विज्ञापन
Story ProgressBack

उम्र 25 साल, विधानसभा चुनाव में हार के बाद भी कांग्रेस ने दिया टिकट, जानिए कौन हैं संजना जाटव

25 साल की संजना जाटव को हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में भी कठूमर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया गया था. अब उन्हें भरतपुर सीट से लोकसभा का टिकट दिया गया है.

Read Time: 3 min
उम्र 25 साल, विधानसभा चुनाव में हार के बाद भी कांग्रेस ने दिया टिकट, जानिए कौन हैं संजना जाटव
भरतपुर सीट से कांग्रेस उम्मीदवार संजना जाटव

Sanjana Jatav: लोकसभा चुनाव 2024 के लिए राजस्थान में कांग्रेस ने 10 सीटों पर अपने उम्मीदवार का ऐलान किया है. वहीं, इन 10 सीटों पर कांग्रेस ने एक महिला उम्मीदवार के नाम की घोषणा की है. यह नाम है संजना जाटव, जिन्हें भरतपुर लोकसभा सीट (Bharatpur Lok Sabha Seat) से टिकट दिया गया है. 25 साल की संजना जाटव को हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में भी कठूमर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया गया था. हालांकि, उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. संजना जाटव को विधानसभा चुनाव में  4 बार से विधायक रहे बाबूलाल बैरवा का टिकट काटकर मैदान में उतारा गया था. अब संजना जाटव को लोकसभा चुनाव में भरतपुर सीट से उम्मीदवार घोषित किया गया है.

बीजेपी ने भरतपुर सीट पर रामस्वरूप कोली पर दांव खेला है. अब उनके खिलाफ कांग्रेस ने युवा महिला नेता संजना जाटव पर भरोसा जताया है. वह इस बार के चुनावों में सबसे कम उम्र की प्रत्याशी हैं.

कौन हैं संजना जाटव

संजना जाटव अलवर जिले के कठूमर तहसील के गांव समूंची की रहने वाली है. हालांकि, संजना जाटव का पीहर भरतपुर जिले के भूसावर में हैं. उनके पति कप्तान सिंह राजस्थान पुलिस में कांस्टेबल हैं. वहीं, संजना अलवर जिला परिषद सदस्य भी रह चुकी है. संजना ने एलएलबी की पढ़ाई की है. वहीं, कुछ समय से कांग्रेस में एक्टिव कार्यकर्ता के तौर पर अपनी भूमिका निभा रही हैं. वह एससी वर्ग के युवा चेहरे के तौर पर उभरी हैं. वहीं, संजना जब प्रियंका गांधी की अभियान लड़की हूं लड़ सकती हूं से जुड़ी तो वह उनकी गुडबुक में शामिल हो गई. प्रियंका गांधी के संपर्क में आने के बाद से उन्हें कांग्रेस में काफी तवज्जो मिलने लगा. संजना जाटव ने विधानसभा चुनाव कठूमर सीट से चुनाव लड़ी थी और बीजेपी प्रत्याशी रमेश खींची से  महज 409 वोट से हार का सामना करना पड़ा था. शायद यही वजह है कि कांग्रेस ने उन पर लोकसभा चुनाव में भी भरोसा जताया है. 

संजना जाटव ने विधानसभा चुनाव में जीत के लिए काफी मेहनत की थी. उन्होंने लगातार कैंपेन किया था. उन्हें काफी जीत की उम्मीद थी. वहीं उन्हें हार मिलने के बाद भी वह क्षेत्र में लगी रहीं. संजना जाटव को पार्टी मंचों पर अपनी बात दमदारी से बात रखते हुए देखा गया है. भरतपुर में प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भरतपुर दौरे के दौरान कह चुके थे कि कांग्रेस पार्टी युवा प्रत्याशी पर भरोसा जताएगी और उन्होंने कार्यकर्ता संवाद में बातो से ही संजना जाटव की ओर इशारा किया था.

भरतपुर सीट पर समीकरण

बता दें, भरतपुर सीट पर कांग्रेस और बीजेपी की जीत हार मिला जुला रहा है. हालांकि पिछले दो बार के चुनाव में यहां बीजेपी ने जीत हासिल की है. बीजेपी को यहां जीत मिलने के बाद भी लगातार उम्मीदवार बदल रही है. 2009 बहादुर सिंह कोली, 2019 में रंजीता कोली ने जीत हासिल की और अब 2024 में रामस्वरूप कोली को उम्मीदवार बनाया है. वहीं, कांग्रेस ने 2009 में रतन सिंह जाटव को टिकट दिया जिन्होंने जीत हासिल की थी. अब एक बार फिर भरतपुर सीट पर चुनाव मैदान में कोली vs जाटव होगा. 

य़ह भी पढ़ेंः कौन हैं IAS तारा चंद मीणा? जिसे कांग्रेस ने दिया है उदयपुर लोकसभा सीट से टिकट

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close