विज्ञापन
Story ProgressBack

'स्याही नहीं है तो दवात हम भेज देंगे, जांच करवा लो', कांग्रेस सरकार के कार्यकाल की जांच पर डोटासरा का भाजपा पर तंज

डोटासरा ने कहा कि किसी की तरफ अंगुली खड़ी करना कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन बड़ी बात यह है कि वह अंगुली बेदाग होनी चाहिए. डोटासरा ने कहा कि भले ही अभी सरकार हमारी सरकार के कामों की जांच करवाई लेकिन उन्हें कम से कम काम तो करने चाहिए. इधर के पत्थर उधर और उधर के पत्थर इधर फेंकने का कोई मतलब नहीं है.

'स्याही नहीं है तो दवात हम भेज देंगे, जांच करवा लो', कांग्रेस सरकार के कार्यकाल की जांच पर डोटासरा का भाजपा पर तंज
पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा (फाइल फोटो)

कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी सुखविंदर सिंह रंधावा, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष टीकाराम जूली का आज चुरू कार्यकर्ता संवाद कार्यक्रम में जाते समय सीकर के फतेहपुर में बुधगिरी मंडी के पास कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने फतेहपुर विधायक भंवरु खा के नेतृत्व में माला और साफा पहनाकर भव्य स्वागत किया. इस दौरान मीडिया से रूबरू होते हुए डोटासरा ने कहा कि इस बार निश्चित ही कांग्रेस पार्टी लोकसभा का चुनाव जीतेगी. हम जगह-जगह जाकर कांग्रेस के कार्यकर्ता और लोगों में उत्साह देख रहे हैं.

उन्होंने कहा कि राजस्थान में 2 महीने में ही भाजपा की सरकार फेल हो चुकी है. ऐसे में सब लोगों की राय यही आ रही है कि कांग्रेस की योजनाएं ही अच्छी थी,काम अच्छे थे. डोटासरा ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा ने जो बातें की थी उनमें से कोई भी बात पूरी नहीं हुई. राजस्थान सरकार की 2 महीने से न तो कोई कार्य योजना बना रही है और ना कोई अफसर लग रहे हैं. यहां तक कि हमारी सरकार के जो काम थे वह भी इन्होंने रोक दिए.

डोटासरा ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि यह सरकार पर्ची से बनी थी. खुल जा सिम-सिम, 'अलीबाबा चालीस चोर' की पिक्चर का सा गेट खुला था और पर्ची निकली थी. हमने तो पहले कभी ऐसे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बनते हुए नहीं देखा.

उन्होंने ने भाजपा नेताओं के द्वारा कांग्रेस सरकार में रहे मंत्रियों पर जांच के बयान का जवाब देते हुए कहा, हमने कौन से उनके हाथ बांध रखे हैं. जांच करनी है तो करो, उनकी कलम में स्याही नहीं तो हम दवात भेज देते हैं. डोटासरा ने कहा कि, भाजपा की राज्य सरकार अब हमारी सरकार के 6 महीने के कामों की समीक्षा कर रही है. उन्हें जो ठीक लगता है वह चालू रखें और जो गलत लगता है उसे बंद करें. जो गड़बड़ निकले उसके खिलाफ कार्रवाई करो लेकिन काम तो करो. केवल बातें ही बातें करने का क्या मतलब.

डोटासरा ने कहा कि किसी की तरफ अंगुली खड़ी करना कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन बड़ी बात यह है कि वह अंगुली बेदाग होनी चाहिए. डोटासरा ने कहा कि भले ही अभी सरकार हमारी सरकार के कामों की जांच करवाई लेकिन उन्हें कम से कम काम तो करने चाहिए. इधर के पत्थर उधर और उधर के पत्थर इधर फेंकने का कोई मतलब नहीं है.

यह भी पढ़ें-  कांग्रेस से बीकानेर लोकसभा सीट पर टिकट के लिए आए 15 आवेदन, गोविंद मेघवाल और बाग़ी रेवंतराम पंवार भी लाइन में

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan Politics: विधायक हरीश चौधरी ने अपने खून से सीएम को लिखी चिट्ठी, सरकार से की बड़ी मांग
'स्याही नहीं है तो दवात हम भेज देंगे, जांच करवा लो', कांग्रेस सरकार के कार्यकाल की जांच पर डोटासरा का भाजपा पर तंज
6 killed and 10 injured in a horrific accident on Ahmedabad-Vadodara highway, mostly passengers from Rajasthan involved.
Next Article
अहमदाबाद-वडोदरा हाईवे पर भीषण हादसे में 6 की मौत और 10 घायल, ज्यादातर राजस्थान के यात्री हैं शामिल
Close
;