विज्ञापन
Story ProgressBack

घरेलू टूर्नामेंट पर भड़के पूर्व क्रिकेटर, बोले, "रणजी ट्रॉफी को तो बंद कर देना चाहिए..."

Former Cricketer Manoj Tiwari: मनोज तिवारी बाद में लाइव भी आए और घरेलू टूर्नामेंट के खिलाफ भड़ास भी निकालते हुए कहा, 'हम केरल के साथ एक मैदान में खेल रहे हैं, स्टेडियम में नहीं, जबकि वहां सालों पहले एक स्टेडियम बनाया गया था, हमें राज्य के बाहरी इलाके में एक मैदान में खेलने के लिए कहां जा रहा है.

Read Time: 4 min
घरेलू टूर्नामेंट पर भड़के पूर्व क्रिकेटर, बोले,
मनोज तिवारी (फाइल फोटो)

Former Cricketer furious over the domestic tournament: भारत के पूर्व क्रिकेटर मनोज तिवारी (Manoj Tiwary Post Viral)  ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर क्रिकेट जगत में सनसनी मचा दी है. उन्होंने रणजी टूर्नामेंट (Ranji Trophy) को लेकर आगबबूला मनोज तिवारी ने इधर-उधर बात नहीं, बल्कि बाकायदा रणजी टूर्नामेंट को बंद करने की बात कह दी.

मनोज तिवारी ने बहुत कुछ कहना चाह रहे थे, लेकिन बीसीसीआई आचार संहिता का हवाला देकर चुप्पी साध ली.हालांकि सोशल मीडिया मंच एक्स पर मनोज तिवारी द्वारा रणजी ट्रॉफी के खिलाफ लिखा पोस्ट खूब वायरल हो रहा है.

पूर्व क्रिकेटर तिवारी ने अपने पोस्ट में लिखा, "रणजी ट्रॉफी को अगले सीजन से हटा देना चाहिए, क्योंकि इसमें कई चीजें गलत हो रही हैं. उन्होंने सुझाव देते हुए कहा, अगर इस प्रतिष्ठित और ऐतिहासिक घरेलू टूर्नामेंट को अगर बचाना है तो इसमें कई चीजों में सुधार करने की जरूरत है. ये टूर्नामेंट अब अपनी चमक और महत्व को खोते जा रहा है. जिससे मैं बहुत ज्यादा निराश और विचलित हो गया हूं."

मनोज तिवारी बाद में लाइव भी आए और घरेलू टूर्नामेंट के खिलाफ भड़ास भी निकालते हुए कहा, 'हम केरल के साथ एक मैदान में खेल रहे हैं, स्टेडियम में नहीं, जबकि वहां सालों पहले एक स्टेडियम बनाया गया था, हमें राज्य के बाहरी इलाके में एक मैदान में खेलने के लिए कहां जा रहा है.

रणजी टूर्नामेंट में खिलाड़ियों की बेसिक जरूरतों की ओर ध्यान खींचने की कोशिश करते हुए मनोज तिवारी ने जमकर  बीसीसीआई को लताड़ा. उन्होंने कहा, रणजी टूर्नामेंट खेलने वाले क्रिकेटरों के ड्रेसिंग रूम ऐसे हैं कि आप हम वहां जाकर बैठकर ठीक से रणनीति भी नहीं बना सकते हैं. कमरा और ड्रेसिंग रूम इतने करीब हैं कि आप सुन सकते हैं कि दूसरे क्या कह रहे हैं. हालांकि बाद में कहा, मुझे उम्मीद है कि भविष्य में इस पर ध्यान दिया जाएगा." 

अचानक चुप्पी साधने वाले मनोज तिवारी ने फिर बीसीसीआई के बारें में कुछ नहीं कहा. यही नहीं, उन्होंने अपने पोस्ट के पीछे की असली कहानी भी नहीं साझा की. वो कहकर चुप हो गए, "मैं अधिक विस्तार से नहीं बता सकता, क्योंकि मैं एक खिलाड़ी और एक राज्य का कप्तान हूं और मुझे बीसीसीआई की आचार संहिता का पालन करना है.. मैं मैच के दौरान सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कह सकता हूं."

ये भी पढ़ें-India vs Australia U19 World Cup 2024 Final: ऑस्ट्रेलिया को मिली चौथी बार जीत, टीम इंडिया को 79 रन से हराया

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • 24X7
Choose Your Destination
Close