विज्ञापन
Story ProgressBack

Dausa Lok Sabha Seat: दौसा से 2 नहीं 4 मीणा प्रत्याशी हैं मैदान में, पायलट के गढ़ में किसका पलड़ा होगा भारी? समझे सियासी समीकरण

Loksabha Election 2024: दौसा लोकसभा सीट पर इस बार का चुनाव बेहद खास होने वाला है. सभी की नजर कांग्रेस और बीजेपी पर टिकी हुई है.

Read Time: 3 min
Dausa Lok Sabha Seat: दौसा से 2 नहीं 4 मीणा प्रत्याशी हैं मैदान में, पायलट के गढ़ में किसका पलड़ा होगा भारी? समझे सियासी समीकरण
भाजपा से कन्हैयालाल मीणा और कांग्रेस से मुरारी लाल मीणा की तस्वीर (फाइल फोटो)

Rajasthan News: दौसा लोकसभा क्षेत्र में होने वाले चुनाव की गणित को समझना वैसे तो आसान नहीं है. लेकिन हम आपको पिछले कुछ चुनाव की गणित समझा देते हैं. दौसा राजस्थान की बहुचर्चित  लोकसभा सीट है, जहां कांग्रेस और भाजपा में सीधा मुकाबला होगा. दोनों ही पार्टियों ने प्रचार प्रसार में अपनी ताकत झोंक दी है. दोनों ही राष्ट्रीय पार्टी भाजपा-कांग्रेस के दलों में बड़े नेताओं की नजर टिकी हुई है, साथ ही यह ऐसी लोकसभा सीट है जहां बीजेपी के डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा और कांग्रेस के सचिन पायलट की प्रतिष्ठा की सीट भी बनी है.

लोकसभा चुनाव 2024: ये 5 प्रत्याशी हैं मैदान में

  • भाजपा से कन्हैयालाल मीणा
  • कांग्रेस से मुरारी लाल मीणा
  • निर्दलीय प्रत्याशी मोहन लाल मीणा
  • निर्दलीय प्रत्याशी डॉ. रामस्वरूप मीणा
  • बसपा से सोनू कुमार धानका
  • 2 सगे भाईयों के बीच हुआ चुनाव

    चुनावी साल 2014 में यहां रोचक मुकाबला हुआ था. 2 सगे भाइयों को चुनाव लड़ाया गया था, एक भाई कांग्रेस और दूसरा भाई भाजपा से उम्मीदवार बनकर चुनाव मैदान में उतारा था. कांग्रेस नमो नारायण मीणा तत्कालीन वित्त मंत्री और भाजपा से हरीश चंद्र मीणा को चुनाव मैदान उतारा था. जिसमें भाजपा के हरीशचंद्र मीणा की जीत दर्ज हुई.

    जब जसकौर मीणा बनीं सांसद

    अब समझिए वर्ष 2019 की गणित कांग्रेस ने मुरारीलाल मीणा की पत्नी सविता मीना को चुनाव में उतारा और भाजपा ने जसकौर मीणा को चुनाव, जिसमें वर्ष 2019 में जसकौर मीणा ने सविता मीणा को 78444 मतों हार का सामना करना पड़ा और बीजेपी की जसकौर मीणा सासंद बनी जो सवाई माधोपुर जिले की रहने वाली है.

    मुरारी लाल और कन्हैया लाल में है टक्कर 

    भाजपा प्रत्याशी कन्हैयालाल मीणा भी कम नहीं है, 4 बार बस्सी विधानसभा से विधायकी के साथ मंत्री भी रह चुके हैं. कन्हैयालाल मीणा भाजपा की भैरोसिंह शेखावत सरकार में मंत्री रहे हैं, कन्हैया लाल मीणा की छवि भी राजनीति के क्षेत्र में साफ सुथरी मानी जाती है. दौसा लोकसभा सीट पर सीधी टक्कर भाजपा के कन्हैया लाल मीणा और कांग्रेस से प्रत्याशी मुरारी लाल मीणा मे होगी और कड़ा मुकाबला चुनाव होगा. क्यों कि यह सीट एसटी है और मीना मतदाताओं का इस सीट पर अच्छा खासा दखल रहता है और दोनों भाजपा और कांग्रेस प्रत्याशी ST सीट होने के नाते मीणा समाज से आते हैं.

    8 विधानसभा है शामिल

    दौसा लोकसभा सीट पर पहले चरण में 19 अप्रैल को मतदान होना है. दौसा लोकसभा क्षेत्र में आठ विधानसभा शामिल है, जो बस्सी चाकसू , थानागाजी, बांदीकुई, दौसा, लालसोट, सिकराय, महवा जिनमें मतदाताओं की संख्या 1903520 लाख हैं. आप जेंडर के हिसाब से देखा जाए तो पुरुष 1007203 महिला 896313 ट्रांसजेंडर 04 संख्या है ‌और यहां बूथ 1965 बनाए हैं 

    वर्ष 2019 में 1730289 मतदाता थे कुल बूथ 1954

    वर्ष 2019 में भाजपा सांसद जसकौर मीणा कुल 548733 मत मिले थे. जबकि कांग्रेस प्रत्याशी सविता मीणा 470289 मत मिले थे. हार का अंतर 78444 मतों से रहा. ‌वोट प्रतिशत 62% था. वर्ष 2024 में लगभग 19 लाख मतदाता कुल बूथ 1965 पर अपना मतदान का प्रयोग करेंगे. 

    प्रमुख मुद्दे 

  • बेरोजगारी
  • गरीबों को मिले योजना का ळाभ
  • महिला सुरक्षा को लेकर सरकार नया कानून बनाए
  • ये भी पढ़ें- SI Paper Leak Case में SOG ने 15 और ट्रेनी SI को हिरासत में लिया, 15 सब इंस्पेक्टर पहले हो चुके गिरफ्तार

    Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

    फॉलो करे:
    switch_to_dlm
    Our Offerings: NDTV
    • मध्य प्रदेश
    • राजस्थान
    • इंडिया
    • मराठी
    • 24X7
    Choose Your Destination
    Close