विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में 1 मार्च से अब तक 1031 करोड़ की अवैध जब्ती, 6 जिलों में 40 करोड़ रुपये से अधिक पकड़े गए अवैध सामान

राजस्थान में मार्च महीने की शुरुआत से अब तक नशीली दवाओं, शराब, कीमती धातुओं, मुफ्त बांटी जाने वाली वस्तुओं (फ्रीबीज) और अवैध नकद के रूप में 1000 करोड़ रूपए से अधिक की जब्तियां की हैं. 

राजस्थान में 1 मार्च से अब तक 1031 करोड़ की अवैध जब्ती, 6 जिलों में 40 करोड़ रुपये से अधिक पकड़े गए अवैध सामान

Rajasthan News: लोकसभा चुनाव के मद्दे नजर राजस्थान में करोड़ों की अवैध जब्ती की गई है. राजस्थान में इस लोकसभा चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद से रिकॉर्ड अवैध जब्ती की है. राजस्थान में अलग-अलग एनफोर्समेंट एजेंसियों ने मार्च महीने की शुरुआत से अब तक नशीली दवाओं, शराब, कीमती धातुओं, मुफ्त बांटी जाने वाली वस्तुओं (फ्रीबीज) और अवैध नकद राशि के रूप में 1000 करोड़ रूपए की कीमत से अधिक की जब्तियां की हैं. 

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि प्रदेश में चुनाव को प्रभावित करने के उद्देश्य से संदिग्ध वस्तुओं और धन के अवैध उपयोग पर अलग-अलग एजेंसियां कड़ी निगरानी कर रही हैं. 1 मार्च से अब तक प्रदेश में 1000 करोड़ रूपए से अधिक की जब्ती की गयी है. आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद निर्वाचन विभाग के निर्देश पर 16 मार्च से अब तक एजेंसियों द्वारा पकड़ी गई वस्तुओं की कीमत 900 करोड़ रुपये से ज्यादा है. 1 मार्च से अब तक राजस्थान में 6 जिलों में 40-40 करोड़ रूपये से अधिक मूल्य की संदिग्ध वस्तुएं और नकदी आदि जब्त की गई है. 

किस जिले में कितने करोड़ की जब्ती

जालौर : 68.05 
जोधपुर : 47.38  
चूरू : 43.51 
गंगानगर : 42.39
भीलवाड़ा : 41.97
जयपुर : 41.36 
पाली : 39.67
डूंगरपुर : 39.32 
दौसा : 38.54 
उदयपुर : 36.35 
बाड़मेर : 36.71
झुंझुनूं : 36.55 

मुख्य निर्वाचन अधिकारी गुप्ता ने बताया कि अलग-अलग एजेंसियों की ओर से प्राप्त रिपोर्टों के अनुसार, इस वर्ष 1 मार्च से अब तक लगभग 40 करोड़ रुपये नकद, 179.67 करोड़ रुपये मूल्य की ड्रग्स, 45.94 करोड़ रुपये से अधिक कीमत की शराब और लगभग 51.56 करोड़ रुपये मूल्य की सोना-चांदी जैसी कीमती धातुओं की जब्ती की गई है. साथ ही, 680.02 करोड़ रुपये से ज्यादा कीमत की अन्य सामग्री तथा लगभग 90 लाख रुपये मूल्य की मुफ्त वितरण की वस्तुएं (फ्रीबीज) भी जब्त की गई हैं.

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि संदिग्ध वस्तुओं के अवैध परिवहन पर कार्रवाई करने वाली कार्यकारी एजेंसियों में राज्य पुलिस, राज्य एक्साइज, नारकोटिक्स विभाग एवं आयकर विभाग प्रमुख हैं. इन जांच एवं निगरानी एजेंसियों और विभागों द्वारा प्रदेश भर में आचार संहिता की अवधि के दौरान कड़ी निगरानी रखी जा रही है और किसी भी संदेहास्पद मामले पर नियमानुसार कार्रवाई की जा रही है.

यह भी पढ़ेंः विधानसभा अध्यक्ष की बड़ी कार्रवाई, लाखों की घूसखोरी करने वाले कर्मचारी को किया निलंबित

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राजस्थान के इन दो जिलों में 15 दिन बाद क्यों होती है सावन माह की शुरुआत? जानिए इसके पीछे की वजह
राजस्थान में 1 मार्च से अब तक 1031 करोड़ की अवैध जब्ती, 6 जिलों में 40 करोड़ रुपये से अधिक पकड़े गए अवैध सामान
Bundi Nainwa post office Employee fraud crores rupees from more than 20 account holders and invested all money in share market
Next Article
Rajasthan: पोस्ट ऑफिस कर्मचारी ने 20 से अधिक खाताधारकों के हड़पे करोड़ों रुपये, सारा पैसा शेयर मार्केट में किया इन्वेस्ट
Close
;