विज्ञापन
Story ProgressBack

एशिया कप फाइनल में सिराज का स्विंग देख वर्ल्ड कप से पहले टूटी आलोचकों और सभी टीमों की नींद

Asia Cup 2023 Final: एशिया कप 2023 के फाइनल भारत ने श्रीलंका को 10 विकेट से रौंद दिया. इस जीत के हीरो भारतीय तेज गेंदबाज सिराज रहे. जिनकी स्विंग देख वर्ल्ड कप से पहले भारतीय बॉलिंग पर सवाल उठाने वाले लोगों और अन्य टीमों की नींद खुल गई है.

Read Time: 6 min
एशिया कप फाइनल में सिराज का स्विंग देख वर्ल्ड कप से पहले टूटी आलोचकों और सभी टीमों की नींद
एशिया कप फाइनल में श्रीलंका के खिलाफ विकेट लेने के बाद जश्न मनाते सिराज.

Asia Cup 2023 Final: सिराज ने बल्लेबाजी के लिए माकूल दिख रही पिच पर अपनी स्विंग गेंदबाजी का जो प्रदर्शन दिखाया है, उससे विश्व कप से पहले भारतीय तेज गेंदबाजों को लेकर विश्व की अन्य टीमों की तन्द्रा टूटेगी. गेंदबाजों की मदद से भारत ने श्रीलंका को एशिया कप के फाइनल मुकाबले में दस विकेट से हरा दिया है. भारत ने 263 गेंदें शेष रहते हुए ही श्रीलंका को हरा दिया और यह गेंदों के अंतर के हिसाब से भारत की सबसे जल्दी हासिल की हुई जीत है.

एशिया कप के सुपर4 मुकाबले बांग्लादेश से हारकर आई  भारत, श्रीलंका के साथ फाइनल मुकाबले में उम्मीद के मुताबिक अपनी पूरी क्षमता के साथ खेलने उतरी. चोटिल अक्षर पटेल की जगह इस मैच में भारतीय टीम ने वाशिंगटन सुंदर को प्लेइंग इलेवन में जगह दी. 

श्रीलंका के कप्तान दासुन शनाका ने कोलंबो के आर प्रेमादासा मैदान में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया. बुमराह ने उनके इस फैसले को गलत साबित करते हुए पहले ही ओवर में कुसल परेरा को शून्य पर विकेट के पीछे खड़े के एल राहुल के हाथों कैच आउट करवा वापस पेवेलियन भेज दिया. 

श्रीलंकाई बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूट पड़े सिराज.

पहला विकेट जल्दी गंवाने के बाद अब अपनी पारी के चौथे ओवर में ही श्रीलंका की आधी टीम पेवेलियन लौटने वाली थी. मोहम्मद सिराज ने इस ओवर में पाथुम निसांका, सदीरा समराविक्रमा, चरिथ असलंका और धनन्जय डीसिल्वा का विकेट लेकर श्रीलंकाई खेमे में खलबली मचा दी.

श्रीलंकाई बल्लेबाजों के पास सिराज की स्विंग कर रही गेंदों का कोई जवाब नही था. सिराज यहीं नही रुके, छठें ओवर में उन्होंने श्रीलंकाई कप्तान दसुन शनाका को बोल्ड कर दिया और तब श्रीलंका का स्कोर मात्र बारह रन पर छह विकेट था. इसके बाद मेंडिस और वेल्लालागे ने विकेटों के इस पतझड़ को कुछ देर रोकने की कोशिश करी पर फिर बारहवें ओवर में सिराज ने वापसी करते हुए मेंडिस की गिल्लियां बिखेर दी.

