विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Sep 04, 2023

‘जल जीवन मिशन’ अनियमितताः ED ने राजस्थान में छापेमारी में बरामद नकदी और सोना जब्त किया

ईडी के मुताबिक 2.32 करोड़ रुपए की बेहिसाब नकदी, 64 लाख रुपए मूल्य की एक किलोग्राम सोने की छड़, डिजिटल साक्ष्य, हार्ड डिस्क, मोबाइल आदि सहित ‘आपत्तिजनक' दस्तावेजों का जब्त होना यह दिखाता है कि ‘पीएचईडी अधिकारियों की मिलीभगत से इन व्यक्तियों ने बड़े पैमाने पर धन की हेराफेरी की.

Read Time: 3 mins
‘जल जीवन मिशन’ अनियमितताः ED ने राजस्थान में छापेमारी में बरामद नकदी और सोना जब्त किया
प्रतीकात्मक तस्वीर
नयी दिल्ली:

केंद्र की ‘जल जीवन मिशन' योजना के क्रियान्वयन में कथित अनियमितताओं से संबंधित धन शोधन के एक मामले में राजस्थान के कई शहरों में की गई छापेमारी में 2.32 करोड़ रुपए की बेहिसाब नकदी और 64 लाख रुपए मूल्य की सोने की छड़ बरामद की गई. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा सोमवार को जारी एक बयान में कहा गया कि छापेमारी एक सितंबर को राज्य की राजधानी जयपुर, अलवर, नीमराणा, बहरोड़ और शाहपुरा में स्थित विभिन्न परिसरों पर की गई थी.

गौरतलब है धन शोधन का मामला राजस्थान भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की प्राथमिकी से सामने आया है, जिसमें श्री श्याम ट्यूबवेल कंपनी के मालिक पदमचंद जैन, श्री गणपति ट्यूबवेल कंपनी के मालिक महेश मित्तल और अन्य लोगों पर अवैध संरक्षण पाने, निविदाएं प्राप्त करने, बिल स्वीकृत कराने और सार्वजनिक स्वास्थ्य एवं इंजीनियरिंग विभाग (पीएचईडी) से प्राप्त विभिन्न निविदाओं के संबंध में उनके द्वारा किए गए कार्य की बाबत अनियमितताओं को छिपाने के लिए लोक सेवकों को ‘रिश्वत देने' के आरोप हैं.

एजेंसी ने आरोप लगाया कि संदिग्ध अपनी निविदाओं/अनुबंधों में इसका उपयोग करने के लिए हरियाणा से चोरी किए गए सामान की खरीद में भी शामिल थे और उन्होंने पीएचईडी अनुबंध प्राप्त करने के लिए इरकॉन से फर्जी कार्य समापन पत्र भी जमा किए थे.

एजेंसी ने आरोप लगाया कि संदिग्ध अपनी निविदाओं/अनुबंधों में इसका उपयोग करने के लिए हरियाणा से चोरी किए गए सामान की खरीद में भी शामिल थे और उन्होंने पीएचईडी अनुबंध प्राप्त करने के लिए इरकॉन से फर्जी कार्य समापन पत्र भी जमा किए थे. ईडी के मुताबिक 2.32 करोड़ रुपए की बेहिसाब नकदी, 64 लाख रुपए मूल्य की एक किलोग्राम सोने की छड़, डिजिटल साक्ष्य, हार्ड डिस्क, मोबाइल आदि सहित ‘आपत्तिजनक' दस्तावेजों का जब्त होना यह दिखाता है कि ‘पीएचईडी अधिकारियों की मिलीभगत से इन व्यक्तियों ने बड़े पैमाने पर धन की हेराफेरी की.

उल्लेखनीय है केंद्र सरकार द्वारा शुरू किए गए जल जीवन मिशन का उद्देश्य घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से सुरक्षित और पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराना है और राजस्थान में राज्य पीएचईडी द्वारा इसका क्रियान्वयन किया जा रहा है.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Yoga Day 2024: राजस्थान के सभी जिलों में योग दिवस पर होंगे कई आयोजन, देखें और मंत्री कहां करेंगे योगाभ्यास
‘जल जीवन मिशन’ अनियमितताः ED ने राजस्थान में छापेमारी में बरामद नकदी और सोना जब्त किया
Rajasthan weather good news for monsoon rain will soon know when will enter in state
Next Article
Rajasthan weather: राजस्थान में भीषण गर्मी के बीच सुकून की खबर, जल्द होगी बारिश; जानें कब आएगा मानसून
Close
;