विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में भाजपा बनाएगी रिकॉर्ड या कांग्रेस का 'एक्सपेरिमेंट' होगा सफल, इन 15 सीटों पर टिकी सबकी निगाहें

राजस्थान की 25 सीटों पर 04 जून को आने वाले चुनाव परिणाम का काउंटडाउन शुरू हो गया है. इस बार कई सीटें हैं, जिन पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं.

Read Time: 3 mins
राजस्थान में भाजपा बनाएगी रिकॉर्ड या कांग्रेस का 'एक्सपेरिमेंट' होगा सफल, इन 15 सीटों पर टिकी सबकी निगाहें
फाइल फोटो

Lok Sabha Elections Results: लोकसभा चुनाव के रिजल्ट के लिए काउंटडाउन शुरू हो गया है. पूरे देश की निगाहें 04 जून को आने वाले चुनाव परिणाम पर टिकी हुई हैं. राजस्थान में 25 सीटों के लिए दो चरणों में मतदान हुए थे. इस बार के चुनाव में दिलचस्प बात देखने को मिली है. भाजपा ने अपने 11 सांसदों के टिकट काट दिए थे. वहीं, 15 सीटों पर भाजपा ने अपने उम्मीदवार बदल दिए थे. 

कांग्रेस ने सभी सीटों पर बदले थे उम्मीदवार

भाजपा ने मिशन-25 के लिए पूरी ताकत झोंक दी थी तो वहीं कांग्रेस ने भी राजस्थान में इस बार जीत हासिल करने के लिए पूरा दमखम दिखाया. भाजपा ने 15 सीटों पर अपने उम्मीदवार बदले तो कांग्रेस ने सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार बदल दिए. पिछली बार चुनाव लड़े अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत को टिकट जरूर मिला, लेकिन उनकी सीट बदल गई. 

15 नए चेहरों को भाजपा ने दिया था मौका

पिछली बार वे जोधपुर से उम्मीदवार थे. इस बार जालोर से हाथ आजमा रहे हैं. वहीं भाजपा ने 15 सीटों पर नए चेहरों को मौका दिया है. पार्टी ने 11 मौजूदा सांसदों के टिकट काट दिए. जिन सांसदों के टिकट काटे गए, उनमें जयपुर से रामचरण बोहरा, बांसवाड़ा से कनकमल कटारा, भरतपुर की रंजीता कोली, चूरू से राहुल कस्वां, जालोर से देवजी पटेल, उदयपुर से अर्जुनलाल मीणा, झुंझुनूं से नरेंद्र खीचड़, गंगानगर से निहालचंद मेघवाल, धौलपुर-करौली से मनोज राजौरिया, दौसा से जसकौर मीणा एवं भीलवाड़ा से सुभाष बहेड़िया का नाम शामिल है.

14 सीटों पर टिकीं सबकी निगाहें

तीन सांसद राज्यवर्धन राठौड़, दिया कुमारी और बाबा बालकनाथ विधायक का चुनाव लड़े थे. वे जीते इसलिए इन सीटों पर नए उम्मीदवारों को मौका दिया गया है. पार्टी को उम्मीद है कि इस बदलाव से उन्हें फायदा मिलेगा. भाजपा ने जयपुर से रामचरण बोहरा की जगह मंजू शर्मा, जयपुर ग्रामीण से राज्यवर्धन राठौड़ की जगह राव राजेंद्र सिंह, बांसवाड़ा से कनकमल कटारा की जगह महेंद्रजीत मालवीया, भरतपुर से रंजीता कोली की जगह रामस्वरूप कोली, चूरू से राहुल कस्वां की जगह देवेंद्र झाझडिया, जालोर से देवजी पटेल की जगह लुंबाराम चौधरी, उदयपुर से अर्जुनलाल मीणा की जगह मन्ना लाल रावत, झुंझुनूं से नरेंद्र खीचड़ की जगह शुभकरण चौधरी, गंगानगर से निहालचंद मेघवाल की जगह प्रियंका बैलान, धौलपुर-करौली से मनोज राजौरिया की जगह इंदू देवी जाटव, दौसा से जसकौर मीणा की जगह कन्हैयालाल मीणा, भीलवाड़ा से सुभाष बहेरिया की जगह दामोदर अग्रवाल को उम्मीदवार बनाया था.  

वहीं राजसमंद से महिमा विशेश्वर सिंह, अलवर से भूपेंद्र यादव और जयपुर ग्रामीण से रॉव राजेंद्र सिंह को उम्मीदवार बनाया था. इन 15 सीटों पर सबकी नजरें टिकी हैं. देखना है कि इन बदलाव की गई सीटों पर परिणाम कैसे रहते हैं. 

यह भी पढ़ें- ACB की छापेमारी में RSRDC के रिटायर्ड अधिकारी के घर मिले करीब 1 करोड़ रुपये, नोट गिनने की मशीन मंगाई

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan: सीकर में शराब पीने से 8 मजदूरों की तबीयत बिगड़ी, महिला समेत 2 की मौत
राजस्थान में भाजपा बनाएगी रिकॉर्ड या कांग्रेस का 'एक्सपेरिमेंट' होगा सफल, इन 15 सीटों पर टिकी सबकी निगाहें
The family was returning after visiting Khatu Shyam ji, three people including a three year old girl died in a collision between a car and a truck.
Next Article
Rajasthan: खाटू श्याम जी के दर्शन कर लौट रहा था परिवार, कार और ट्रक की भिड़ंत में तीन साल की बच्ची सहित तीन लोगों की मौत
Close
;