हार्दिक ने ताबूत पर आखिरी कील ठोकी

सिराज, बुमराह की बेहतरीन गेंदबाजी के बाद अब बारी हार्दिक की थी. तेरहवें ओवर में उन्होंने आजकल शानदार फॉर्म में चल रहे दुनिथ वेल्लालागे को एक शॉट पिच गेंद फेंकी, जिस पर वह राहुल को कैच थमा बैठे. इसके बाद सोलहवें ओवर में हार्दिक ने श्रीलंकाई पारी को समेटने में देर नही लगाई, उन्होंने पहले शानदार आउट स्विंग पर प्रमोद मदुशन को स्लिप पर खड़े विराट के हाथों कैच आउट करवाया और फिर पथिराना को ईशान किशन के हाथों कैच आउट करवा मात्र पचास रन पर ही श्रीलंकाई पारी का अंत किया.
 

यह एकदिवसीय क्रिकेट में श्रीलंका का दूसरा सबसे न्यूनतम स्कोर था, इससे पहले साल 2012 में वह साउथ अफ्रीका के खिलाफ 43 रन पर ऑल आउट हुए थे.

किशन को देख चौंके श्रीलंकाई
मात्र 51 रन का पीछा करने उतरी टीम इंडिया ने अपनी ओपनिंग जोड़ी में बदलाव करते हुए श्रीलंकाई टीम को चौंका दिया, कप्तान रोहित शर्मा ने अपनी जगह बाएं हाथ के बल्लेबाज ईशान किशन को शुभमन गिल के साथ ओपनिंग के लिए भेजा. पहले ओवर में प्रमोद मदुशन की स्विंग होती गेंद को जिस तरह से ईशान किशन ने सीधे बल्ले के साथ खेला, उससे यह तो तय हो गया था कि भारतीय ओपनर श्रीलंकाई गेंदबाजों को किसी तरह का चमत्कार नही करने देंगे.

पथिराना के अगले ओवर में किशन ने स्लिप के ऊपर से चौका और फिर अगली ही गेंद पर कट शॉट लगाकर चार रन जुटाए, इससे भारत का स्कोर दो ओवर में 17 रन पहुंच गया. अगले ओवर में बारी शुभमन की थी, उन्होंने प्रमोद की गेंदों पर दर्शनीय शॉट लगाते हुए लगातार तीन चौके मारे. 

बस सात ओवर और भारत के पास आठवीं बार एशिया कप
तीन ओवर में 32 रन लुटा चुके अपने गेंदबाजों से किसी चमत्कार की उम्मीद में श्रीलंकाई कप्तान ने श्रीलंका क्रिकेट की नई सनसनी वेल्लालागे को गेंद थमाई. श्रीलंका के साथ पिछले मुकाबले में वेल्लालागे के सामने बिखरने वाले भारतीय बल्लेबाजों ने इस मैच में सम्भल कर उनका सामना किया.

पांचवें ओवर में दिशा से भटके हुए पथिराना के ओवर में पहली गेंद पर ऑफ साइड की तरफ किशन तो आखिरी गेंद पर लेग साइड की तरफ शुभमन ने चौका मारा. वेल्लालागे के अगले ओवर की अंतिम गेंद को कवर साइड में बाउंड्री पार पहुंचा कर शुभमन ने भारतीय स्कोर को श्रीलंका के स्कोर के बराबरी पर पहुंचा दिया और असलंका के द्वारा फेंके गए सातवें ओवर की पहली ही गेंद को विजयी सिंगल के लिए खेलते हुए ईशान किशन ने भारत को आठवीं बार एशिया का चैंपियन बना दिया.

एशिया कप के पांच मुकाबलों में नौ विकेट लेने वाले कुलदीप यादव को प्लेयर ऑफ द सीरीज और इस मुकाबले में छह विकेट लेने वाले सिराज को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया.

यह भी पढ़ें - रिकॉर्ड्स की झड़ी लगाने के बाद सिराज ने कुछ ऐसा कर जीत लिया फैंस का दिल

(हिमांशु जोशी उत्तराखंड से हैं और प्रतिष्ठित उमेश डोभाल स्मृति पत्रकारिता पुरस्कार प्राप्त हैं. वह कई समाचार पत्र, पत्रिकाओं और वेब पोर्टलों के लिए लिखते रहे हैं.)

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • 24X7
Choose Your Destination
Close