विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में लोकसभा चुनाव के बाद पकड़े गए 1300 से ज्यादा हथियार, आचार संहिता लागू होने के बाद 2 लाख लोग पाबंद

लोकसभा आम चुनाव-2024 की प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से हो इसके लिए मतदान प्रक्रिया पूरी होने के बाद भी अवैध गतिविधियों पर नियंत्रण के लिए कड़ी चौकसी बरती जा रही है.

Read Time: 3 mins
राजस्थान में लोकसभा चुनाव के बाद पकड़े गए 1300 से ज्यादा हथियार, आचार संहिता लागू होने के बाद 2 लाख लोग पाबंद
प्रतीकात्मक फोटो

Rajasthan News: राजस्थान में लोकसभा आम चुनाव-2024 की प्रक्रिया शांतिपूर्ण ढंग से हो इसके लिए मतदान प्रक्रिया पूरी होने के बाद भी अवैध गतिविधियों पर नियंत्रण के लिए कड़ी चौकसी बरती जा रही है. इस क्रम में मतदान के दो दिन बाद रविवार को राज्य पुलिस ने 8 अवैध हथियारों और 21 कारतूस की बरामदगी की है. राज्य में अब तक 1,394 अवैध हथियार जब्त किए गए हैं. मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में क़ानून-व्यवस्था की स्थिति पर कड़ी नजर रखने का परिणाम है कि राज्य में चुनाव से जुड़ी गतिविधियों के दौरान शांति रही है. पुलिस ने इस अवधि में 2,646 कारतूस, 4,161 किलोग्राम विस्फोटक पदार्थ और 7 आईईडी (बम) जब्त किए गए हैं. एक अवैध हथियार निर्माण फैक्ट्री पर छापे की कार्रवाई भी की गई है.

गुप्ता ने बताया कि लोकसभा चुनाव के लिए 16 मार्च को आचार संहिता लागू होने के साथ ही निर्वाचन विभाग सहित विभिन्न विभागों की मुस्तैदी के चलते राजस्थान में भयमुक्त, निष्पक्ष एवं भेदभाव रहित चुनाव करवाने के लिए हर स्तर पर प्रभावी कदम उठाए गए. राज्य पुलिस ने अवैध हथियारों तथा वांछित अपराधियों की धरपकड़, लाइसेंसी हथियारों को जमा करने तथा चुनाव प्रक्रिया को प्रभावित कर सकने वाले संदिग्ध व्यक्तियों की पहचान कर उन्हें पाबंद करने की कार्यवाही की . 

पूरे प्रदेश में करीब 2 लाख लोग पाबंद किए गए

राजस्थान पुलिस मुख्यालय की ओर से भारत निर्वाचन आयोग को इस विषय में प्रेषित नवीनतम नियमित रिपोर्ट के अनुसार, इस अवधि के दौरान 1.99 लाख व्यक्तियों को विभिन्न अवांछित गतिविधियों के कारण पाबंद किया गया. कुल 64,089 व्यक्तियों को अपराध प्रक्रिया संहिता की धाराओं 107, 108, 110 एवं 151 आदि के तहत पाबंद किया है. इसी प्रकार, 1,35,316 व्यक्तियों को संहिता की उक्त धाराओं के साथ ही 109 और 116(3) धाराओं के तहत पाबंद किया गया. इस अवधि में 17 लोगों को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) सहित अन्य धाराओं में प्रतिबंधित किया गया है.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि प्रदेश भर में आम सुरक्षा की दृष्टि से कुल 1,62,777 लाइसेंसशुदा हथियारों में से 1,55,666 हथियार विभिन्न पुलिस थानों में जमा करवाए गए हैं. कुल 1,743 हथियार लाइसेंस निरस्त किए गए हैं तथा 51 लाइसेंसी हथियारों को जब्त किया गया है.

अब भी 239 स्थानों पर नाके और 481 सतर्कता दल सक्रिय

श्री गुप्ता के अनुसार, स्वतंत्र, निष्पक्ष, पारदर्शी और प्रलोभन तथा धन-बल रहित चुनाव प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए वर्तमान में राजस्थान में 35 अन्त:राज्य और 204 अंतर्राज्यीय पुलिस नाकों सहित कुल 239 स्थानों पर निगरानी की जा रही है. साथ ही, प्रदेशभर में कुल 481 सतर्कता दल भी सक्रिय स्थिति में रखे गए हैं.

यह भी पढ़ेंः Rajasthan News: खेत में चारा लेने गई थी महिला, दो दिन बाद घर आई लाश; परिजनों ने जताया हत्या का शक

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
झालावाड़ बकरा मंडी की शान बना 'धर्मेंद्र', 5 लाख में लगी बोली,देखते रह गए शाहरुख- आमिर
राजस्थान में लोकसभा चुनाव के बाद पकड़े गए 1300 से ज्यादा हथियार, आचार संहिता लागू होने के बाद 2 लाख लोग पाबंद
rajasthan electricity bill jaipur vidyut vitran nigam limited jvvnl increases fuel surcharge
Next Article
राजस्थान में बिजली महंगी! सरकार ने बढ़ाया फ्यूल सरचार्ज; जानिए किन लोगों पर पड़ेगा असर
Close
;