विज्ञापन
Story ProgressBack

चित्तौड़गढ़ क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी हुई भंग, पूर्व सचिव ने सहकारिता मंत्री के खिलाफ खोला मोर्चा

चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी को भंग कर सहकारिता विभाग ने 5 सदस्यीय एडहॉक कमेटी का गठन भी किया है,

Read Time: 3 mins
चित्तौड़गढ़ क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी हुई भंग, पूर्व सचिव ने सहकारिता मंत्री के खिलाफ खोला मोर्चा

Rajasthan News: राजस्थान में भाजपा की सरकार बनने के बाद राजस्थान क्रिकेट में विवाद दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है. राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन और जोधपुर क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी को भंग करने के बाद अब सरकार ने चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी को भंग कर दिया है. इसके साथ ही सहकारिता विभाग ने 5 सदस्यीय एडहॉक कमेटी का गठन भी किया है, जो अगले 3 महीने में चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन के चुनाव का आयोजन करवाएगी. 

इस कार्रवाई के बाद चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने सहकारिता मंत्री गौतम दक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उनका आरोप है कि परिवार के सदस्यों को एसोशिएशन में शामिल करने के लिए ऐसा किया गया है.

कोर्ट में अपील करने की चेतावनी

चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन पूर्व सचिव शक्ति सिंह राठौड़ ने कहा कि सहकारिता मंत्री की वजह से चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी को भंग किया गया है. वह अपने परिवार के सदस्यों को चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन में शामिल करवाना चाहते थे, ताकि वह उन्हें राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन का चुनाव लड़वा सकें. इसके लिए उन्होंने पूर्व में हुई बैठकों में भी मुझसे कहा था, लेकिन जब मैंने उनकी यह बात नहीं मानी, तो उन्होंने चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी को ही भंग करा दिया. जो पूरी तरह से असंवैधानिक कदम है. ऐसे में अब इस मामले को लेकर मैं कोर्ट में अपील करूंगा. ताकि चित्तौड़गढ़ क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों को न्याय मिल सके. 

शक्ति सिंह राठौड़ चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन के जिला सचिव होने के साथ ही राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन की पूर्व कार्यकारिणी के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं. उन्होंने पूर्व नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ के बेटे पराक्रम सिंह के चूरू में हुए चुनाव विवाद में अपनी ही कार्यकारिणी के खिलाफ जाकर पराक्रम का साथ दिया था. वहीं शक्ति सिंह के बीजेपी के मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष व चित्तौड़गढ़ के निवर्तमान सांसद सीपी जोशी के अच्छे संबंध बताए जाते हैं. ऐसे में शक्ति सिंह और चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन पर हुई कार्रवाई ने आरसीए के सभी जिला संघों के पदाधिकारियों में असमंजस की स्थिति पैदा कर दी है.

एडहॉक प्रदेश के 31 जिला क्रिकेट संघों में अनियमितता की जांक कर रही

दरअसल, राजस्थान सरकार ने पिछले दिनों राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन पर कार्रवाई करते हुए कार्यकारिणी को भंग कर दिया था. इसके बाद एडहॉक कमेटी का गठन किया है. जिसके बाद जोधपुर और चित्तौड़गढ़ जिला क्रिकेट एसोसिएशन को भंग कर एडहॉक कमेटी का गठन कर किया गया है. वहीं सीकर जिला क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारणी से आरसीए के पूर्व सचिव भवानी सामोता को निष्कासित कर दिया गया था. ऐसे में अब एडहॉक प्रदेश के 31 जिला क्रिकेट संघों में हो रही अनियमिताओं और शिकायतों की जांच में जुट गई है.

यह भी पढ़ेंः जानें रविंद्र सिंह भाटी को कौन सी मिली Security? राजपूत समाज ने की थी Z+ सुरक्षा की मांग

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
केंद्र सरकार ने नहीं भेजी ST छात्रों की छात्रवृत्ति, 14964 स्टूडेंट्स दो साल से कर रहे स्कॉलरशिप का इंतजार
चित्तौड़गढ़ क्रिकेट एसोसिएशन की कार्यकारिणी हुई भंग, पूर्व सचिव ने सहकारिता मंत्री के खिलाफ खोला मोर्चा
Mahipal Makrana's wife came forward in dispute with Shiv Singh Shekhawat, said- Fraudulently Called him and Beaten
Next Article
शिव सिंह शेखावत से विवाद मामले में सामने आई महिपाल मकराना की पत्नी, कहा- उन्हें धोखे से बुलाकर मारा
Close
;