विज्ञापन
Story ProgressBack

Rajya Sabha nomination: बीजेपी उम्मीदवार मदन राठौड़ और चुन्नीलाल गरासिया ने भरा पर्चा

Rajya Sabha Election: राज्यसभा की 3 सीटों के लिए राजस्थान विधानसभा में 27 फरवरी को मतदान होना है. भाजपा, कांग्रेस, निर्दलीय व अन्य दलों के प्रत्याशियों की संख्या के हिसाब से राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी के 2 व कांग्रेस के 1 प्रत्याशी का निर्विरोध निर्वाचित होना तय है

Read Time: 3 mins
Rajya Sabha nomination: बीजेपी उम्मीदवार मदन राठौड़ और चुन्नीलाल गरासिया ने भरा पर्चा
विधानसभा में राज्यसभा के पर्चा भरते हुए बीजेपी प्रत्याशी मदन राठौड़ और चुन्नीलाल गरासिया

BJP Candidate Rajya Sabha Nomination: राजस्थान से चुने गए भाजपा के दोनों उम्मीदवार मदन राठौड़ और चुन्नीलाल गरासिया ने गुरूवार को राज्यसभा के लिए नामांकन भर दिया. दोनों उम्मीदवारों ने विधानसभा पहुंचकर अपना नामांकन दाखिल किया. बुधवार को सोनिया गांधी ने राजस्थान से राज्यसभा उम्मीदवार के तौर पर नामांकन किया था.

राजस्थान की दो राज्यसभा सीटों के लए चुन्नीलाल गरासिया व मदन राठौड़ की राज्यसभा उम्मीदवारी पर केंद्रीय चुनाव समिति ने मुहर लगाई थी. हालांकि बीजेपी नेता अलका गुर्जर, भूपेंद्र यादव, ओमप्रकाश माथुर, सतीश पूनिया और राजेंद्र राठौड़ भी रेस थे.
राज्यसभा के लिए नामांकन भरते हुए बीजेपी कैंडीडेट चुन्नी लाल गरासिया

राज्यसभा के लिए नामांकन भरते हुए बीजेपी कैंडीडेट चुन्नी लाल गरासिया

गौरतलब है देश में 15 राज्यों में राज्यसभा के 56 सदस्यों का चुनाव के लिए नामांकन का आज आखिरी दिन है. 56 सदस्यों में राजस्थान से 3 सदस्य चुनकर राज्यसभा जाएंगे, इनमें दो सीटों के लिए बीजेपी से उम्मीदवार मदन राठौड़ और चुन्नीलाल गरासिया आज पर्चा भरा है, जबकि कांग्रेस से सोनिया गांधी ने कल पर्चा भरा हैं.  

राज्यसभा की 3 सीटों के लिए राजस्थान विधानसभा में 27 फरवरी को मतदान होना है. भाजपा, कांग्रेस, निर्दलीय व अन्य दलों के प्रत्याशियों की संख्या के हिसाब से राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी के 2 व कांग्रेस के 1 प्रत्याशी का निर्विरोध निर्वाचित होना तय है.
राजस्थान से राज्यसभा के लिए नामांकन करते बीजेपी प्रत्याशी मदन राठौड़

राजस्थान से राज्यसभा के लिए नामांकन करते बीजेपी प्रत्याशी मदन राठौड़

कौन है चुन्नीलाल गरासिया

उदयपुर ग्रामीण से 2 बार विधायक रह चुके चुन्नीलाल गरासिया भेरूसिंह शेखावत की सरकार में पहली बार विधायक चुने गए और उन्हें चिकित्सा राज्य मंत्री और खान राज्य मंत्री बनाया गया था. मूल रूप से डूंगरपुर के बिलुडा गांव के रहने वाले गरासिया राजनीति में आने से पहले बैंक में एलडीसी हुआ करते थे. गरासिया संघ पृष्ठभूमि में काफी मजबूत माने जाते हैं. 

बीजेपी के एसटी मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष गरासिया बीजेपी राजस्थान की कार्यकारिणी में प्रदेश उपाध्यक्ष से चुके हैं. 2024 के लोकसभा चुनाव में  उदयपुर सीट के लिए बीजेपी से उन्हें प्रमुख दावेदार माना जा रहा था, लेकिन अब उन्हें राज्यसभा भेज रही है. 

कौन है मदन राठौड़

पाली जिले की सुमेरपुर विधानसभा सीट से दो बार विधायक रह चुके मदन राठौड़ ओबीसी वर्ग से आते हैं. पिछली बीजेपी सरकार में सरकारी उप मुख्य सचेतक बनाए गए गारसिया 2023 विधानसभा चुनाव में  टिकट की मांग कर रहे थे. लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया गया. इससे नाराज होकर मदन राठौड़ ने निर्दलीय नामांकन कराया था, हालांकि बाद उन्होंने पर्चा वापस ले लिया था.आरएसएस से जुड़े रहे मदन रौठोर शायद उसी का इनाम दिया जा रहा है.

उल्लेखनीय है राजस्थान से संसद के उच्च सदन राज्यसभा में 10 सीटें हैं. इनमें मौजूदा समय में कांग्रेस के छह और बीजेपी के तीन सदस्य हैं. जबकि एक सीट खाली है. राज्यसभा सदस्य के चुनाव में विधानसभा के सदस्य वोटिंग करेंगे. वर्तमान में विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी के राजस्थान में 115 विधायक है जबकि कांग्रेस के 70 विधायक हैं.

ये भी पढ़ें-'हम जान लगा देंगे, हमारा एक ही लक्ष्य कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री बने', सोनिया गांधी के सामने बोले राजस्थान PCC अध्यक्ष डोटासरा

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Rajasthan: यूपी पुलिस की राजस्थान में दबिश, एक गिरोह के 6 सदस्यों को किया गिरफ्तार, जानें पूरा मामला
Rajya Sabha nomination: बीजेपी उम्मीदवार मदन राठौड़ और चुन्नीलाल गरासिया ने भरा पर्चा
Big gift to pensioners of Rajasthan before the budget, now they will get three months advance pension.
Next Article
बजट से पहले राजस्थान के पेंशनर्स को बड़ा तोहफा, अब मिलेंगे तीन महीने की एडवांस पेंशन
Close
;