विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में कई दवा फर्मों पर लगाया गया प्रतिबंध, 5 दवाओं के नमूने जांच में हुए फेल

राजस्थान मेडिकल सर्विसेज कॉर्पोरेशन ने कई दवा कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिये हैं. दवाओं की गुणवत्ता एवं समय पर आपूर्ति सुनिश्चित करने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है.

राजस्थान में कई दवा फर्मों पर लगाया गया प्रतिबंध, 5 दवाओं के नमूने जांच में हुए फेल

Rajasthan News: राजस्थान मेडिकल सर्विसेज कॉर्पोरेशन ने कई दवा कंपनियों पर प्रतिबंध लगा दिये हैं. जिन कंपनियों पर प्रतिबंध लगाया गया है उनके विभिन्न 5 दवाओं नमूने जांच में फेल हो गए हैं. जबकि 33 दवाओं की आपूर्ति नहीं किये जाने पर भी कई कपनियों को प्रतिबंधित किये हैं. जिन कंपनियों की दवाई जांच में फेल हुए हैं और दवा की आपूर्ति निर्बाध नही की गई, उन कंपनियों के दवाओं के आगामी एक, दो अथवा तीन वर्ष तक टेंडर में भाग नहीं ले सकेंगी. दवाओं की गुणवत्ता एवं समय पर आपूर्ति सुनिश्चित करने की दिशा में यह एक महत्वपूर्ण कदम है.

इन दवाओं के लिए लगा प्रतिबंध

आरएमएससी की प्रबंध निदेशक नेहा गिरि ने बताया कि मेडिकल साई पैरेंट्रलस को  हेपरिन सोडियम इंजेक्शनए मै. मेडीपोल फार्मास्यूटिकल को एनालाप्रिल मेलियट टेबलेट, मेडिकल मेक्का इंडस्ट्रीज को यूरिन बैग के नमूने अमानक पाए जाने पर दवाओं की आपूर्ति हेतु निश्चित अवधि के लिए प्रतिबंधित किया गया है. इसी प्रकार मेडिकल डी.डी. फार्मास्युटिकल्स को एल्प्राजोलम टेबलेट तथा मै. सन लाइफ साइंसेज को सैफूरोक्सिम एक्सेटिल टेबलेट के नमूने अमानक पाए जाने पर दवाओं की आपूर्ति के लिए प्रतिबंधित किया गया है.

उल्लेखनीय है कि निगम की गुणवत्ता नीति के अनुसार प्रत्येक आपूर्तित दवा के प्रत्येक बैच की गुणवत्ता जांच निगम की अनुमोदित लैब में कराई जाती है एवं जाँच में खरा पाए जाने पर ही अस्पतालों में वितरण हेतु सप्लाई की जाती है. ये सभी दवाएं निगम की प्रारम्भिक जांच में अमानक पायी गयी. जिनके आगे जाँच में पुष्टि होने पर सम्बंधित सप्लायर कंपनियों के विरुद्ध उक्त कार्यवाही की गयी है.

22 दवा फर्मों पर प्रतिबंध

गिरि ने बताया कि औषधियों को 22 दवा फर्मों मेसर्स यूनिसुर लाइफकेयर, सेंचुरियन रेमेडीज, डॉ. सर्जिकल, फ्लेक्सीकेयर मेडिकल इंडिया, एफी पैरेंट्रल्स, सनलाइफ साइंस, ओलकेयर लेबोरेटरीज, इंटास फार्मास्यूटिकल्स, थिओन फार्मास्यूटिकल्स, कॉसमास रिसर्च लैब, बीडीआर फार्मास्यूटिकल्स इंटरनेशनल, टेलीफ्लेक्स मेडिकल, एलर्जेन हेल्थकेयर, एडवी केमिकल, एसपी एक्योर लैब्स, अल्वेस हेल्थकेयर, एलायंस बायोटेक, इनोवा कैपटैब, एएनजी लाइफ साइंसेज, स्टैनेक्स ड्रग्स एंड केमिकल्स, जे डंकन हेल्थकेयर, मेडिपोल फार्मास्यूटिकल्स के द्वारा दवाओं की निर्बाध/निरन्तर आपूर्ति नहीं किये जाने पर 33 दवाओं की आपूर्ति हेतु निश्चित अवधि के लिए प्रतिबंधित किया गया है. इनके अतिरिक्त विभिन्न 6 दवाओं के लिये 5 कम्पनियों द्वारा अनुबन्ध पत्र व प्रतिभूति राशि प्रस्तुत नहीं किये जाने पर प्रतिबंधित किया गया है.

प्रबंध निदेशक ने बताया कि मैसर्स प्रीसाइज़ केमीफार्मा प्राइवेट लिमिटेड को लाइनज़ोलिड टैबलेट आईपी 600 मिलीग्राम, मेडिकल.ओलकेयर लैबोरेटरीज को एटोरवास्टेटिन टैबलेट आईपी 40 मिलीग्राम, मेडिकल हेल्दी लाइफ फार्मा प्राइवेट लिमिटेड को आयरन और फोलिक एसिड शुगर कोटेड टैबलेट विद फेरस आयरन 45एमजी फोलिका एसिड आईपी 0.4 एमजी, मेडिकल. एस्टोनिया लैब्स प्राइवेट लिमिटेड को पोविडोन आयोडीन सॉल्यूशन आईपी 10 प्रतिशत तथा मेडिकल मोरपेन लैबोरेट्रीज लिमिटेड को क्लेरिथ्रोमाइसिन 250 एमजी टैब और क्लैरिथ्रोमाइसिन 500एमजी टेबलेट के लिए अनुबन्ध पत्र व प्रतिभूति राशि प्रस्तुत नहीं करने पर तीन वर्ष की अवधि के लिए डिबार/प्रतिबंधित किया गया है.

यह भी पढ़ेंः राजस्थान में अब 22 जनवरी होगा उत्सव दिवस, मदन दिलावर ने लॉन्च किया कैलेंड

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Sawan Somwar 2024: सावन में इस बार अद्भुत संयोग, इस मंत्र के जाप दूर होंगे सारे दुख
राजस्थान में कई दवा फर्मों पर लगाया गया प्रतिबंध, 5 दवाओं के नमूने जांच में हुए फेल
Bhilwara: Businessman kidnapped and ransom demanded of Rs 45 lakh, police rescued him after 8 hours
Next Article
भीलवाड़ा: व्यापारी को किडनैप कर 45 लाख की मांगी फिरौती, रातभर चले सर्च अभियान के बाद छुड़ाया
Close
;