विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स ने दिल्ली के इनामी गैगस्टर को धर दबोचा, रखता था बाउंसर्स की टीम

निर्मल सिंह नाम के अपराधी ने करीब 8 महीने पहले दिल्ली के एक ज्वैलर से फिल्मी स्टाइल में लाखों के जेवर और नकदी लूट के मामले में फरार चल रहा था. जिसे राजस्थान एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स ने पकड़ा.

Read Time: 3 min
राजस्थान एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स ने दिल्ली के इनामी गैगस्टर को धर दबोचा, रखता था बाउंसर्स की टीम
दिल्ली का इनामी गैंगस्टर को राजस्थान में पकड़ा गया.

Rajasthan News: राजस्थान की एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स पुलिस मुख्यालय की टीम ने दिल्ली से फरार एक इनामी गैंगस्टर को धर दबोचा है. निर्मल सिंह नाम के अपराधी ने करीब 8 महीने पहले दिल्ली के एक ज्वैलर से फिल्मी स्टाइल में लाखों के जेवर और नकदी लूट के मामले में फरार चल रहा था. उसे पकड़ने के लिए पुलिस ने 5 हजार रुपये के इनाम रखा था. वहीं, अब गैंगस्टर निर्मल सिंह जो भैंसलाना थाना सरुण्ड जिला कोटपूतली-बहरोड का रहने वाला उसे पकड़ कर दिल्ली पुलिस को सुपुर्द कर दिया है.

निर्मल सिंह ने बना रखी थी 15-20 बाउंसर्स की टीम

क्राइम ब्रांच के एसपी करण शर्मा बताया कि एजीटीएफ के हेड कांस्टेबल सोहन सिंह एवं कांस्टेबल मुकेश कुमार को सूचना मिली कि कोटपूतली बहरोड के आसपास 15-20 बाउंसर्स ने एक गैंग बना रखी है. जो धमकी देकर अवैध वसूली करने, अवैध बजरी के खनन, मारपीट कर लूटपाट एवं चोरी आदि अवैध कार्यों में संलिप्त है. थाना सरुण्ड निवासी निर्मल सिंह इस गैंग का सरगना है, जो अभी किसी बड़ी वारदात करने की फिराक में है. इस सूचना पर एसपी शर्मा के निर्देशन, एजीटीएफ के एडिशनल एसपी विद्या प्रकाश के सुपरविजन एवं एएसआई बनवारी लाल के नेतृत्व में हेड कांस्टेबल सोहन सिंह, पर्वत सिंह, कांस्टेबल जितेंद्र सिंह और मुकेश कुमार की टीम गठित कर आसूचना को डवलप करने कोटपूतली बहरोड जिले की ओर रवाना किया गया. सूचना पुख्ता होने पर स्थानीय पुलिस के साथ घेराबंदी कर बदमाश निर्मल सिंह को पकड़ने का प्रयास किया गया तो निर्मल सिंह वहां से भाग निकला.

फिल्मी स्टाइल में की व्यापारी से लूटपाट 

एजीटीएफ के एडिशनल एसपी विद्या प्रकाश ने बताया कि करीब 8 महीने पहले निर्मल सिंह और उसकी गैंग के अन्य सदस्यों ने दिल्ली में एक ज्वैलर की गाड़ी का पीछा कर फिल्मी स्टाइल में व्यापारी की गाड़ी के आगे अपनी गाड़ी लगाकर रुकवाया और गन पॉइन्ट पर सोने-चांदी के जेवरात और नगदी लूट ली. बाउंसर का काम करने वाले गैंगस्टर निर्मल सिंह ने व्यापारी से लूट के बाद मिले जेवर और नकदी से एक थार गाड़ी, एक बुलेट बाइक, एक आईफोन खरीदने के साथ अपने मकान का काम करवाया, साथ ही अपने जीजा को भी बोलेरो जीप दिलवाई. जयपुर ग्रामीण जिले के थाना प्रागपुरा में भी मुकदमा दर्ज है.

पार्ट टाइम करता है बाउंसर का काम 

आरोपी गैंगस्टर पार्ट टाइम में बाउंसर का काम करता है. जयपुर की बड़ी होटल, क्लब, शहर में होने वाले विभिन्न इवेंट्स इत्यादि में पार्ट टाइम बाउंसर का काम करता है. अवैध वसूली, बजरी खनन, लूटपाट, चोरी जैसे अवैध कार्यों में संलिप्त है. पकड़ने के बाद जब टीम इस गाड़ी से ला रही थी. तब भी इसने तीन बार गाड़ी का गेट खोल कर भागने का प्रयास किया. लेकिन असफल रहा.

यह भी पढ़ेंः जयपुर एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी, मचा हड़कंप; जवानों ने दो घंटे तक चलाया सर्च ऑपरेशन

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close