विज्ञापन
Story ProgressBack

मकर संक्रांति पर इस जगह होती है मगरमच्छ की पूजा, जानिए इसके पीछे क्या है वजह? 

देशभर में आज मकर संक्रांति का त्योहार धूमधाम से मनाया गया, राजस्थान के कोटा शहर में भी बंगाली समाज ने आज मकर संक्रांति का पर्व रीति रिवाज के साथ मनाया.

Read Time: 2 min
मकर संक्रांति पर इस जगह होती है मगरमच्छ की पूजा, जानिए इसके पीछे क्या है वजह? 

Makar Sankranti: देशभर में आज मकर संक्रांति का त्योहार धूमधाम से मनाया गया, राजस्थान के कोटा शहर में भी बंगाली समाज ने आज मकर संक्रांति का पर्व रीति रिवाज के साथ मनाया. नया गांव रोजड़ी क्षेत्र में मिट्टी का विशाल मगरमच्छ बनाया. इष्टदेव के रूप में मगरमच्छ की पूजा अर्चना की. परंपरा को निभाते हुए वाले बंगाली समाज ने विधि विधान से पूजा की. ऐसे में मकरध्वज के रूप में मगरमच्छ की पूजा का विधान पीढ़ियों से चला आ रहा है.

Latest and Breaking News on NDTV

पूजा अर्चना कर मगरमच्छ भगवान की परिक्रमा कर एक दूसरे को पर्व की शुभकामनाएं दी. मगरमच्छ की पूजा करने के लिए अलग-अलग कथाएं प्रचलित है. बंगाली समाज के लोगों का मानना है कि धरती पर मात्र मगरमच्छ ही एक ऐसा जीव है जो पानी और धरती दोनों पर समान रूप से रह सकता है.

इससे जुड़ी हुई एक किवंदती है कि एक व्यक्ति मिट्टी का मगरमच्छ बनाकर तांत्रिक के पास विद्या सीखने गया, जब वह मकर संक्रांति पर घर लौटा तो उसके परिवार ने उससे पूछा कि उसने क्या सीखा, इस पर वह अपने परिवार को नदी के तट पर ले गया.

Latest and Breaking News on NDTV

वहां पर मिट्टी का मगरमच्छ बनाया, मंत्र बोलकर उसे जीवित किया. मगरमच्छ जीवित होकर नदी में चला गया, तब से लोग मकर संक्रांति पर मगरमच्छ की पूजा करते हैं. बंगाली समाज के लोगों ने बताया कि इसके अलावा गंगा जी का वाहक होने की वजह से भी मगरमच्छ को पूजा जाता है.

यह भी पढ़ें- प्रतिबंध के बावजूद राजस्थान में बिक रहा है चाइनीज मांझा, चपेट में आए युवक का कटा चेहर

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close