विज्ञापन
Story ProgressBack

चुनावी बॉन्ड से लेकर देश की वर्तमान राजनीति तक NDTV से खास इंटरव्यू में खुलकर बोले नितिन गडकरी

नितिन गडकरी ने NDTV के साथ दिए इंटरव्‍यू में चुनावी बॉन्ड से लेकर देश की राजनीति समेत विभिन्‍न मुद्दों पर खुलकर अपनी बात रखी.

Read Time: 3 min
चुनावी बॉन्ड से लेकर देश की वर्तमान राजनीति तक NDTV से खास इंटरव्यू में खुलकर बोले नितिन गडकरी
NDTV के साथ नितिन गडकरी के खास इंटरव्‍यू की तस्वीरें

Nitin Gadkari NDTV Interview: केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने NDTV के एडिटर-इन-चीफ संजय पुगलिया के साथ एक खास इंटरव्‍यू में विभिन्‍न मुद्दों पर खुलकर अपनी बात रखी. उन्होंने चुनावी बॉन्‍ड (Electoral Bond), दूसरी पार्टियों में तोड़फोड़, महाराष्ट्र की राजनीति से लेकर कई अन्य मुद्दों पर मुखरता से जवाब दिया. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में ट्रिपल इंजन की सरकार है और अपने काम की बदौलत लोकसभा चुनाव के दौरान हम बेहतर प्रदर्शन करेंगे. एकनाथ शिंदे और अजित पवार की ताकत अब हमारे साथ है. साथ ही गडकरी ने कहा कि चुनावी बॉन्‍ड न हो तो इलेक्‍शन में कालाधन (Black Money) आएगा, इस पर चर्चा होनी चाहिए कि चुनावी बॉन्‍ड से बेहतर क्‍या है. उन्‍होंने कहा कि यदि आप बॉन्‍ड को स्‍वीकृति नहीं देंगे तो लोग नंबर दो में पैसे लेंगे.

चुनावी बॉन्ड पर बोले नितिन गडकरी

गडकरी ने कहा, "चुनाव में पैसा लगता है, सभी पार्टियों का लगता है और आप यदि इकोनॉमी को अच्‍छा करेंगे, नंबर एक पर ले जाएंगे तो बॉन्‍ड के रूप में नंबर एक में पॉलिटिकल पार्टी को फाइनेंस होता है, इसी भावना के साथ योजना बनी थी. तब अरुण जेटली जी वित्त मंत्री थे. इसमें गलत क्‍या था." हालांकि उन्‍होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर मैं कोई टिप्‍पणी नहीं करूंगा. 

महाराष्ट्र में ट्रिपल इंजन की सरकार: गडकरी

केंद्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि 'महाराष्ट्र में ट्रिपल इंजन की सरकार है और अपने काम की बदौलत लोकसभा चुनाव के दौरान हम बेहतर प्रदर्शन करेंगे. एकनाथ शिंदे और अजित पवार की ताकत अब हमारे साथ है. जाहिर है पिछली बार से ज्यादा सीटें इस बार मिलेंगी.' दूसरी पार्टियों में तोड़फोड़ पर नितिन गडकरी ने कहा कि आप जिसे तोड़ना कहते हैं, उसे हम जोड़ना कहते हैं.

व्यापक करना चाहते हैं भाजपा का स्वरूप: गडकरी

नितिन गडकरी ने कहा कि हम भाजपा का स्वरूप व्यापक करना चाहते हैं. इसे मास पार्टी बना रहे हैं और इसका फायदा हो रहा है. शरद पवार और उद्धव ठाकरे की पार्टी को हमने नहीं तोड़ा. उनकी पार्टी की अपनी समस्या थी. यह अलग बात है कि कोई पार्टी टूटती है तो हर पार्टी इसका लाभ उठाती है. भाजपा महाराष्ट्र में काफी मजबूत हुई है. 

'सभी पार्टियों से है अच्छे संबंध'

नितिन गडकरी ने कहा, 'सभी पार्टियों के साथ मेरे संबंध अच्‍छे हैं और वो मुझे बाहर का नहीं समझते हैं. मैं इस मत का हूं कि राजनीति में मतभिन्‍नता हो सकती है, मनभेद नहीं होने चाहिए और सही काम सबका होना चाहिए. मोदीजी ने भी हमें यही कहा है कि सबका साथ, सबका प्रयास, सबका विश्‍वास और सबका विकास. यही बात है कि आने वाले व्‍यक्ति के साथ जात, पंथ, धर्म, भाषा और पार्टी के आधार पर भेदभाव न करते हुए जो सही काम है वो सबका करना और गलत काम अपने आदमी का भी नहीं करना, इसी सिद्धांत पर हम काम करते हैं.'

ये भी पढ़ें- झूठ के बाजार में रौनक तो बहुत है... लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के बीच ऐसा क्यों बोले सीईसी राजीव कुमार

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close