विज्ञापन
Story ProgressBack

अजमेर दरगाह के 812वें उर्स में वसुंधरा राजे की चादर हुई पेश, अपने पैगाम में राजे ने दिया यह संदेश

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री  वसुंधरा राजे  सिंधिया की ओर से भेजी गई चादर ख़्वाजा साहब के 812वें उर्स के उपलक्ष्य पर चढ़ाई गई. इस अवसर का पूर्व मुख्यमंत्री राजे का संदेश दरगाह के निज़ाम गेट से अफसान चिस्ती ने पढ़ कर सुनाया.

Read Time: 3 min
अजमेर दरगाह के 812वें उर्स में वसुंधरा राजे की चादर हुई पेश, अपने पैगाम में राजे ने दिया यह संदेश
अजमेर दरगाह पर चढ़ाई गई पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की चादर.

Ajmer Dargah Urs:  राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री  वसुंधरा राजे  सिंधिया की ओर से भेजी गई चादर ख़्वाजा साहब के 812वें उर्स के उपलक्ष्य पर चढ़ाई गई. इस अवसर का पूर्व मुख्यमंत्री राजे का संदेश दरगाह के निज़ाम गेट से अफसान चिस्ती ने पढ़ कर सुनाया. इस दौरान राजे का भेजा गया संदेश पढ़कर सुनाया गया. राजे ने संदेश में लिखा, मुझे बेहद खुशी है कि इस साल महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती रहमतुल्लाह आलेह का 812 वां उर्स है. मैं इस मुबारक मौके पर दुनिया भर में मौजूद व दरगाह पर आए ख्वाजा साहब के तमाम मुरिदीन और जाईरीन को तहेदिल से मुबारकबाद पेश करती हूं.

ख्वाजा साहेब की दरगाह भारत की गंगा-जमुनी तहजीब की एक नायाब मिसाल है. ये हम सब के लिए फक्र कि बात है कि विश्व के ऐसे महान सूफी संत ख्वाजा साहेब सुल्तान-ए-हिंद की दरगाह हमारे सूबे राजस्थान में है.

राजे ने लिखा, ख्वाजा साहेब का जीवन हम सबके लिए एक नजीर है. आपने सारी जिंदगी मानव सेवा, खुदा की इबादत और बेसहारो को सहारा देने में गुजारी. यही वजह है की आज आपकी दरगाह पर हर मजहब के लोग सर झुकाकर अपनी खिराज-ए-अकीदत का नजराना पेश करते हैं और अपनी मुरादें माँगते है. जिन्हें आप पूरा करते है.

उन्होंने कहा, मैं इस मुबारक मौके पर अपने सूबे राजस्थान और मुल्क की खुशहाली एवं तरक्की की दुआ करती हूं. मुझे पूरा यकीन है कि ख्वाजा साहब का करम हम सब पर हमेशा बना रहेगा.

इस अवसर पर भाजपा अजमेर देहात के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रो. बी. पी. सारस्वत, राजे के वकील सैयद अफसान चिस्ती, भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के पूर्व प्रदेश महामंत्री मुंसिफ अली खान, यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित जैन, शहर जिलाध्यक्ष अल्पसंख्यक मोर्चा शफीक खान, गुलाम मुस्तफा, अतीक अहमद, मनोज बैरवा सहित भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के कार्यकर्ता मौजूद रहें.

यह भी पढ़ें- अजमेर दरगाह के सालाना उर्स में शामिल होने पाकिस्तान से पहुंचे 230 जायरीन, स्टेशन पर ही करते दिखे सजदा

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close