विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Sep 19, 2023

राजस्थान: इस बार देर से होगी मानसून की विदाई, IMD ने बताया आगे कैसा रहेगा मौसम

राजस्थान के कई जिलों में बीते कुछ दिनों से बारिश का दौर जारी है. इस बीच मौसम विभाग ने कहा है कि इस बार राजस्थान से मानसून की विदाई देरी से होगी.

Read Time: 3 mins
राजस्थान: इस बार देर से होगी मानसून की विदाई, IMD ने बताया आगे कैसा रहेगा मौसम
राजस्थान में हो रही झमाझम बारिश.
जयपुर:

Rajasthan Weather Update: जून, जुलाई में बारिश के लिए तरसने वाला राजस्थान सितंबर में हो रही बारिश से भीगा हुआ है. प्रदेश के कई जिलों में बीते चार-पांच दिनों से बारिश का दौर जारी है. बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, उदयपुर, कोटा, बूंदी, जालौर, धौलपुर, जयपुर, जोधपुर, अजमेर सहित प्रदेश के कई जिलों में बीते कुछ दिनों से बारिश का दौर जारी है. राजस्थान और एमपी में हो रही भारी बारिश से प्रदेश के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं. डैम लबालब भर चुके हैं. कॉलोनियों भी डूब चुकी हैं. ऐसे में जन-जीवन बुरी तरह से अस्त-व्यस्त है. इस बीच मौसम विभाग ने जो नई जानकारी दी है, उसके अनुसार लोगों की परेशानी अभी थमने वाली नहीं है. 

दरअसल राजस्थान में सितंबर में दोबारा सक्रिय हुए मानसून के कारण अनेक इलाकों में बारिश का दौर जारी है और मौसम विभाग ने मानसून के इस बार देरी से विदा होने की संभावना जताई है. मौसम केंद्र, जयपुर के अनुसार, सितंबर के आखिरी सप्ताह में पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में हल्की से मध्यम बारिश की गतिविधियां जारी रहने तथा राज्य से मानसून की विदाई देरी से होने की प्रबल संभावना है. आमतौर पर मानसून मध्य सितंबर तक राज्य से विदाई ले लेता है.

वहीं मंगलवार सुबह साढ़े आठ बजे तक, बीते चौबीस घंटे के दौरान पश्चिमी राजस्थान में कहीं कहीं भारी बारिश दर्ज की गई. मौसम केंद्र के अनुसार, इस दौरान बाड़मेर के सिंदरी में आठ सेंटीमीटर, बाड़मेर के सिवाना में पांच सेंटीमीटर, जालौर के जसवंतपुरा में पांच सेंटीमीटर, डूंगरपुर के गणेशपुरा में पांच सेंटीमीटर और उदयपुर के झाड़ोल में पांच सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई. इसके अलावा बीकानेर, हनुमानगढ़, गंगानगर, प्रतापगढ़, धौलपुर, बांसवाड़ा, राजसमंद सहित अनेक जिलों में बारिश हुई.

मौसम केंद्र के अनुसार, राज्य के ऊपर बना परिसंचरण तंत्र आज दक्षिण-पश्चिमी राजस्थान के ऊपर स्थित है तथा एक और नया परिसंचरण तंत्र बंगाल की खाड़ी में बना हुआ है.

मौसम केंद्र ने बताया कि इस तंत्र के कारण जोधपुर व बीकानेर संभाग के कुछ भागों में बादल छाए रहने तथा रुक-रुक कर हल्की से मध्यम स्तर की बारिश जारी रहने की सम्भावना है. उसके मुताबिक, वहीं जोधपुर, बीकानेर संभाग के ज्यादातर इलाकों में 20 सितंबर से बारिश की गतिविधियों में कमी होगी। इसके बाद आगामी दिनों में केवल छुटपुट स्थानों पर हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना है.

मौसम केंद्र ने बताया कि इसी तरह पूर्वी राजस्थान के ज्यादातर भागों में आगामी दो-तीन दिन बारिश की गतिविधियों में कमी होगी. 22 सितंबर से पूर्वी राजस्थान के कोटा, उदयपुर, भरतपुर व जयपुर संभाग के कुछ भागों में मेघगर्जन के साथ हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश की गतिविधियां पुनः शुरू होने की संभावना है.

यह भी पढ़ें - भारी बारिश के बीच उदयपुर में अचानक धंसा नाला, जमीन में समाईं दो कारें

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
इटली से आए विदेशी कोच भारतीय खिलाड़ियों को दे रहे प्रशिक्षण, लेंगे 'वर्ल्ड स्केट गेम्स 2024' में भाग
राजस्थान: इस बार देर से होगी मानसून की विदाई, IMD ने बताया आगे कैसा रहेगा मौसम
RSS Leader Indresh Kumar Said- 'Ego stopped BJP from getting majority', all those opposing Ram could not form govt
Next Article
'अहंकार ने भाजपा को बहुमत से रोका', राम का विरोध करने वाले सब मिलकर भी सरकार नहीं बना पाएः इंद्रेश कुमार
Close
;