विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में अन्नपूर्णा रसोई योजना को लेकर बड़ा फैसला, भजनलाल सरकार ने दिया अब ये आदेश

Annapurna Rasoi Yojana: राजस्थान की सरकार ने सोमवार को अन्नपूर्णा रसोई योजना को लेकर बड़ा फैसला लिया है. इस योजना में गरीब और जरूरतमंद लोगों को काफी सस्ते में भोजन दिया जाता है.

Read Time: 3 mins
राजस्थान में अन्नपूर्णा रसोई योजना को लेकर बड़ा फैसला, भजनलाल सरकार ने दिया अब ये आदेश
मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा

Annapurna Rasoi Yojana: राजस्थान की भजनलाल सरकार ने सोमवार को बड़ा फैसला लिया है. सरकार का ये फैसला राज्य में अन्नपूर्णा रसोई को लेकर लिया गया है. सरकार ने अन्नपूर्णा रसोई में कटौती करने का निर्णय लिया है. बता दें कि अन्नपूर्णा रसोई योजना में वैन के जरिए गरीब और जरूरतमंदों को नाश्ता और भोजन दिया जाता था. इस योजना की सबसे पहले वसुंधरा राजे सरकार ने शुरूआत की थी. जिसका गहलोत सरकार बनने पर नाम बदल दिया गया.

भजनलाल सरकार ने थाली की बढ़ाई मात्रा

वहीं राज्य में भजनलाल शर्मा की सरकार बनने पर इस योजना का नाम फिर से बदलकर अन्नपूर्णा सोई योजना (Annapurna Rasoi Yojana) कर दिया. गहलोत सरकार में इसका योजना का नाम इंदिरा रसोई योजना था. बीजेपी सरकार बनने के बाद इस साल जनवरी में स्वायत्त शासन विभाग ने आदेश जारी कर भोजन थाली में मात्रात्मक और गुणात्मक सुधार के आदेश दिए थे.

तब से अन्नपूर्णा रसोई योजना के अंतर्गत थाली में 300 ग्राम चपाती, 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम मिलेट्स, खिचड़ी और अचार परोसा जाता है, जिसके लिए लोगों से 8 रुपए लिए जाते हैं. वहीं योजना पर सरकार की तरफ से 22 रुपये का अनुदान दिया जाता है.

Latest and Breaking News on NDTV

एक समय में मिलेगा एक कूपन

अब सोमवार को राजस्थान के स्वायत्त शासन विभाग ने इस योजना को लेकर नया आदेश जारी किया है. आदेश में बताया गया कि पहले लाभार्थी की जरूरत के हिसाब से 2 कूपन की राशि प्राप्त कर दो थाली (1+1) भोजन दिए जाने का प्रावधान था. हालांकि, योजना में संशोधन कर भोजन की मात्रा में बढ़ोतरी करके थाली का वजन 600 ग्राम कर दिया गया. ऐसे में अब लाभार्थी को एक समय में भोजन के लिए एक ही कूपन दी जा सकेगा. मतलब पहले की तरह एक लोग 2 कूपन लेकर दो थाली नहीं ले सकेंगे.

योजना की कुछ विशेषताए-

  • लाभार्थी को 8 रुपये में शुद्ध, ताजा एवं पोष्टिक भोजन
  • सम्मानपूर्वक एक स्थान पर बैठाकर भोजन व्यवस्था.
  • राज्य सरकार द्वारा 22 रुपये प्रति थाली अनुदान
  • प्रतिदिन 2.30 लाख व्यक्ति एवं प्रतिवर्ष 9.25 करोड़ लोगों को लाभान्वित करने का लक्ष्य
  • स्थानीय संस्थाओं के सेवाभाव एवं सहयोग से रसोईयों का संचालन
  • भोजन मेन्यू में थाली में 300 ग्राम चपाती, 100 ग्राम दाल, 100 ग्राम मिलेट्स, खिचड़ी और अचार

यह भी पढे़ं- 

राजस्थान के 7 जिलों को भजनलाल सरकार का बड़ा तोहफा, चलाई जाएंगी 500 इलेक्ट्रिक बसें

राजस्थान में बीजेपी की 11 लोकसभा सीटों पर हार के 11 बड़े कारण, क्या होनेवाला है बदलाव

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan: CM भजनलाल के पिता नहाते समय बाथरूम में गिरे, इलाज के लिए RBM अस्पताल के ICU में भर्ती
राजस्थान में अन्नपूर्णा रसोई योजना को लेकर बड़ा फैसला, भजनलाल सरकार ने दिया अब ये आदेश
Rajasthan Budget 2024: More focus on the constitution of CM and Deputy CM, less announcements made for home region
Next Article
Rajasthan Budget 2024: राजस्थान बजट में सीएम-डिप्टी CM की विधानसभा सीट पर ज्यादा फोकस, गृह क्षेत्र के लिए हुए कम ऐलान
Close
;