विज्ञापन
Story ProgressBack

जयपुर में महिला बैंक मैनेजर के साथ साइबर ठगी, ट्राई सदस्य बनकर लगाया 17 लाख का चूना

Jaipur Crime news: राजधानी जयपुर के महेश नगर  की रहने वाली एक महिला बैंक मैनेजर के साथ साइबर ठगी (Cyber Fraud) का मामला सामने आया है. जालसाजों ने महिला बैंक मैनेजर को करीब 5 घंटे तक वीडियो कॉल के जरिए डिजिटल गिरफ्त (Digital Arrest) में रखा था

Read Time: 3 mins
जयपुर में महिला बैंक मैनेजर के साथ साइबर ठगी, ट्राई सदस्य बनकर लगाया 17 लाख का चूना

Jaipur Crime news: राजधानी जयपुर के महेश नगर  की रहने वाली एक महिला बैंक मैनेजर के साथ साइबर ठगी (Cyber Fraud) का मामला सामने आया है, जहां साइबर ठगों ने महिला बैंक मैनेजर को 17 लाख रुपए का चूना लगाया है. जालसाजों ने महिला बैंक मैनेजर को करीब 5 घंटे तक वीडियो कॉल के जरिए डिजिटल गिरफ्त (Digital Arrest) में रखा था. साथ ही पीड़िता ने विशेष अपराध एवं साइबर अपराध (Cyber Crime) थाने में मामला दर्ज करवाया है.

ट्राई का सदस्य बनकर की ठगी

एसबीआई बैंक (SBI Bank) की महिला मैनेजर को 20 जून की सुबह एक कॉल आया.  फोन करने वाले ने खुद को राजीव बताते हुए ट्राई का सदस्य बताया. उसने पीड़िता को डराते हुए कहा कि उसके आधार कार्ड का इस्तेमाल कर महाराष्ट्र में सिम कार्ड जारी किया गया है. इसके जरिए अवैध गतिविधियां संचालित की जा रही हैं, जिसके चलते उसे दूसरा सिम कार्ड जारी करने को कहा. पहले तो पीड़िता ने मना किया तो जालसाज ने कॉल ट्रांसफर कर दिया और कहा कि वह उसकी मुंबई पुलिस से बात करवा देगा. वहीं, कॉल करने वाले ने अपना नाम विनय खन्ना बताया और कॉल काट दिया. इसके तुरंत बाद दूसरे नंबर से कॉल आया और उसे स्काइप सॉफ्टवेयर इंस्टॉल कर उस पर बात करने को कहा.

17 लाख रुपए ट्रांसफर करवाए

इसके बाद रिजर्व बैंक में वेरिफिकेशन के नाम पर पीड़िता के खाते से 20 लाख रुपए ट्रांसफर करने को कहा गया. पीड़िता ने अपनी एफडी तुड़वाकर 17 लाख रुपए ट्रांसफर करवा लिए. इसके बाद उसे झांसे में लेकर कहा गया कि 6 से 8 घंटे में पैसे उसके बैंक खाते में वापस आ जाएंगे। और बाकी 3 लाख रुपए भी जमा करवाने होंगे। इस तरह जालसाजों ने महिला बैंक मैनेजर को अपना शिकार बनाया.

एफडी (FD) तुड़वाकर दी थी राशि

पहले उसने अपनी एफडी तुड़वाकर 17 लाख रुपए साइबर जालसाज को ट्रांसफर कर दिए, फिर जालसाज के कहने पर वह अपना म्यूचुअल फंड बंद कर रही थी, लेकिन इसी बीच उसके परिजनों ने फोन काट दिया, जिससे उसकी बाकी रकम बच गई. इस घटना के बाद पीड़िता इतनी डर गई कि जब उसके परिजनों ने बीच में उसे रोकने की कोशिश की तो उसने यह कहकर उन्हें चुप करा दिया कि सीबीआई उससे पूछताछ कर रही है और उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया.

यह भी पढ़ें: जोधपुर में खिरच से पाली तक पहली बार 1882 में चली थी ट्रेन, जानिए कुल कितना आया था खर्चा

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
7 बार युवक को काट चुका सांप, सपने में आकर 9वीं बार काटने की दी चेतावनी; हैरान कर देगी ये खबर
जयपुर में महिला बैंक मैनेजर के साथ साइबर ठगी, ट्राई सदस्य बनकर लगाया 17 लाख का चूना
rajasthan budget 2024 announcement for Sikar district hospital in Neem ka thana 100 crores for Khatu Shyam Corridor
Next Article
सीकर के लिए बजट में कई घोषणा: 300 करोड़ में बनेगा अस्पताल, खाटू श्याम पर भी बड़ा ऐलान
Close
;