विज्ञापन
Story ProgressBack

अशोक गहलोत ने RCA पर खेल परिषद की कार्रवाई को बताया राजनीतिक द्वेष, राजेंद्र सिंह राठौड़ बोले 'यह पुत्र मोह है'

RCA पर खेल परिषद की कार्रवाई के बाद सियासी सरगरमी बढ़ रही है. जहां अशोक गहलोत ने इस पर प्रतिक्रिया दी है. वहीं राजेंद्र सिंह राठौड़ भी अब इस मामले में रूचि लेने लगे हैं.

Read Time: 4 min
अशोक गहलोत ने RCA पर खेल परिषद की कार्रवाई को बताया राजनीतिक द्वेष, राजेंद्र सिंह राठौड़ बोले 'यह पुत्र मोह है'
RCA पर राजेंद्र सिंह राठौड़ और अशोक गहलोत

Rajasthan News: राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन (RCA) के साथ MOU पूरा होने के बाद खेल परिषद ने कार्रवाई की और RCA को SMM स्टेडियम से बेदखल कर दिया. इस विवाद पर पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रतिक्रिया दी और कहा कि यह राजनीतिक द्वेष है. उन्होंने कहा एकाएक तालाबंदी करने के बजाए उचित कानूनी कार्रवाई की जा सकती थी. लेकिन ऐसा नहीं किया गया. वहीं, उनकी इस टिप्पणी पर बीजेपी नेता राजेंद्र सिंह राठौड़ ने कहा कि यह उनका पुत्र मोह है. हालांकि आपको बता दें, RCA के नए अध्यक्ष राजेंद्र सिंह राठौड़ के बेटे पराक्रम सिंह हो सकते हैं. इसलिए वह इस मुद्दे पर रूचि लेने लगे हैं.

22 फरवरी को आरसीए और खेल परिषद के बीच का एमओयू समाप्त होने पर 23 फरवरी को खेल परिषद ने एसएमएस स्टेडियम से आरसीए को बेदखल कर दिया. आरसीए के ऑफिस को ताला लगाकर स्टेडियम के हिस्से से आरसीए का कब्जा भी हटा दिया. इसके अलावा RAC द्वारा संचालित होटल से भी बेदखल कर दिया गया. आपको बता दें, RAC के अध्यक्ष वैभव गहलतो हैं. इस पर अशोक गहलोत ने अपने एक्स अकाउंट पर प्रतिक्रिया दी.

अशोक गहलोत ने कहा,

स्पोर्ट्स काउंसिल द्वारा आनन-फानन में राजस्थान क्रिकेट संघ (RCA) पर की गई कार्रवाई राजनीतिक द्वेष से प्रेरित लगती है। यदि MoU समाप्त होना ही वजह थी तब भी यह यकायक तालाबंदी की बजाय ग्रेसफुली (उचित कानूनी तरीके से) कार्रवाई की जा सकती थी. ऐसी कार्रवाई से राजस्थान के खेल संघों पर राष्ट्रीय संस्थाओं का भरोसा कम होगा और जो खेलों का माहौल हमारी सरकार के दौरान बना वो खराब होगा. हजारों क्रिकेट प्रेमियों और खिलाड़ियों में इस कार्रवाई से रोष है.

राजेंद्र सिंह राठौड़ ने साधा निशाना

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री के सोशल मीडिया एक्स की पोस्ट के बाद बीजेपी के नेता राजेंद्र राठौड़ ने पूर्व मुख्यमंत्री पर पुत्र मोह का आरोप लगाया. अपने संक्षिप्त दौरे पर जोधपुर आए राजेंद्र राठौड़ ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत द्वारा टिकट की कालाबाजारी, जीएसटी चोरी सहित अन्य काम किए हैं और आर सीए को बार-बार खेल परिषद द्वारा पत्र लिखकर बकाया राशि की मांग की जाती रही. लेकिन इसके बावजूद भी उन्होंने 38 करोड रुपए जमा नहीं कराये. जिसके कारण आरसीए के ऑफिस को सील किया गया है.

राजेंद्र सिंह राठौड़ के बेटे पराक्रम सिंह हो सकते हैं RCA के अध्यक्ष

दरअसल पिछले दिनों चूरू जिला क्रिकेट संघ के चुनाव में पराक्रम सिंह जिला अध्यक्ष चुने गए हैं. जो की भाजपा नेता राजेंद्र सिंह राठौर के पुत्र भी हैं ऐसे में कयास लगाया जा रहा है कि राजस्थान क्रिकेट संगठन के नए अध्यक्ष के तौर पर पराक्रम सिंह भी हो सकते हैं. तभी से राजेंद्र सिंह राठौड़ भी आरसीए में रुचि लेने लगे हैं.

राजसमुंद से राजेंद्र सिंह राठौड़ की दावेदारी

वहीं, राजेंद्र सिंह राठौड़ द्वारा लोकसभा चुनाव में टिकट को लेकर कहा की भाजपा ने तैयारी पूरी कर ली है पार्टी ने अगर उनको मौका दिया तो वह संगठन से चुनाव अवश्य लड़ेंगे. राजसमंद से चुनाव लड़ने पर कहा कि अगर पार्टी मौका देगी. तो वह राजसमंद से भी चुनाव लड़ने को तैयार हैं. उन्होंने सोशल मीडिया एक्स पर सुभाष गर्ग और गोविंद सिंह डोटासरा के बीच चल रहे युद्ध को लेकर कहा कि कांग्रेस जूते में दाल बांट रही है. ऐसे में कांग्रेस की नीतियों पर कोई विश्वास नहीं करता. कांग्रेस के टुकड़े होने लगे हैं पिछले दिनों कांग्रेस से नाराज होकर महेंद्रजीत सिंह मालवीय भी भाजपा में शामिल हुए हैं. संगठन कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आने वाले लोगों को भी जल्द ही नई जिम्मेदारियां भी देगी.

यह भी पढ़ेंः सचिन पायलट का सीएम भजनलाल पर पलटवार, कहा- अब पानी पर भी राजनीति कर रही बीजेपी सरकार

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close