विज्ञापन
Story ProgressBack

जोधपुर: SN मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल में इंटर्न स्टूडेंट की मौत से हड़कंप, सामने आई ये वजह

बताया जाता है कि हर्ष टॉक नशे का आदी हो गया था, और उसे नशा छुड़वाने के लिये कुछ दिन रिहेबिलिटेशन सेंटर में भी रखा गया था. 10 दिन पहले ही उसके पिता उसे हॉस्टल में छोड़कर गए थे.

Read Time: 3 min
जोधपुर: SN मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल में इंटर्न स्टूडेंट की मौत से हड़कंप, सामने आई ये वजह
मृतक हर्ष टॉक (फाइल फोटो)

Rajasthan News: राजस्थान के जोधपुर शहर में स्थिति डॉ सम्पूर्णानंद मेडिकल कॉलेज (SNMC) के इंटर्न स्टूडेंट की सोमवार को हॉस्टल में मौत हो गई. जयपुर के रामनगर, सोढाला निवासी हर्ष टॉक 2016 बैच का स्टूडेंट था. जानकारी के अनुसार, हर्ष के पिता नन्द किशोर टॉक सोमवार को लगातार उसे फोन कर रहे थे, लेकिन कोई जवाब नहीं आने पर उन्होंने हर्ष के साथियों को फोन किया. 

दोस्तों ने मिलकर तोड़ा दरवाजा

इसके बाद हर्ष टॉक के कमरे पर उसके साथी पहुंचे. उन्होंने हर्ष के कमरे का दरवाजा खटखटाया, लेकिन काफी देर बाद भी दरवाजा नहीं खुला, और अंदर से कोई प्रतिक्रिया भी नहीं आई. इसके बाद कुछ स्टूडेंट्स ने मिलकर गेट को तोड़ दिया. जब दरवाजा खुला तो देखा कि हर्ष टॉक बेड पर पड़ा है, और उसके नाक से खून निकल रहा है. जिस तरह से हर्ष का शव पड़ा था, ऐसा लग रहा था की संभवतः नशीले पदार्थ की ओवर डोज के कारण यह सब कुछ हुआ है. लेकिन विस्तृत रिपोर्ट पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगी.

10-12 घंटे पहले हो गई थी मौत

हर्ष टॉक के एन चेस्ट हॉस्पिटल में बने इंटर हॉस्टल में रह रहा था. वहां मौजूद स्टूडेंट और फैकल्टी जब हर्ष के रूम के अंदर गए तो वहां पर उन्होंने हर्ष टॉक को बेड पर पड़ा देखा था. वहीं उल्टी और नाक से खून आना और उसके शरीर से बदबू भी आने लगी थी. हर्ष को देखकर ऐसा लग रहा था कि 10 से 12 घंटे पहले उसकी मौत हो चुकी थी.

मौके पर पहुंचीं प्रिंसिपल और पुलिस

हर्ष की अगर बात की जाए तो मेडिकल की पढ़ाई के मामले व एवरेज स्टूडेंट था और वह 2 साल की रिमांडेड बैच में था. देर रात को स्टूडेंट्स ने हॉस्टल वार्डन को फोन किया. जिसके बाद प्रिंसिपल मेडिकल कॉलेज डॉक्टर रंजना देसाई, अतिरिक्त प्राचार्य डॉक्टर अरुण वैश्य, डॉ राजकुमार राठौर सहित वार्डन अशोक कुमार मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी.

10 दिन पहले रिहेबिलिटेशन सेंटर से लौटा

देव नगर थाना अधिकारी छतर सिंह देवड़ा ने बताया कि देर रात को सूचना मिलने के साथ ही हर्ष टॉक के शव को अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है. वहीं उनके परिजनों को सूचना दे दी गई है. परिजनों के आने के बाद उसका पोस्टमार्टम करवाया जाएगा. बताया जाता है कि हर्ष टॉक नशे का आदी हो गया था, और उसे नशा छुड़वाने के लिये कुछ दिन रिहेबिलिटेशन सेंटर में भी रखा गया था. 10 दिन पहले ही उसके पिता उसे हॉस्टल में छोड़कर गए थे. वहीं हर्ष टाक ने रविवार शाम को अपने साथियों के साथ खाना भी खाया था.

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close