विज्ञापन
Story ProgressBack

अरविंद केजरीवाल को 7 दिन की ED हिरासत में भेजा गया, एजेंसी ने दिल्ली CM को बताया शराब घोटाले का 'मुख्य साजिशकर्ता'

Arvind Kejriwal in ED custody: शुक्रवार को केजरीवाल को दिल्ली की राउस एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया. ईडी ने उनकी 10 दिन की रिमांड मांगी थी. राउस एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई के दौरान जांच एजेंसी ईडी ने केजरीवाल को कथित घोटाले में "किंगपिन" और "प्रमुख साजिशकर्ता" बताया.

Read Time: 3 min
अरविंद केजरीवाल को 7 दिन की ED हिरासत में भेजा गया, एजेंसी ने दिल्ली CM को बताया शराब घोटाले का 'मुख्य साजिशकर्ता'
दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल.

Arvind Kejriwal in ED custody: शराब घोटाले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 7 दिन की ईडी हिरासत में भेज दिया गया है. शुक्रवार को दिल्ली की राउस एवेन्यू कोर्ट ने दिल्ली आबकारी नीति मामले (Delhi Liquor Policy Case) में  मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को प्रवर्तन निदेशालय (ED) की सात दिन की रिमांड दे दी. केजरीवाल को गुरुवार रात में ईडी ने गिरफ्तार किया था. उनकी गिरफ्तारी पर दिल्ली सहित पूरे देश में बड़ा सियासी बवाल मचा है. विपक्षी दल लोकसभा चुनाव से पहले केजरीवाल की गिरफ्तारी को राजनीतिक रंजिश के तहत की गई कार्रवाई बता रहे हैं. लेकिन ईडी ने केजरीवाल को शराब घोटाले का मुख्य साजिशकर्ता बताया. 

ईडी ने केजरीवाल को शराब घोटाले का मुख्य साजिशकर्ता बताया

शुक्रवार को केजरीवाल को दिल्ली की राउस एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया. ईडी ने उनकी 10 दिन की रिमांड मांगी थी. राउस एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई के दौरान जांच एजेंसी ईडी ने केजरीवाल को कथित घोटाले में "किंगपिन" और "प्रमुख साजिशकर्ता" बताया. ईडी ने दावा किया है कि अरविंद केजरीवाल 'साउथ ग्रुप', पिछले साल गिरफ्तार किए गए पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया और आम आदमी पार्टी पदाधिकारी विजय नायर सहित अन्य आरोपियों के बीच मध्यस्थ थे.

ईडी का दावा- साउथ ग्रुप से कई करोड़ रिश्वत लिए

आबकारी नीति से जुड़े धन शोधन मामले में ईडी द्वारा गिरफ्तारी के खिलाफ उच्चतम न्यायालय से याचिका वापस लिए जाने के तुरंत बाद केजरीवाल को निचली अदालत में पेश किया गया. ईडी ने राउज एवेन्यू अदालत में विशेष न्यायाधीश कावेरी बावेजा से कहा कि केजरीवाल को दिल्ली आबकारी नीति 2021-22 बनाने और उसे लागू करने के लिए ‘साउथ ग्रुप' से रिश्वत के तौर पर कई करोड़ रुपये प्राप्त हुए.

गोवा चुनाव के लिए आप को 45 करोड़ रुपए हवाला से आए

एजेंसी की ओर से अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल (एएसजी) एस.वी. राजू ने अदालत में कहा कि केजरीवाल ने पंजाब चुनाव लड़ने के लिए ‘साउथ ग्रुप' के कुछ आरोपियों से 100 करोड़ रुपये मांगे थे. उन्होंने कहा कि धन के लेनदेन से पता चला कि गोवा चुनाव में इस्तेमाल की गई 45 करोड़ रुपये की ‘रिश्वत' चार हवाला मार्गों से आई थी. राजू ने कहा कि कॉल डिटेल रिकॉर्ड (सीडीआर) से आरोपियों और गवाहों के बयानों की पुष्टि हुई है.


आम आदमी पार्टी संयोजक को कड़ी सुरक्षा के बीच अपराह्न करीब दो बजे अदालत के समक्ष पेश किया गया. इसके बाद एएसजी राजू ने अदालत से कहा, ‘‘हमने 10 दिन की रिमांड के लिए आवेदन दिया है.'' उन्होंने कहा कि ‘आप' एक व्यक्ति नहीं बल्कि ‘कंपनी' है और ‘‘कंपनी'' के आचरण के लिए जिम्मेदार हर व्यक्ति को जिम्मेदार ठहराया जाएगा.

केजरीवाल की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने दिए दलील

केजरीवाल का पक्ष रखते हुए वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि भारत के इतिहास में यह पहली बार है कि किसी मौजूदा मुख्यमंत्री को गिरफ्तार किया गया है. उन्होंने कहा कि गिरफ्तारी की शक्ति, गिरफ्तारी की आवश्यकता के समतुल्य नहीं है और केजरीवाल को गिरफ्तार किए जाने की आवश्यकता नहीं थी. सिंघवी ने कहा, ‘‘इस मामले में महत्वपूर्ण न्यायिक विवेक के इस्तेमाल की जरूरत है, इसमें लोकतंत्र के बड़े मुद्दे शामिल हैं.''

यह भी पढ़ें -  "मेरा जीवन देश को समर्पित..." : गिरफ्तारी के बाद पहली बार बोले अरविंद केजरीवाल

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close