विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Sep 02, 2023

कोई धन है क्या तेरी धूल से बढ़ के... भारत-पाक बॉर्डर से लाई मिट्टी से लोगों के माथे पर किया तिलक

श्रीगंगानगर में ट्रेडर्स एसोसिएशन ने आयोजित किया कार्यक्रम. आयोजित कार्यक्रम में बीएसएफ के जवानों की चरणरज लाकर लोगों के माथे पर तिलक किया गया जिससे देशभक्ति की भावना से भर उठे लोग.

कोई धन है क्या तेरी धूल से बढ़ के... भारत-पाक बॉर्डर से लाई मिट्टी से लोगों के माथे पर किया तिलक

ओ, देश मेरे, तेरी शान पे सदकेकोई धन है क्या तेरी धूल से बढ़ के?

2021 में आई भुजः द प्राइड ऑफ इंडिया फिल्म का यह गाना हमारे रोम-रोम में देशप्रेम भर देता है. इस गाने की लाइन कोई धन है क्या तेरी धूल से बढ़े के... को सही भाव में सच कर दिखाया है, श्रीगंगानगर के स्कूली बच्चों ने. दरअसल राखी के मौके पर श्रीगंगानगर से स्काउट गाइड के कुछ बच्चे भारत-पाकिस्तान सीमा पर गए थे. बच्चों ने वहां तैनात बीएसएफ के जवानों को न केवल अपने द्वारा बांधी गई राखी बांधी. बल्कि सीमा पर से पावन मिट्टी भी लेकर आए. आज श्रीगंगानगर में एक कार्यक्रम आयोजित कर लोगों को इस पावन मिट्टी का तिलक लगाया गया. जिससे मौजूद लोगों में देशभक्ति की भावना जागृत हुयी.

श्रीगंगानगर के ट्रेडर्स एसोसिएशन में आयोजित इस कार्यक्रम में बीएसएफ के कमांडर आरएस खान विशेष रूप से मौजूद रहे. उन्होंने मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि इस तरह के कार्यक्रमों से बच्चे देश की शान को जानते हैं और सरहद पर काम करने वाले जवानों के बलिदानों को पहचानते हैं. इसके साथ-साथ सरहद पर तैनात जवानों को अपने परिवार की कमी भी महसूस नहीं होती है.

स्कूली बच्चों ने साझा किए अनुभव

इस कार्यक्रम में श्रीगंगानगर के कई स्कूली बच्चे और स्काउट गाइड के सदस्य भी मौजूद थे. बच्चों ने कहा कि वे पहली बार भारत-पाक सीमा पर गए थे और यह उनके लिए अलग रोमांच पैदा करने वाला अनुभव था. गौरतलब है कि बच्चों ने अपने हाथ से रक्षा सूत्र बनाए थे, उन्होंने जवानों को रक्षाबंधन का रक्षा सूत्र बांधा और उनसे देश की रक्षा करने का आशीर्वाद लिया. बच्चों ने कहा कि हमे जवानों के बलिदान को हमेशा याद रखना चाहिए. इस दौरान रक्षा सूत्र बनाने वाले बच्चों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित भी किया गया. इस दौरान जवानों की चरणरज भी लाई गई थी जिसका आज शहर के लोगों को तिलक किया गया. इसी दौरान सभी ने देशभक्ति के गीत भी गाए.

bb364q6g

कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने जवानों के प्रति अपनी श्रद्धा और सम्मान व्यक्त किया. उन्होंने कहा कि जवान देश की रक्षा के लिए दिन-रात तैनात रहते हैं और वे हमारी सुरक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने को तैयार रहते हैं. इस कार्यक्रम से सरहद पर तैनात जवानों के प्रति लोगों में सम्मान और उनके जज्बे को सलाम करने की भावना जागृत हुई, जिसे श्रीगंगानगर के लोगों ने काफी सराहा.

कार्यक्रम को मिली सराहना 

इस कार्यक्रम को लेकर स्थानीय लोगों में भी काफी उत्साह था. लोग सुबह से ही कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने लगे थे. कार्यक्रम के दौरान लोगों ने जवानों के साथ सेल्फी भी ली. कार्यक्रम के बाद बीएसएफ के जवानों ने लोगों को देश की सुरक्षा के लिए जागरूक किया. उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा सबकी जिम्मेदारी है. इस कार्यक्रम को लेकर सोशल मीडिया पर भी लोगों ने अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं. लोगों ने कहा कि यह कार्यक्रम बहुत ही सराहनीय है और जवानों के प्रति सम्मान और देशभक्ति की भावना को बढ़ावा देता है.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
7 करोड़ की लूट का आरोपी राजस्थान से गिरफ्तार, भारत से लेकर नेपाल तक फैला है पूरा गैंग
कोई धन है क्या तेरी धूल से बढ़ के... भारत-पाक बॉर्डर से लाई मिट्टी से लोगों के माथे पर किया तिलक
JDA in big preparation against encroachment in Jaipur, bulldozer will run on these 11 places of the city in 15 days
Next Article
जयपुर में अतिक्रमण के खिलाफ बड़ी तैयारी में सरकार, 15 दिन में शहर की इन 11 जगहों पर चलेगा बुलडोजर
Close
;