विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान पुलिस का बड़ा एक्शन, ड्रग ट्रैफिकिंग से जुड़े 476 अपराधी गिरफ्तार, 34.97 करोड़ के मादक पदार्थ जब्त

राजस्थान पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) उत्कल रंजन साहू ने बताया कि इस अभियान की अवधि 15 दिन निर्धारित है, जिसे आगे भी बढ़ाया जा सकता है.

Read Time: 3 mins
राजस्थान पुलिस का बड़ा एक्शन, ड्रग ट्रैफिकिंग से जुड़े 476 अपराधी गिरफ्तार, 34.97 करोड़ के मादक पदार्थ जब्त
राजस्थान के डीजीपी उत्कल रंजन साहू (फाइल फोटो)

Rajasthan News: राजस्थान में नशाखोरी पर प्रभावी नियंत्रण के लिए पुलिस मुख्यालय के निर्देशन में गत 15 मई से संचालित विशेष अभियान में सभी जिलों में प्रभावी कार्यवाही करते हुए बड़ी तादाद में मादक पदार्थों की जब्ती करते हुए इनकी तस्करी से जुड़े अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस महानिदेशक (डीजीपी)  उत्कल रंजन साहू ने बताया कि इस विशेष अभियान के तहत अब तक प्रदेशभर में 445 प्रकरणों में 476 व्यक्तियों को गिरफ्तार करते हुए 34.97 करोड़ रुपये के मादक पदार्थों को जब्त किया गया है, जिसमें मादक पदार्थों के उद्गम स्रोत पर भी कार्रवाई की गई है.

कार्रवाई के दौरान क्या-क्या मिला?

उन्होंने बताया कि इस अभियान के तहत प्रदेष में 14.55 लाख किलोग्राम डोडा पोस्त, 1411 किलोग्राम डोडा, 197 किलोग्राम गांजा, 31 किलोग्राम गांजे के पौधे, 36 किलोग्राम अफीम, 9.7 किलोग्राम स्मैक, 3 किलोग्राम अफीम का दूध एवं 2.5 किलोग्राम हेरोइन सहित 7.96 किलोग्राम अन्य साइकोट्राफिक पदार्थों की जब्ती की जा चुकी है. डीजीपी  साहू ने बताया कि नशाखोरी एक बेहद जटिल समस्या है, जिससे प्रदेश के सामाजिक ताने-बाने को क्षति  पहुंचने के साथ ही लोगों के स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है. नशे की लत से लोगों के निजी जीवन में अवसाद पारिवारिक कलह जैसी समस्याएं पैदा होती है. इसी परिप्रेक्ष्य में राजस्थान पुलिस द्वारा प्रदेश में नशाखोरी पर प्रभावी नियंत्रण के लिए यह विशेष अभियान संचालित किया जा रहा है.

डेयरी बूथ पर भी की गई कार्रवाई

साहू ने बताया कि इस अभियान के तहत जयपुर और जोधपुर के पुलिस उपायुक्तों के अलावा जीआरपी अजमेर एवं जोधपुर सहित समस्त जिलों के पुलिस अधीक्षकों को उनके क्षेत्र में संचालित विद्यालय, महाविद्यालय या छात्रावासों के निकट स्थित डेयरी बूथ, पान की दुकान या चाय की थड़ी आदि पर मादक पदार्थों के विक्रय पर भी प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं, जिससे ऐसे स्थानों पर इनकी बिक्री पर रोक लगाई जा सके. इन पुलिस अधिकारियों को अपने क्षेत्राधिकार में बीट कांस्टेबल, बीट प्रभारी एवं थानाधिकारियों की इस अभियान में जिम्मेदारी तय करते हुए धरातल पर ठोस एवं प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं.

सरगनाओं का आपराधिक डोजियर तैयार

डीजीपी ने बताया कि कि इस अभियान के तहत जिलों में मादक पदार्थों की तस्करी परिवहन एवं आपूर्ति के आदतन अपराधियों की गतिविधियों के बारे में सूचना संकलित कर लगातार प्रभावी कार्रवाई की जा रही है. साथ ही आवश्यकतानुसार दुकान, आवास एवं गोदामों की तलाशी भी ली जा रही है. इसके अलावा अभियान में मादक पदार्थों के परिवहन, तस्करी एवं आपूर्ति से जुड़े पूर्व के मामलों में स्थाई वारंट एवं गिरफ्तारी वारंट के वांछित अपराधियों की धरपकड़ भी की जा रही है. वहीं पुलिस अधिकारियों को मादक पदार्थों की तस्करी के सरगनाओं का आपराधिक डोजियर तैयार करने के भी निर्देश दिए गए हैं. इसके तहत  उनके विरुद्ध दर्ज सभी प्रकरण,अपराध से अर्जित संपत्ति, लंबित प्रकरण एवं इन प्रकरणों में पेशी की तारीख जैसी महत्वपूर्ण सूचनाओं को समाहित किया जा रहा है. उक्त संकलित सूचनाओं के आधार पर आगामी दिनों में चिन्हित अपराधियों के विरूद्ध निषेधीकरण एवं संपति जप्ती की कार्यवाही प्रचलित प्रावधानों के अन्तर्गत की जायेगी.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Bundi News: सोशल मीडिया पर सुसाइड नोट डाल रेलवे ट्रैक पर खुदकुशी करने पहुंचा पुलिस कॉन्स्टेबल, फिर...
राजस्थान पुलिस का बड़ा एक्शन, ड्रग ट्रैफिकिंग से जुड़े 476 अपराधी गिरफ्तार, 34.97 करोड़ के मादक पदार्थ जब्त
Rajasthan Medical Council canceled registrations of 8 doctors, suspended two, know why this action taken
Next Article
राजस्थान मेडिकल काउंसिल ने 8 डॉक्टरों के रजिस्ट्रेशन किए कैंसल, दो के सस्पेंड, जानिए क्यों हुई ये कार्रवाई
Close
;