विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan: जल जीवन मिशन घोटाले मामले में ED की बड़ी कार्रवाई, PHED ठेकेदार को किया गिरफ्तार

जल जीवन मिशन के 900 करोड़ रुपए के घोटाले के मामले में एसीबी, ईडी और सीबीआई भी इस मामले की जांच कर रही हैं. इस मामले में ED ने 2023 सितंबर में जयपुर और अलवर में नौ जगह छापे मारे थे. जिसमें महेश मित्तल प्रॉपर्टी कारोबारी संजय बढ़ाया, कल्याण सिंह कविया, विशाल सक्सैना, माया लाल सैनी, पद्म चंद जैन, तहसीलदार सुरेश शर्मा और अमिताभ कौशिक के यहां सर्च अभियान चलाया था

Rajasthan: जल जीवन मिशन घोटाले मामले में ED की बड़ी कार्रवाई, PHED ठेकेदार को किया गिरफ्तार
पुलिस की गिरफ्त में पीएचईडी के ठेकेदार पदम चंद जैन

Jal Jeevan Mission Scam: जल जीवन मिशन घोटाला मामले में ईडी ने पीएचईडी के ठेकेदार पदम चंद जैन को गिरफ्तार किया है. कोर्ट ने पदम चंद को कोर्ट में पेश किया है और यहां से पदम चंद जैन को 5 दिनों की रिमांड पर भेज दिया गया. वहीं इसी मामले में पूर्व से जेल में बंद ठेकेदार पदम चंद जैन के बेटे पियूष जैन की जमानत याचिका भी कोर्ट ने खारिज कर दी. सैकड़ों करोड़ के घोटाले मामले की जांच ईडी, एसीबी और सीबीआई भी कर रही है. इस मामले में जांच की आंच पूर्व मंत्री महेश जोशी तक भी पहुंची थी. ईडी ने समन जारी कर महेश जोशी को पेश होने के लिए भी कहा था. 

फर्जी प्रमाण पत्र बना कर टेंडर किए हासिल

 ईडी की टीम देर रात पदम चंद जैन के आवास पर पहुंची थी. पूछताछ के बाद पदम चंद जैन को गिरफ्तार किया गया. पदम चंद जैन पर आरोप है कि उसने फर्जी प्रमाण पत्र बना कर टेंडर हासिल किए थे. पिछले साल इस मामले में एसीबी ने एफआईआर दर्ज की थी. श्याम ट्यूबवेल, गणपति ट्यूबवेल  के खिलाफ एसीबी ने एफआईआर दर्ज की थी. ईडी ने 17 जनवरी को जयपुर और बांसवाड़ा में 8 स्थानों पर सर्च अभियान चलाया था. तब पदम जैन की 11.42 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त की थी. इसके बाद 29 फरवरी को पीयूष जैन को गिरफ्तार किया था. उसके बाद से ही वह जेल में बंद है. 

तीन एजेंसियां कर रही हैं इस मामले की जांच

जल जीवन मिशन के 900 करोड़ रुपए के घोटाले के मामले में एसीबी, ईडी और सीबीआई भी इस मामले की जांच कर रही हैं. इस मामले में ED ने 2023 सितंबर में जयपुर और अलवर में नौ जगह छापे मारे थे. जिसमें महेश मित्तल प्रॉपर्टी कारोबारी संजय बढ़ाया, कल्याण सिंह कविया, विशाल सक्सैना, माया लाल सैनी, पद्म चंद जैन, तहसीलदार सुरेश शर्मा और अमिताभ कौशिक के यहां सर्च अभियान चलाया था. अभियान में 2,50, लाख नगद एक किलो सोने की ईंट और करोड़ों की प्रॉपर्टी के काग़ज़ात और कुछ अधिकारियों के रिश्तेदारों के नाम से लेन देन के काग़ज़ात मिले थे.

एसीबी ने एक्सईएन को किया था गिरफ्तार 

इससे पहले एसीबी ने एक्सईएन माया लाल सैनी और जयंत प्रदीप कुमार को पद्म चंद जैन से 2 लाख 20 हज़ार की रिश्वत लेते हुए ट्रैप किया था. जाँच में आया था कि जल जीवन मिशन में ज़्यादा काम लेने व घटिया मटेरियल लगाकर अधिक कमाई के लिए श्री गणपति ट्यूबेल कंपनी और श्री श्याम ट्रेवल कंपनी ने इस्कॉन के फ़र्ज़ी अनुभव प्रमाण पत्र लगाकर 900 करोड़ रुपये काम हासिल किए थे.

यह भी पढ़ें- NEET परीक्षा का विरोध कर रहे NSUI कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, देखें वीडियो

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
टीचर ने स्कूल न आने का पूछा कारण, तो छात्र ने तान दी पिस्तौल; मारने की धमकी देकर फरार
Rajasthan: जल जीवन मिशन घोटाले मामले में ED की बड़ी कार्रवाई, PHED ठेकेदार को किया गिरफ्तार
Protest started regarding new education policy, parents are not aware of this new rule
Next Article
नई शिक्षा नीति को लेकर शुरू हुआ विरोध, पैरेंट्स को नहीं है इस नए नियम की जानकारी
Close
;