विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan: साइकिलें पाकर खुशी से झूम उठी स्कूलों की छात्राएं, सरकारी स्कूलों की 14500 बालिकाओं को मिलेंगी निःशुल्क

छात्राओं के चेहरे पर साइकिल मिलने की खुशी साफ झलक रही है. छात्राओं का कहना है कि निशुल्क साइकिल मिलने से उन्हें काफी खुशी है और अब उन्हें अपनी स्कूल तक आने-जाने में कोई समस्या नहीं होगी. वे जल्दी स्कूल पहुंच सकेंगी, जिससे उनके समय की बचत होगी, साथ ही शिक्षा पर उनका फोकस और मजबूत होगा.

Read Time: 3 mins
Rajasthan: साइकिलें पाकर खुशी से झूम उठी स्कूलों की छात्राएं, सरकारी स्कूलों की 14500 बालिकाओं को मिलेंगी निःशुल्क

Didwana News: राजस्थान सरकार पिछले लगभग 12 सालों से सरकारी स्कूलों में निःशुल्क साइकिल वितरण योजना चला रही है. इस योजना ने सरकारी स्कूलों से दूर होती जा रही बालिकाओं को न केवल दोबारा सरकारी स्कूलों से जोड़ा, बल्कि उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ने का मौका दिया. मुफ्त साईकिल मिलने से जहां छात्राओ के चेहरे पर मुस्कान आने लगी है, तो वहीं शिक्षा के प्रति उनका लगाव भी बढ़ने लगा है. इस योजना के तहत सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली कक्षा 9 की छात्राओं को निशुल्क साइकिल प्रदान की जा रही है, ताकि संसाधनों के अभाव में और दूरी के कारण छात्राएं अपनी पढ़ाई बीच में ना छोड़े. 

डीडवाना जिले में 439 सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली 14500 छात्राओं का निःशुल्क साइकिल योजना में चयन किया गया है. इन सभी छात्राओं को मई माह के अंत तक निशुल्क साइकिलें प्रदान की जाएगी. इसके लिए डीडवाना में साइकिलों के पार्ट्स पहुंच चुके हैं. इन पार्ट्स को मिस्त्री आपस में जोड़कर उन्हें साइकिल का रूप दे रहे हैं. जैसे-जैसे साइकिलें तैयार हो रही है, वैसे-वैसे स्कूलों में छात्राओं को साइकिलों का वितरण किया जा रहा है.

बालिका शिक्षा को बढ़ावा देना था मकसद

राज्य सरकार ने सरकारी स्कूलों में कक्षा 9 में पढ़ने वाली छात्राओं को सरकारी स्कूलों से जोड़ने और उन्हें शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से निशुल्क साइकिल वितरण योजना प्रारंभ की थी. सरकार की मंशा थी कि दूरदराज के इलाकों की जो छात्राएं स्कूल से दूरी की वजह से विद्यालय नहीं पहुंच सकती, या जिन्हें आर्थिक तंगी के कारण स्कूल आने-जाने में दिक्कतें होती हों, उन छात्राओं को साइकिल उपलब्ध करवाई जाए, ताकि छात्राएं अपनी पढ़ाई बीच में ना छोड़े.

इसके तहत सरकार यह योजना लेकर आई, ताकि जो छात्राएं स्कूल से 2 किलोमीटर की दूरी पर निवास करती है, उन्हें पैदल चलकर स्कूल जाने की समस्या से मुक्ति मिल सके और साइकिल जैसा साधन उपलब्ध होने से उनके समय की भी बचत हो सके. सरकार की यह योजना छात्राओं में बेहद लोकप्रिय हुई और परिणाम यह निकला की बड़ी संख्या में छात्राएं सरकारी स्कूलों में एडमिशन लेने लगी.

निःशुल्क साइकिलें पाकर खुल उठे छात्राओं के चेहरे

निःशुल्क साइकिल वितरण योजना गरीब बालिकाओं के साथ ही हर वर्ग की बालिकाओं को शिक्षा के लिए प्रेरित कर रही है और उन्हें बेहतर भविष्य की दिशा में एक कदम आगे बढ़ाने का मौका दे रही है. राजस्थान के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली छात्राओं को साइकिल योजना से शिक्षा में अधिक अवसर मिल रहे हैं और वह अपनी पढ़ाई पर भी फोकस करने लगी है. निःशुल्क साइकिलें पाकर छात्राएं काफी उत्साहित और खुश नजर आ रही है.

छात्राओं के चेहरे पर साइकिल मिलने की खुशी साफ झलक रही है. छात्राओं का कहना है कि निशुल्क साइकिल मिलने से उन्हें काफी खुशी है और अब उन्हें अपनी स्कूल तक आने-जाने में कोई समस्या नहीं होगी. वे जल्दी स्कूल पहुंच सकेंगी, जिससे उनके समय की बचत होगी, साथ ही शिक्षा पर उनका फोकस और मजबूत होगा.

यह भी पढ़ें- राजस्थान कांग्रेस प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा को पार्टी ने गुरदासपुर से बनाया उम्मीदवार

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
हनुमान बेनीवाल ने उठाया बड़ा मुद्दा, कहा- विधायक रहते सांसद बनने वालों को दोनों सदनों की सदस्यता मिलनी चाहिए
Rajasthan: साइकिलें पाकर खुशी से झूम उठी स्कूलों की छात्राएं, सरकारी स्कूलों की 14500 बालिकाओं को मिलेंगी निःशुल्क
ACB Action: ACB raid on Apex Bank MD premises, search operation from Jaipur-Jodhpur to Jhunjhunu.
Next Article
ACB Action: बैंक एमडी के ठिकानों पर एसीबी की छापेमारी, जयपुर-जोधपुर से लेकर झुंझुनूं तक सर्च ऑपरेशन
Close
;