विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: राजस्थान में फिर भर्ती परीक्षा पर उठे सवाल, छात्रों ने CM को भेजी शिकायत, कांग्रेस बोली- 'अपने चहेतों को नौकरी...'

टीकाराम जूली ने एक्स पर लिखा था कि भर्ती परीक्षा विश्वविद्यालय परिसर या सरकारी कॉलेज परिसर में न होकर भाजपा नेताओं के निजी महाविद्यालय में करवाई जा रही है. इसलिए पूरी परीक्षा प्रक्रिया ही संदेह के घेरे में है. अपने चाहतों को लगाने का खेल शुरू हो चुका है और यह सारी कारगुजारी वीसी की देखरेख में हो रही है. सरकार चुप और जिम्मेदार मौन हैं.

Rajasthan Politics: राजस्थान में फिर भर्ती परीक्षा पर उठे सवाल, छात्रों ने CM को भेजी शिकायत, कांग्रेस बोली- 'अपने चहेतों को नौकरी...'

Rajasthan News: राजस्थान की गहलोत सरकार में REET सहित अन्य भर्ती परीक्षा के पेपर लीक (Paper Leak) की घटनाओं के बाद अब प्रदेश की नई भाजपा सरकार में भी भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी के मामले सामने आने लगे हैं. मामला सीकर की पंडित दीनदयाल उपाध्याय शेखावाटी विश्वविद्यालय (PDDUSU) से जुड़ा है, जहां असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती परीक्षा (Assistant Professor Recruitment Exam 2024) के पेपर को समय से पहले ही खोलने का आरोप लगाया जा रहा है. वहीं परीक्षार्थियों को दूसरे विषय के पेपर भी बांट दिए गए हैं.

Latest and Breaking News on NDTV

'अपने चाहतों को लगाने का खेल शुरू'

परीक्षा में दूसरे विषय के पेपर बांटने के बाद उन्हें वापस लेने और सही पेपर देने में करीब आधे घंटे की देरी हुई. इस बात को लेकर परीक्षा देने पहुंचे एक परीक्षार्थी ने मुख्यमंत्री, कुलपति व कलेक्टर को मामले में ज्ञापन सौंप दिया. वहीं विश्वविद्यालय की परीक्षा प्रक्रिया पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasra) व कांग्रेस सीकर जिलाध्यक्ष सुनीता गठाला ने भी भ्रष्टाचार व चहेतों को नियुक्ति देने का खेल बताते हुए मुख्यमंत्री से परीक्षार्थियों के लिए न्याय की मांग कर दी. ज्ञात रहे की शेखावाटी विश्वविद्यालय की भर्ती परीक्षा से पहले विधानसभा नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली (Tikaram Jully) ने भी परीक्षा के केंद्रों को लेकर सवाल उठाए थे. उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि भर्ती परीक्षा विश्वविद्यालय परिसर या सरकारी कॉलेज परिसर में न होकर भाजपा नेताओं के निजी महाविद्यालय में करवाई जा रही है. इसलिए पूरी परीक्षा प्रक्रिया ही संदेह के घेरे में है. अपने चाहतों को लगाने का खेल शुरू हो चुका है और यह सारी कारगुजारी वीसी की देखरेख में हो रही है. सरकार चुप और जिम्मेदार मौन हैं.

'पेपर का बंडल पहले की खुला हुआ था'

शेखावाटी विश्वविद्यालय की भर्ती परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए परीक्षार्थी सज्जन सिंह ने बताया कि वह कॉमर्स विभाग के असिस्टेंट प्रोफेसर पद की परीक्षा देने आया था. उसके कमरे में पहले तो परीक्षा के तहत समय 9 बजे तक पेपर ही नहीं बांटे गए. इसके बाद कॉमर्स की जगह अन्य विषय का पेपर खोलकर परीक्षार्थियों को बांट दिया. जब अन्य विषय का पेपर बांटने का पता लगा तो उसे तुरंत ही वापस परीक्षार्थियों से लिया गया, जिसमें करीब आधे घंटे की देरी हुई. वही भूगोल विषय की परीक्षा देने आए परीक्षार्थी कमल चौधरी व मुकेश सहित अन्य परीक्षार्थियों ने लिखा कि उनके पेपर का बंडल ही पहले से खुला हुआ था. पेपर में कई प्रश्न छपे हुए नहीं थे तो कइयों के क्रमांक दोहरे पाए गए, जिसके चलते परीक्षार्थी समय पर व सही उत्तर नहीं लिख सके. इस तरह परीक्षार्थियों ने परीक्षा में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए वापस से नई सिरे से परीक्षा कराने की मांग भी उठाई है.

ये भी पढ़ें:- 'गहलोत ने जो पायलट के साथ अब वही...', BJP नेता के बयान से राजस्थान में गरमाई सियासत

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan Politics: पार्टी के खिलाफ काम करने वाले यूथ कांग्रेस के युवा नेताओं की हो रही फाइल तैयार, संगठन करेगा कार्रवाई 
Rajasthan Politics: राजस्थान में फिर भर्ती परीक्षा पर उठे सवाल, छात्रों ने CM को भेजी शिकायत, कांग्रेस बोली- 'अपने चहेतों को नौकरी...'
Delhi Public School bus falls into pit in Sirohi, injured children admitted to hospital
Next Article
Rajasthan News: सिरोही में दिल्ली पब्लिक स्कूल की बस खड्डे में गिरी, चालक घायल, बाल-बाल बचे बच्चे
Close
;