विज्ञापन
Story ProgressBack

अजमेर उर्स मेले में तैनात जवानों के लिए नई व्यवस्था, भामाशाहों की मदद से मिल रही सुविधा

पुलिसकर्मियों के लिए सुबह और शाम भोजन की व्यवस्था अजमेर एसपी चुनाराम जाट, दरगाह सी ओ गोरी शंकर और दरगाह थाना प्रभारी जगदीश मीणा के नेतृत्व में की जा रही है.

Read Time: 3 min
अजमेर उर्स मेले में तैनात जवानों के लिए नई व्यवस्था, भामाशाहों की मदद से मिल रही सुविधा
ड्यूटी के दौरान रोटी बनाने की तैयारी करते पुलिसकर्मी.

Urs Ajmer: ख्वाजा गरीब नवाज के 812वें उर्स में हजारों जयरीनों का जत्था पहुंचा है. राजस्थान सहित दूसरे राज्यों से भी पुलिस आरएसी हाड़ी रानी बटालियन के जवान ड्यूटी देने के लिए 24 घंटे दरगाह और दरगाह के आसपास के क्षेत्र में मौजूद है. पुलिसकर्मियों के लिए सुबह और शाम भोजन की व्यवस्था अजमेर एसपी चुनाराम जाट, दरगाह सी ओ गोरी शंकर और दरगाह थाना प्रभारी जगदीश मीणा के नेतृत्व में की जा रही है. वहीं इस व्यवस्था में भामाशाहों का भी जन सहयोग मिल रहा है. उर्स मेले की विधि-व्यवस्था में तैनात जवानों की भोजन के लिए इस बार विशेष व्यवस्था की गई है. 

हजारों जवानों के लिए की गई नई व्यवस्था

किशनगढ़ के एक भामाशाह ने रोटी मेकिंग मशीन अजमेर पुलिस को भिजवाई है, यह मशीन जब तक उर्स में ड्यूटी पुलिसकर्मी देंगे, तब तक इस मशीन से रोटियां बनाई जाएगी. भामाशाह ने अपने कर्मचारियों को भी रोटी बनाने के लिए अजमेर दरगाह थाने भेजा है. 

कर्मचारी राकेश ने बताया कि रोजाना हजारों रोटियां पुलिस कर्मियों के लिए बनाई जा रही है, इस मशीन में कई किलो आटा डाला जाता है और आटा गुंद कर तैयार होता है. उसके बाद लोई बनाकर मशीन में डाली जाती है फिर गरमा गरम चपाती बनकर तैयार हो जाती है.

ड्यूटी के दौरान भोजन की तैयारी करते पुलिसकर्मी

ड्यूटी के दौरान भोजन की तैयारी करते पुलिसकर्मी

अजमेर पुलिस की अनोखी पहल

अजमेर शहर में पड़ रही कड़ाके की ठंड को देखते हुए एक स्थान पर हजारों पुलिसकर्मियों के भोजन की व्यवस्था की गई है. दरगाह थाने के एएसआई बनवारी लाल ने बताया कि अनोखी पहल में अजमेर एसपी चुनाराम जाट, दरगाह सीओ गौरीशंकर और दरगाह थाना प्रभारी जगदीश मीणा के नेतृत्व में और जन सहयोग से यह पहल शुरू की गई है. 

पुलिस के आला अधिकारियों ने सोचा कि कड़ाके की ठंड में जो पुलिसकर्मी दरगाह में ड्यूटी अंजाम देंगे. उन्हें अपने पॉइंट पर भोजन की व्यवस्था के लिए इधर-उधर जाना पड़ेगा. यह सोच रखते हुए उन्होंने इस बार दरगाह थाने में ही ड्यूटी दे रहे पुलिसकर्मियों के लिए दो वक्त के भोजन की व्यवस्था की है.

हजारों पुलिसकर्मी रोजाना दे रहे ड्यूटी

उर्स के दौरान जायरीन की सुरक्षा और कानून व्यवस्था बनाए रखने को लेकर अजमेर सहित अलग-अलग शहरों से  अजमेर की दरगाह के अंदर और दरगाह के आसपास के क्षेत्र में राउंड द क्लॉक ड्यूटी अंजाम दे रहे हैं. ऐसे में बाहर से आने वाले पुलिस कर्मियों के लिए  प्रतिदिन रोटी सब्जी, पूड़ी सब्जी और अलग-अलग तरह के भोजन तैयार किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें- अजमेर दरगाह के 812वें उर्स में वसुंधरा राजे की चादर हुई पेश, अपने पैगाम में राजे ने दिया यह संदेश

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close