूल प्रशासन की शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी और जिला कलेक्टर डॉ भारती दीक्षित से की है. इसके साथ ही हमने स्कूल की मान्यता रद्द करने की मांग की है. साथ ही जिला विधिक प्राधिकरण से विधिक सहायता के साथ पीड़ित प्रतिकर निधि स्कीम के तहत पीड़ित छात्रा को आर्थिक सहायता भी दिलाने का प्रयास किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें:- RBI की नई मौद्रिक नीति का ऐलान, EMI में कोई बदलाव नहीं, रेपो रेट भी 7वीं बार बरकरार

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
ऑपरेशन मोना: 20 सालों से फरार कुख्यात को फिल्मी अंदाज में घेरा, बेटे की इस आदत की वजह से पकड़ा गया
Rajasthan: अजमेर में गैंगरेप पीड़िता को 12वीं बोर्ड के एग्जाम देने से रोका, कहा- 'स्कूल का माहौल खराब हो जाएगा'
Hanuman Beniwal resigned from the post of MLA, said - only RLP will contest elections from Khinvsar
Next Article
हनुमान बेनीवाल ने विधायक पद से दिया इस्तीफा, बोले- खींवसर से RLP अकेले ही लड़ेगी उपचुनाव
Close
;