विज्ञापन
Story ProgressBack

13 दिन पहले भाजपा में शामिल हुए, 13 महीने सांसद रहे मालवीया की 13 मार्च को फिर खुलेगी किस्मत? जानें 13 अंकों का दिलचस्प संयोग

Magic 13th Number of Malviya: of 13 दिन पहले कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए मालवीया के जीवन में 13 अंक का संयोग काफी मायने रखता है. 13 महीने की अटल सरकार में 13 महीने तक सांसद रहे महेंद्रजीत सिंह मालवीया के जीवन में एक बार चमत्कारिक 13 अंक आ सकता है, जब आयोग चुनाव अधिसूचना जारी करेगी.

Read Time: 3 min
13 दिन पहले भाजपा में शामिल हुए, 13 महीने सांसद रहे मालवीया की 13 मार्च को फिर खुलेगी किस्मत?  जानें 13 अंकों का दिलचस्प संयोग
महेंद्र सिंह मालवीया (फाइल फोटो)

Loksabha Election 2024: लोकसभा चुनाव 2024 की तैयारियां पक्ष और पक्ष की ओर जमकर चल रही है. माना जा  रहा है कि चुनाव आयोग आगामी 13 मार्च को चुनाव की तारीखों की घोषणा कर सकती है. ऐसे में भारतीय जनता पार्टी की ओर से बांसवाड़ा डूंगरपुर लोकसभा क्षेत्र के लिए घोषित प्रत्याशी महेंद्रजीत सिंह मालवीया के 13 अंक के उनके अद्भुत संयोग लेकर चर्चा ए आम है.. 

13 दिन पहले कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए मालवीया के जीवन में 13 अंक का संयोग काफी मायने रखता है. 13 महीने की अटल सरकार में 13 महीने तक सांसद रहे महेंद्रजीत सिंह मालवीया के जीवन में एक बार 13 अंक फिर आ सकता है, जब आयोग चुनाव अधिसूचना जारी करेगी.

13 मार्च को अधिसूचना जारी कर सकता है चुनाव आयोग

18 वीं लोकसभा चुनावों के लिए अनुमान लगाया जा रहा है कि निर्वाचन आयोग 13 मार्च को अधिसूचना जारी करेगा. इसी के मद्देनजर संभवतः लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपनी पहली सूंची जारी कर दी है, जिसमें बांसवाड़ा डूंगरपुर लोकसभा क्षेत्र चुनाव के लिए 13 दिन पूर्व भाजपा में शामिल हुए कांग्रेस के कद्दावर नेता मालवीया को प्रत्याशी घोषित किया गया.

13 महीने तक ही सांसद रह सके थे मालवीया

इससे पहले महेंद्रजीत सिंह मालवीया कांग्रेस से सांसद निर्वाचित हुए थे. हालांकि उनकी सांसदी महज 13 महीने में चली गईं, क्योंकि अटल सरकार 13 महीने में सत्ता से बाहर हो गई थी, जिससे संसद भंग कर दी गई. दरअसल, 13 महीने पुरानी एनडीए सरकार के खिलाफ अप्रैल 1999 लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव लाया गया था और वाजपेई सरकार का विश्वास प्रस्ताव 269 के मुकाबले 270 वोटों से गिरा था.

1998 में मालवीया ने कांग्रेस पार्टी की ओर से लोकसभा चुनाव लड़ा था. उन्होंने भाजपा उम्मीदवार लक्ष्मी निनामा को हराया था. मालवीया ने भाजपा उम्मीदवार को 1 लाख 14 हजार 517 वोटों से हराया था. इस चुनाव में मालवीया को कुल 3 लाख 23 हज़ार 588 वोट मिले थे. 

अब फिर मिला मौका, मंत्री की दावेदारी भी

पहले कांग्रेस पार्टी की ओर से महेंद्रजीत सिंह मालवीया सांसद चुने गए थे और उन्हें भारतीय जनता पार्टी की ओर से लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी घोषित किया है. अगर मालवीया निर्वाचित घोषित होते हैं तो पूरी संभावना जताई जा रही है कि उन्हें केंद्र सरकार की केबिनेट मंत्री बनाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें-Loksabha Eelection 2024: भाजपा के लिए आसान नहीं होगा लोकसभा चुनाव, राजस्थान में अपने ही बागी नेताओं ने घिर गई पार्टी

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close