विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan: डेयरी उत्पादों में मिलावट पर सख्त हुए कैबिनेट मंत्री जोराराम कुमावत, पशु चिकित्सकों की भर्ती को लेकर दी जानकारी

राजस्थान विधानसभा में बजट सत्र में पशुपालन मंत्री जोराराम कुमावत ने डेयरी में भ्रष्टाचार, मिलावट, भर्तियों, मोबाइल पशु चिकित्सा इकाई, आर्थिक मजबूती से लेकर मुख्यमंत्री दुग्ध संबल योजना जैसे विषयों पर अपनी बात रखी.

Read Time: 3 mins
Rajasthan: डेयरी उत्पादों में मिलावट पर सख्त हुए कैबिनेट मंत्री जोराराम कुमावत, पशु चिकित्सकों की भर्ती को लेकर दी जानकारी

Rajasthan: राजस्थान विधानसभा में बजट सत्र में गुरुवार को पशुपालन मंत्री जोराराम कुमावत ने 'राजस्थान सहकारी डेयरी संघ लिमिटेड' के वर्ष 2018-19 से 2021-22 तक के वार्षिक प्रतिवेदनों पर अपने विचार विधानसभा पटल पर रखे. उन्होंने डेयरी में भ्रष्टाचार, मिलावट, भर्तियों, मोबाइल पशु चिकित्सा इकाई, आर्थिक मजबूती से लेकर मुख्यमंत्री दुग्ध संबल योजना जैसे विषयों पर अपनी बात रखी.

भ्रष्टाचार और मिलावट किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं-  मंत्री जोराराम कुमावत 

उन्होंने कहा कि डेयरी व्यवसाय में भ्रष्टाचार और मिलावट किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी. और अगर इसको लेकर कोई मामला सामने आता है तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. इसके साथ ही उन्होंने डेयरी व्यवसाय के विस्तार की भी बात कही. उन्होंने कहा कि इसके जरिए किसानों, महिलाओं और युवाओं का आर्थिक सशक्तिकरण हो सकेगा. इसके लिए गांव-गांव तक दूध उत्पादक सहकारी समितियों का नेटवर्क बढ़ाया जाएगा. इसके साथ ही मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री दुग्ध संबल योजना में भ्रष्टाचार कम करने पर भी जोर दिया गया है. उन्होंने बताया कि इसके लिए इस योजना के तहत दी जाने वाली 5 रुपये प्रति लीटर की सब्सिडी अब डीबीटी के माध्यम से सीधे पशुपालक के खाते में ट्रांसफर की जा रही है, जिससे भ्रष्टाचार की कोई गुंजाइश नहीं है. इसके जरिए अब तक 525 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया जा चुका है.

बीमा योजना और आर्थिक सशक्तिकरण के बारे में दी जानकारी

कैबिनेट मंत्री कुमावत ने बीमा योजना और आर्थिक सशक्तिकरण के बारे में भी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार डेयरी के विकास और पशुपालकों के आर्थिक सशक्तिकरण की दिशा में प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है. इसी कड़ी में पशुपालकों के हित में बीमा योजना का दायरा बढ़ाने पर भी विचार कर रही है, जिसके तहत सभी पशुओं का बीमा किया जाएगा. 

पशु चिकित्सालयों में रिक्त पदों को भरने के निर्देश

पिछली सरकार के जरिए लाई गई पशु बीमा योजना विफल हो गई थी. साथ ही उन्होंने पशु चिकित्सालयों में रिक्त पदों पर भर्ती के बारे में भी जानकारी साझा की. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार जल्द ही पशु चिकित्सालयों में रिक्त पदों पर भर्ती करेगी. साथ ही कोर्ट में लंबित 900 पशु चिकित्सकों की भर्ती के मामलों का निपटारा कर जल्द ही नियुक्ति दी जाएगी.
इसके अलावा उन्होंने मोबाइल वेटरनरी यूनिट के बारे में भी बताया कि राज्य सरकार ने अब तक पूरे प्रदेश में 536 मोबाइल पशु चिकित्सा इकाइयां शुरू की हैं. इसके लिए जल्द ही एक कॉल सेंटर शुरू किया जाएगा, जिस पर कॉल करने पर मोबाइल पशु चिकित्सा इकाई बिना किसी देरी के पशुपालक के घर उपचार के लिए पहुंच जाएगी.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
केंद्र सरकार ने नहीं भेजी ST छात्रों की छात्रवृत्ति, 14964 स्टूडेंट्स दो साल से कर रहे स्कॉलरशिप का इंतजार
Rajasthan: डेयरी उत्पादों में मिलावट पर सख्त हुए कैबिनेट मंत्री जोराराम कुमावत, पशु चिकित्सकों की भर्ती को लेकर दी जानकारी
Mahipal Makrana's wife came forward in dispute with Shiv Singh Shekhawat, said- Fraudulently Called him and Beaten
Next Article
शिव सिंह शेखावत से विवाद मामले में सामने आई महिपाल मकराना की पत्नी, कहा- उन्हें धोखे से बुलाकर मारा
Close
;