विज्ञापन
Story ProgressBack

राजस्थान में शिक्षकों के रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाने की तैयारी, CM भजनलाल शर्मा ने दिए बड़े संकेत

Rajasthan Teachers Retirement Age: राजस्थान में शिक्षकों के रिटायरमेंट की उम्र सीमा बढ़ाने की तैयारी चल रही है. जल्द ही प्रदेश के शिक्षकों को बड़ी गुड न्यूज मिल सकती है. शिक्षकों की सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा बढ़ाए जाने की तैयारी पर मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने शुक्रवार को बड़ा बयान दिया है.

राजस्थान में शिक्षकों के रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाने की तैयारी, CM भजनलाल शर्मा ने दिए बड़े संकेत
राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा.

Rajasthan Teachers Retirement Age: राजस्थान के शिक्षकों के लिए एक बड़ी खुशखबरी है. प्रदेश की भजनलाल शर्मा सरकार शिक्षकों के रिटायरमेंट की उम्र सीमा बढ़ाने की तैयारी में है. अभी प्रदेश में शिक्षकों के रिटायरमेंट की उम्र सीमा 60 वर्ष निर्धारित है. इसे बढ़ाकर 65 साल किया जा सकता है. मुख्यमंत्री के स्तर पर इस पर मंथन जारी है. जल्द ही इसपर कोई बड़ा फैसला हो सकता है. यदि ऐसा होता है कि प्रदेश के लाखों शिक्षकों की नौकरी 5 साल और बढ़ जाएगी. इससे प्रदेश की लाखों परिवार की आय में बढ़ोतरी भी होगी. मालूम हो कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने शिक्षकों के रिटायरमेंट एज को बढ़ाने के प्रस्ताव पर चल रहे मंथन पर खुद बड़ी जानकारी दी है. 

रिटायरमेंट एज बढ़ाने के साथ-साथ हर साल प्रमोशन पर भी मंथन

21 जून को योग दिवस के मौके पर सुबह में योगाभ्यास करने के बाद मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा जयपुर में आयोजित अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के प्रांतीय अधिवेशन में शामिल होने पहुंचे. इस अधिवेशन में बड़ी संख्या में शिक्षक भी शामिल थे. इसी कार्यक्रम में सीएम भजनलाल शर्मा ने कहा, "हमारी सरकार कॉलेज में शिक्षकों के रिटायरमेंट की आयु सीमा को बढ़ाकर 65 वर्ष करने पर भी मंथन कर रही है. इसके साथ ही प्रत्येक विभाग में हर साल कर्मचारियों का प्रमोशन हो, उन्हें मूलभूत सुविधाएं मिल सकें. इसको लेकर हमारी सरकार प्रतिबद्ध है."

मालूम हो कि पिछली गहलोत सरकार के दौरान भी शिक्षकों की रिटायरमेंट की आयु को बढ़ाने की माँग उठी थी. वर्तमान में राजस्थान में शिक्षा विभाग में प्रिंसिपल, लेक्चरर, लाइब्रेरियन और प्रशासनिक कर्मचारियों की वर्तमान सेवानिवृत्ति आयु 60 वर्ष है.

हर महीने सरकारी नौकरी के लिए निकलेगी भर्ती

इससे पहले अखिल भारतीय राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ के 62वें प्रांतीय अधिवेशन के उद्घाटन समारोह में शुक्रवार को बोलते हुए राजस्थान के सीएम भजनलाल शर्मा (Bhajan Lal Sharma) ने बड़ा ऐलान किया है. मुख्यमंत्री ने कहा, 'हम अब किसी भी विभाग में वैकेंसी खाली नहीं होने देंगे. सभी विभाग के उच्च अधिकारियों को कह दिया गया है कि वे कर्मचारी के रिटायरमेंट पर पद खाली होते ही लिस्ट तैयार करें और हर महीने भर्तियां निकालें.'

सीएम ने कांग्रेस सरकार के काम पर उठाए सवाल

कार्यक्रम में सीएम ने प्रदेश की पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला. सीएम ने गहलोत सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए कहा- कांग्रेस ने जहां टीचर नहीं थे, वहां स्कूल खोल दिए. जहां प्रोफेसर नहीं थे, वहां कॉलेज खोल दिए. प्रदेश के कॉलेजों में आज स्टूडेंट्स की संख्या 11, 15 और 20 है. जो कांग्रेस सरकार के कारनामों की पोल खोलती है. जल जीवन मिशन में भी पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने काले कारनामे कर दिए, जिसका नुकसान अब जनता उठा रही है.

यह भी पढ़ें - राजस्थान में अब हर महीने मिलेगी सरकारी नौकरी, सीएम भजनलाल शर्मा ने निकाला फॉर्मूला

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
हनुमान मंदिर में फेंकी गईं मरी हुई मछलियां, लोगों में आक्रोश, पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे
राजस्थान में शिक्षकों के रिटायरमेंट की उम्र बढ़ाने की तैयारी, CM भजनलाल शर्मा ने दिए बड़े संकेत
City president of Congress and two others Arrested in case of assault of Engineer of water supply department in Bundi
Next Article
Bundi News: जनता के लिए पानी मांगना कांग्रेस नेता को पड़ा भारी, बूंदी पुलिस ने पार्षद सहित 3 को किया गिरफ्तार
Close
;