विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajasthan Politics: जीत या हार तय करेगी महेंद्रजीत सिंह मालवीया का राजनीतिक भविष्य, दोहरी परीक्षा करनी होगी पास

Lok Sabha Election 2024: यदि इन चुनाव में मालवीया को जीत हासिल होती है तो माना जा रहा है कि उनको केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी स्थान मिल सकता है क्योंकि अभी तक एक बार भी बांसवाड़ा डूंगरपुर क्षेत्र के सांसद को केंद्रीय मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिला है.

Read Time: 3 mins
Rajasthan Politics: जीत या हार तय करेगी महेंद्रजीत सिंह मालवीया का राजनीतिक भविष्य, दोहरी परीक्षा करनी होगी पास

Rajasthan News: चार जून को बांसवाड़ा डूंगरपुर लोकसभा चुनाव के लिए होने वाली मतगणना के दौरान यदि किसी का दिल सबसे अधिक धड़क रहा होगा तो वह होंगे कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हुए महेंद्रजीत सिंह मालवीया का. करीब चालीस साल तक जिले की राजनीति में एक छत्र राज करने वाले और कांग्रेस की सबसे बड़ी सीडब्ल्यूसी के सदस्य रहे और कई बार मंत्री रहे मालवीया की भविष्य की राजनीति इस लोकसभा चुनाव के परिणामों पर निर्भर करेगी. मालवीया ने अपने राजनीतिक जीवन में कभी हार का सामना नहीं किया है. ऐसे में देखना होगा कि चार जून की दोपहर उनके राजनीतिक जीवन का क्या फैसला करेगी.

मालवीया के सामने दो तरफा परीक्षा की घड़ी

भाजपा प्रत्याशी महेंद्रजीत सिंह मालवीया के सामने खुद के तो चुनाव जीतने की परीक्षा है ही, वहीं उनके द्वारा खाली की गई बागीदौरा विधानसभा उप चुनाव में उनके समर्थक भाजपा प्रत्याशी सुभाष तंबोलिया की जीत या हार का सेहरा भी उनके ही सिर पर सजेगा. ऐसे में जहां उन्हें खुद की जीत के साथ साथ सुभाष तंबोलिया की जीत के लिए भी कड़ी परीक्षा से गुजरना पड़ेगा. मालवीया को भारत आदिवासी पार्टी के प्रत्याशी राजकुमार रोत से लोकसभा चुनाव में कड़ी टक्कर मिली है, जिसके चलते मालवीया की जीत के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी सभा करनी पड़ी. मालवीया यदि लोकसभा चुनावों में जीत हासिल करते हैं तो निश्चित रूप से उनका कद राष्ट्रीय स्तर तक पहुंच जाएगा. ऐसी संभावना जताई जा रही है. वहीं उप चुनाव के प्रत्याशी सुभाष तंबोलिया को जीत हासिल होगी तो उनका भी कद प्रदेश की राजनीति में बढ़ेगा.

केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी मिल सकती है जगह

भाजपा प्रत्याशी महेंद्रजीत सिंह मालवीया इससे पूर्व भी कांग्रेस पार्टी की ओर से बांसवाड़ा डूंगरपुर लोकसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. लेकिन तब उनका संसदीय कार्यकाल महज 11 महीने का ही रहा था, क्योंकि अटल बिहारी वाजपेई की सरकार 11 माह बाद एक वोट से गिर गई थी. यदि इन चुनाव में मालवीया को जीत हासिल होती है तो माना जा रहा है कि उनको केंद्रीय मंत्रिमंडल में भी स्थान मिल सकता है क्योंकि अभी तक एक बार भी बांसवाड़ा डूंगरपुर क्षेत्र के सांसद को केंद्रीय मंत्रिमंडल में स्थान नहीं मिला है.

ये भी पढ़ें:- सलमान खान पर हमले की साजिश का खुलासा, पनवेल फार्महाउस के बाहर अटैक की प्लानिंग, PAK से आए थे हथियार

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राजस्थान में 88 लाख पेंशनर्स के खाते में डाले जाएंगे 1038 करोड़ रुपये, 27 जून को बढ़ी हुई राशि का होगा सीधा हस्तांतरण
Rajasthan Politics: जीत या हार तय करेगी महेंद्रजीत सिंह मालवीया का राजनीतिक भविष्य, दोहरी परीक्षा करनी होगी पास
Gravel mafias attacked police in Dholpur, miscreants ran into ravines of Chambal after firing
Next Article
Dholpur News: धौलपुर में बजरी माफियाओं ने पुलिस पर किया हमला, फायरिंग करते हुए चंबल के बीहड़ों में भागे बदमाश
Close
;