विज्ञापन
Story ProgressBack

देर रात कलेक्ट्रेट में पहुंचे सीएम भजनलाल, अधिकारियों को दिए सख्त निर्देश, बोले, कार्यालय से एक भी नागरिक निराश नहीं लौटे'

Late Night Meeting of CM Bhajanlal Sharma: मुख्यमंत्री ने संभाग स्तरीय बैठक में चिकित्सा सुविधाओं, कानून-व्यवस्था, बिजली, पेयजल आपूर्ति की स्थिति, जल जीवन मिशन की प्रगति, विकसित भारत संकल्प यात्रा की समीक्षा की और अधिकारियों को नियमित रूप से योजनाओं की मॉनिटरिंग कर फीडबैक लेने के निर्देश दिए.

Read Time: 6 min
देर रात कलेक्ट्रेट में पहुंचे सीएम भजनलाल, अधिकारियों को दिए सख्त निर्देश, बोले, कार्यालय से एक भी नागरिक निराश नहीं लौटे'
देर रात कलेक्ट्रेट में अधिकारियों के साथ मीटिंग में मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा

CM Bhajanlal Sharm Bharatpur Tour: भरतपुर के दो दिवसीय दौरे पर पहुंचे मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा सोमवार देर रात कलेक्ट्रेट सभागार में संभाग स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली. बैठक में अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आमजन को मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता में किसी प्रकार की ढिलाई नहीं बरती जाए.

मुख्यमंत्री ने सभी विभागों को योजना बनाकर गुणवत्ता के साथ समयबद्ध रूप से कार्यों को पूरा करने व प्रदेश को अपराध मुक्त एवं भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए सभी विभागों को समन्वय से कार्य करने के निर्देश दिए. 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रशासन की पहली प्राथमिकता होनी चाहिए कि वह आमजन की शिकायतों का समयबद्ध रूप से गुणवत्तापूर्ण निस्तारण किया जाए. वहीं, भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने का निर्देश देते हुए अधिकारियों को जिला स्तर, उपखण्ड स्तर सहित ग्राम पंचायत स्तर तक के कार्यालयों में औचक निरीक्षण करने के निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने संभाग स्तरीय बैठक में चिकित्सा सुविधाओं, कानून-व्यवस्था, बिजली, पेयजल आपूर्ति की स्थिति, जल जीवन मिशन की प्रगति, विकसित भारत संकल्प यात्रा की समीक्षा की और अधिकारियों को नियमित रूप से योजनाओं की मॉनिटरिंग कर फीडबैक लेने के निर्देश दिए.
आमजन के विश्वास पर खरा उतरना ही हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है. विभागीय काम-काज में गति लाने और लम्बित कार्यों का जल्द निस्तारण के साथ विभागीय स्तर पर कार्य योजना बनाकर लक्ष्यों के अनुरूप कार्य संपादन सुनिश्चित किए जाए. 

भजनलाल शर्मा

मुख्यमंत्री, राजस्थान

जनसुनवाई से आमजन की समस्याओं का करें समाधान

मुख्यमंत्री ने संभाग के सभी जिला कलक्टर व पुलिस अधीक्षकों को नियमित रूप से जन सुनवाई करने के निर्देश देते हुए  कहा कि आमजन की समस्याओं का त्वरित समाधान स्थानीय स्तर पर किया जाना सुनिश्चित करें. साथ ही कहा कि सभी अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि कोई भी नागरिक कार्यालयों से निराश होकर नहीं लौटें.

मुख्यमंत्री ने सभी विभागों को योजना बनाकर गुणवत्ता के साथ समयबद्ध रूप से कार्यों को पूरा करने व प्रदेश को अपराध मुक्त एवं भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए सभी विभागों को समन्वय से कार्य करने के निर्देश दिए.

सभी विभागों में कार्यों का हो निर्धारण

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी विभागों में ऐसी व्यवस्था स्थापित की जाए, जिसमें सभी की भूमिका के साथ कार्य का निर्धारण हो और किए गए कार्यों की मॉनिटरिंग की जाए. उन्होंने कहा कि उच्च अधिकारियों द्वारा समय-समय पर कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया जाए.

जल जीवन मिशन और ग्रामीण सड़कों का विकास

शर्मा ने जल जीवन मिशन के तहत हर घर जल-हर घर नल के सपने को साकार करने के लिए चल रहे प्रोजेक्ट्स को गुणवत्ता व समयबद्धता के साथ पूरा करने के निर्देश दिए. जल जीवन मिशन योजना और ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों की गुणवत्ता की जांच करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि विभागीय कार्य योजना बनाकर ग्रामीण सड़कों का विकास सुनिश्चित किया जाए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार की प्राथमिकता है कि प्रदेश के हर नागरिक को उचित और सुलभ इलाज उसके घर के नजदीक ही प्राप्त हो, इसके लिए हमारी सरकार हर संभव प्रयास कर रही है.

चिकित्सालयों में साफ-सफाई का रखें ध्यान

मुख्यमंत्री ने जिला अस्पतालों, सीएचसी एवं पीएचसी के संबंध में समीक्षा की और विशेष रूप से साफ-सफाई का ध्यान रखने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार की प्राथमिकता है कि प्रदेश के हर नागरिक को उचित और सुलभ इलाज उसके घर के नजदीक ही प्राप्त हो, इसके लिए हमारी सरकार हर संभव प्रयास कर रही है.

अवैध खनन के खिलाफ हो सख्त कार्यवाही

मुख्यमंत्री ने प्रदेश में अवैध खनन के खिलाफ चलाये गए राज्यव्यापी अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि आमजन को राहत पहुंचाना ही हमारी प्राथमिकता है. इसके लिए सभी को मिलकर सामूहिक प्रयास करने होंगे. उन्होंने कहा कि अवैध खनन गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए जिला प्रशासन, पुलिस व खनन विभाग आपसी सामजंस्य के साथ कार्य करें.

राजस्थान को अपराध मुक्त प्रदेश बनाने का संकल्प दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सीमावर्ती होने के कारण संभाग के जिले में अन्य प्रदेशों से अपराधियों के आने-जाने की संभावना रहती है, इसके लिए प्रभावी कदम उठाएं जाएं. साथ ही, सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचना फैलाने वालों के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए,

 राजस्थान को बनाना है अपराध मुक्त प्रदेश 

मुख्यमंत्री ने कहा कि संभाग के जिले सीमावर्ती होने के कारण अन्य प्रदेशों से अपराधियों के आने-जाने की संभावना रहती है, इसके लिए प्रभावी कदम उठाएं. उन्होंने पुलिस अधीक्षकों को प्रदेश में अपराध पर अंकुश लगाने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचनाएं फैलाने वाले लोगों के खिलाफ भी सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए,

बैठक में गृह राज्य मंत्री जवाहर सिंह बेढ़म, विधायक जगतसिंह, शैलेश सिंह, बहादुर सिंह कोली, नौक्षम चौधरी, अतिरिक्त मुख्य सचिव मुख्यमंत्री कार्यालय शिखर अग्रवाल, संभागीय आयुक्त सांवरमल वर्मा, आईजी राहुल प्रकाश, जिला कलक्टर लोकबंधु, जिला पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा सहित संभाग के सभी जिलों के जिला कलक्टर एवं पुलिस अधीक्षक तथा प्रशासनिक एवं विभागीय अधिकारी मौजूद रहे.

ये भी पढ़ें-सीएम बनने के बाद पहली बार अपने पैतृक गांव पहुंचे भजनलाल शर्मा, नंगे पांव घूंमा पूरा गांव

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close