विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में वोटों की गिनती से पहले सुरक्षा के कड़े इंतजाम, नहीं निकलेगा विजयी जुलूस

lok sabha election 2024: मतगणना को लेकर राजस्थान में सुरक्षा की त्रिस्तरीय व्यवस्था होगी. विजयी जुलूस पर रहेगी रोक, 75000 पुलिसकर्मी तैनात होंगे.

Read Time: 3 mins
राजस्थान में वोटों की गिनती से पहले सुरक्षा के कड़े इंतजाम, नहीं निकलेगा विजयी जुलूस
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Vote Counting Guidelines: लोकसभा चुनाव के मतगणना के दौरान लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने के लिए पुलिस-प्रशासन ने व्यापक तैयारी की है. प्रदेश के सभी लोकसभा चुनाव क्षेत्र में करीब 75 हजार पुलिस कर्मियों की तैनाती की गई है. साथ ही मतगणना स्थल की सुरक्षा व्यवस्था त्रिस्तरीय घेरे में रहेगी.
      
अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस कानून एवं व्यवस्था विशाल बंसल ने बताया कि मंगलवार को राजस्थान में सभी 25 लोकसभा चुनाव क्षेत्र में काउंटिंग का काम किया जाएगा. इसके लिए सभी जिलों चाहे वहां काउंटिंग होनी हो या नहीं, पर्याप्त पुलिस बल उपलब्ध कराया है. जिस जिले में काउंटिंग हो रही है उसे जिले में आरएसी और अन्य पुलिस बल को अतिरिक्त रूप में लगाया है.

सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स की तैनाती

एडीजी विशाल बंसल ने बताया कि मतगणना स्थल की सुरक्षा व्यवस्था तीन लेयर की प्लान की गई है. काउंटिंग सेंटर में स्ट्रांग रूम से काउंटिंग रूम में ईवीएम को ले जाने का सारा काम सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स (सीएपीएफ) के नेतृत्व में किया जाएगा. आउटर एरिया में आरएसी के पास और उसके बाहर पुलिसकर्मी व्यवस्था संभालेंगे.
     
उन्होंने बताया कि भारी संख्या में सादा वस्त्रों में पुलिस कर्मियों को नियोजित किया गया है, जो पूरे क्षेत्र में और काउंटिंग एरिया के आसपास निगरानी रखेंगे. सोशल मीडिया के लिए भी हमने सख्त निर्देश जारी किए हैं. सभी जिलों में सोशल मीडिया पर सख्त निगरानी रखी जा रही है. ताकि किसी भी प्रकार का अवांछित टिप्पणी एवं कमेंट आदि पर तुरंत ऐसे सामाजिक व्यक्तियों के खिलाफ एक्शन लिया जा सके.

कैंडिडेट की सुरक्षा का पूरा ध्यान

एडीजी ने बताया कि परिणाम जारी होने के बाद किसी प्रकार का विजय जुलूस नहीं निकाला जा सकेगा. काउंटिंग हो जाने और उसका रिजल्ट डिक्लेयर हो जाने के बाद कैंडिडेट को पूर्ण सुरक्षा के साथ उनके ऑफिस या घर पर ले जाया जाएगा और साथ में अन्य किसी को भी सुरक्षा की जरूरत है तो इसका भी पूरा ध्यान रखा जाएगा. 
      
एडीजी विशाल बंसल ने बताया कि जिले के सेंसिटिव एरिया, जहां पर काफी लोगों के इकट्ठा होने या आपस में टकराव होने की संभावना है वहां पर स्पेसिफिक प्वाइंट पर स्ट्राइक फोर्स रखी जाएगी. मतगणना एवं उसके बाद किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना ना हो, इसके लिए पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं.

ये भी पढ़ें- राजस्थान में जीत को लेकर BJP उत्साहित, जयपुर पार्टी ऑफिस में 1100 किलो लड्डू तैयार

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
1 जुलाई से लागू होने जा रहा है तीन नए कानून, सुधांश पंत ने विभागों को दिये यह निर्देश
राजस्थान में वोटों की गिनती से पहले सुरक्षा के कड़े इंतजाम, नहीं निकलेगा विजयी जुलूस
how much rich is banswara mp rajkumar roat who won on bharat adivasi party ticket
Next Article
Rajasthan Politics: बांसवाड़ा के लोकसभा सांसद राजकुमार रोत कितने अमीर हैं
Close
;