विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan News: गुटका, पान मसाला बेचने को लेकर हुई कार्रवाई, उल्लंघन पर होती है 5 साल की सजा

बिना वैधानिक चेतावनी के तंबाकू उत्पाद नहीं बेचा जा सकता है. यह कोटपा एक्ट की धारा 7 का स्पष्ट रूप से उल्लंघन है. यदि कोई व्यक्ति ऐसा करता पाया जाता है तो उसे 2 से 5 वर्ष तक की सजा हो सकती है.

Read Time: 3 min
Rajasthan News: गुटका, पान मसाला बेचने को लेकर हुई कार्रवाई, उल्लंघन पर होती है 5 साल की सजा
प्रतापगढ़ में पान मसाला बेचने वालों पर हुई कार्रवाई

Rajasthan News: राजस्थान के प्रतापगढ़ गुटका, पान मसाला बेचने वाले दुकानदारों के खिलाफ अभियान चलाया गया. इस अभियान में अस्पताल और डेयरी बूथ पर तंबाकू और इससे जुड़े उत्पादों की बिक्री करने वाले दुकानदारों पर चालान की कार्रवाई की गई. ये कार्रवाई प्रतापगढ़ चिकित्सा विभाग की टीम ने रविवार को की है. वहीं, ब्लॉक सीएमएचओ डॉ विजय गर्ग के नेतृत्व में टीम ने राजकीय स्कूल के निकट सरस बूथ एवं आसपास के दुकानों पर कोटपा अधिनियम का उल्लंघन करने पर चालान करने के साथ ही डेयरी बूथ पर किसी भी प्रकार के तंबाकू उत्पादों की बिक्री नहीं करने को लेकर पाबंद किया.

उल्लंघन करने वालों पर 5 साल तक की सजा

ब्लॉक सीएमएचओ डॉ विजय ने बताया कि बिना वैधानिक चेतावनी के तंबाकू उत्पाद नहीं बेचा जा सकता है. यह कोटपा एक्ट की धारा 7 का स्पष्ट रूप से उल्लंघन है. यदि कोई व्यक्ति ऐसा करता पाया जाता है तो उसे 2 से 5 वर्ष तक की सजा हो सकती है. डॉ. गर्ग ने कहा कि शिक्षा विभाग की गाइड लाइन में समस्त शिक्षण संस्थान के बाउंड्री के 100 गज के दायरे में तंबाकू उत्पादों की बिक्री नहीं की जा सकती हैं. इसी तरह डेयरी बूथों पर भी तंबाकू उत्पाद नहीं बेचे जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान निषेध है और इस संबंध में कानून को प्रभावी तरीके से लागू कर  नई पीढ़ी को जहर से बचाया जा सकता है.

इसके बाबजूद यदि कोई नियम तोड़ता है पुलिस, स्थानीय प्रशासन, शिक्षा, चिकित्सा विभाग कोटपा एक्ट के प्रावधानों के तहत कार्यवाही कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि संबंधित संस्था के प्रभारी इस एक्ट के लिए प्राधिकृत अधिकारी हैं.

करीबन ढ़ाई लाख रुपए के चालान

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर वीडी मीना ने बताया कि एनटीसीपी सेल के द्वारा अभियान चलाकर तंबाकू एवं इसके उत्पादों से होने वाले नुकसान के बारे में जागरुक कर रहा है. इसी तरह कोटपा एक्ट में नियम के उल्लंघन पर चालान की कार्रवाई की जाती है. उन्होंने बताया कि  पुलिस चिकित्सा शिक्षा एवं अन्य विभागों के समन्वय से प्रतापगढ़ जिले में करीबन ढ़ाई लाख रुपए के चालान किए जा चुके हैं. इस संबंध में समय-समय पर अभियान के तहत कार्यवाही को अंजाम दिया जा रहा है.

यह भी पढ़ेंः अंधविश्वास की पराकाष्ठा! अस्पताल के ICU में मृत व्यक्ति की आत्मा लेने पहुंचे परिजन

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close