विज्ञापन
Story ProgressBack

भजन संध्या के दौरान लकी ड्रॉ के नाम पर 1.50 करोड़ रुपए की ठगी, पुलिस ने जब्त किए 2 हजार से ज्यादा रसीदें

नागौर जिले में लकी ड्रॉ के नाम पर ठगी करने के मामलें मे पहली कार्रवाई हुई है. भजन संध्या की आड़ में लकी ड्रा का आयोजन किया गया था. पुलिस की सूचना पाकर आयोजनकर्ता मौके से फरार हो गया.                                                                

Read Time: 4 min
भजन संध्या के दौरान लकी ड्रॉ के नाम पर 1.50 करोड़ रुपए की ठगी, पुलिस ने जब्त किए 2 हजार से ज्यादा रसीदें
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

Rajasthan News: नागौर जिले में भजन संध्या के दौरान लकी ड्रॉ के नाम पर 1.50 करोड़ रुपए की ठगी करने का मामला सामने आया है. आरोप है कि आयोजक भजन संध्या के नाम पर लोगों को लकी ड्रॉ के झांसे में लेते थे और उनसे भारी भरकम रकम ड्रॉ के नाम पर ठग लेते थे. इस मामले में कुचेरा पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 2462 रसीदें जब्त की हैं. आरोपी द्वारा लगभग डेढ़ करोड़ रुपए का कलेक्शन किया गया. हालांकि जब पुलिस मौके पर पहुंची तो आरोपी फरार हो गया.

कीमती समान का झासा देकर उड़ाए रुपए

नागौर जिला पुलिस अधीक्षक नारायण टोगस के अनुसार कुचेरा थाना क्षेत्र के ग्राम अड़वड में 29 फरवरी की राय को राकेश छाबा नामक आरोपी ने अपने पुश्तैनी खेत में भजन संध्या का आयोजन करवाया. जहां उसने लोगों से लकी ड्रॉ के नाम पर डेढ़ करोड़ रुपए की ठगी कर ली. कुचेरा थाना अधिकारी मुकेश कुमार ने बताया कि राकेश छाबा अपने खेत में भजन संध्या और लकी ड्रॉ का आयोजन करवा रहा था. जहां उसने लोगों को अनेक प्रकार के इनाम का झांसा दिया. इसके लिए उसने लोगों की 500-500 की रसीदें काटी और रूपए वसूल कर लिए.

मौके पर थी करीब 3 हजार लोगों की भीड़

इसकी सूचना जब पुलिस को मिली तो वह हरकत में आई और मौके पर पहुंची. लेकिन तब तक भजन संध्या समाप्त हो गई थी. हालांकि भजन संध्या के मंच से लकी ड्रॉ के इनामों की घोषणा की जा रही थी. मंच पर स्टील के पांच बर्तन रखे थे, जिनमें अलग-अलग नंबर लिखी हुई पीले रंग की गेंद थी. इन बर्तनों से गेंद को निकालकर इनाम की घोषणा की जा रही थी. 

वहीं मंच पर रसीद बुकों का भी ढेर लगा था. मौके पर करीब 2 से 3 हजार लोगों की भीड़ मौजूद थी. इस दौरान पुलिस को देखकर राकेश छाबा और वहां मौजूद लोग फरार हो गए. पुलिस ने मौके से 2462 रसीदें सहित मौके से अनेक सामान बरामद कर लिया.

इन इनामों का दिया झांसा

भजन संध्या एवं लकी ड्रॉ के नाम पर सहयोग राशि के रूप में प्रत्येक व्यक्ति से 500-500 रुपए लिए गए थे. ड्रॉ में कुल 201 इनाम रखे गए, जिनमें स्कॉर्पियो, ट्रैक्टर, हार्ले डेविडसन बाइक, बजाज पल्सर, बाइक बजाज सीटी 100 बाइक, टैबलेट, इनवर्टर, फ्रिज, वाशिंग मशीन, रेडियो, गीजर, पानी की मोटर, मिक्सी, सिलाई मशीन, कूलर, पंखा, इलेक्ट्रिक चूल्हा, कैंपर, बिलोना मशीन आदि पुरस्कारों का झांसा दिया गया था.

मामला दर्ज, आरोपी की तलाश शुरू

लकी ड्रा के द्वारा मात्र 201 लोगों को इनाम दिया जाना था, जबकि बाकी लोगों को इससे वंचित रखकर उनसे रकम वसूल ली गई. जिसे पुलिस ने संगीन अपराध और धोखाधड़ी मानते हुए इसे धारा 3/4 आरपीजीओ का मामला मानते हुए प्रकरण दर्ज कर लिया. फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है और आरोपी राकेश छाबा की तलाश कर रही है.

लकी ड्रॉ जैसी योजनाएं है गैर कानूनी

इस मामले में पुलिस ने आमजन से अपील की है कि इस प्रकार के लकी ड्रॉ करना गैरकानूनी है और अपराध की श्रेणी में आता है. इसलिए कोई भी व्यक्ति इस प्रकार की गैर कानूनी गतिविधियों में शामिल नहीं हों. इस प्रकार के लकी ड्रा के माध्यम से आमजन को ठगा जा रहा है. ऐसे में किसी भी प्रकार के लकी ड्रॉ के बारे में जानकारी होने पर तत्काल पुलिस को सूचना दी जाए.

ये भी पढ़ें- लोकसभा चुनाव से पहले राजपूतों ने केंद्र और राज्य सरकार से कर दी बड़ी मांग, दी देश भर में आंदोलन की चेतावनी

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close