विज्ञापन
Story ProgressBack

जोधपुर में झगड़ा सुलझाने गई पुलिस को ग्रामीणों ने बनाया बंधक, छुड़ाने के लिए करनी पड़ी फायरिंग

जोधपुर जिले के बालेसर सर्कल के चामू पुलिस थाना क्षेत्र में दो पक्षों में आपसी झगड़े के मामले में मौके पर गई चामू पुलिस को बंधक बना लिया.

Read Time: 3 mins
जोधपुर में झगड़ा सुलझाने गई पुलिस को ग्रामीणों ने बनाया बंधक, छुड़ाने के लिए करनी पड़ी फायरिंग
जोधपुर में पुलिस को बनाया बंधक

Rajasthan News: राजस्थान में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है. यहां जोधपुर में एक झगड़े को सुलझाने गई पुलिस को ग्रामीणों ने बंधक बना लिया. बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने थाने के SHO को ही बंधक बना लिया. खबर के मुताबिक, जोधपुर जिले के बालेसर सर्कल के चामू पुलिस थाना क्षेत्र में दो पक्षों में आपसी झगड़े के मामले में मौके पर गई चामू पुलिस को बंधक बना लिया. वहीं, इस घटना की जानकारी जब पुलिस अधीक्षक को मिली तो उनके निर्देश पर आसपास के थानों की पुलिस ने मिलकर अपने साथियों को छुड़ाया.

बताया जा रहा है कि इस घटना में पुलिस को फायरिंग भी करनी पड़ी. वहीं दर्जन भर आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. जबकि उनके वाहन भी जब्त कर लिये गए हैं. इस मामले में एक हेड कांस्टेबल घायल भी हुआ है.

पुलिस को छुड़ाने गए कांस्टेबल का हाथ टूटा

ग्रामीण पुलिस अधीक्षक धर्मेंद्र सिंह यादव ने बताया कि चामू पुलिस को शनिवार रात को 11:00 बजे गोदेलाई गांव में दो पक्षों में आपसी झगड़े की सूचना मिली थी. जिस पर चामू थानाधिकारी ओमप्रकाश मय जाब्ता मौके पर पहुंचे, तो वहां पर खड़े लोगों ने पुलिस को बंधक बनाकर घर में कैद कर लिया. इसके बाद चामू पुलिस को बंधक बनाने की सूचना मिलने पर हेड कांस्टेबल दो पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे.  तो उनको भी वहां पर बंधक बना कर उसके साथ मारपीट की गई. जिसमें हेड कांस्टेबल का हाथ टूट गया. 

पुलिस पर गाड़ी चढ़ाने का आरोप

इसके बाद जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण धर्मेंद्र सिंह यादव को सूचना मिलने पर आसपास के तमाम थानों की पुलिस को मौके पर भेजा गया. वह खुद भी मौके पर पहुंचे. आरोपियों के कब्जे से पुलिस कर्मियों को छुड़ाया गया और दर्जन पर महिला और पुरुष आरोपियों को हिरासत में लिया गया. उनके वाहन भी जब्त कर चामू पुलिस थाने ले गए. वहीं एतिहायत के तौर पर चामू पुलिस थाने में अतिरिक्त जाब्ता लगाया गया हैं. ग्रामीण एसपी धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि जब अन्य स्थानों की पुलिस अपने साथी पुलिसकर्मियों को छुड़वाने के लिए गए तो आरोपियों द्वारा पुलिस पर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास किया गया जिस पर पुलिस ने आत्मरक्षा में गाड़ी पर गोली चलाई. वहीं आईजी विकास कुमार और जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण धर्मेंद्र सिंह यादव इस मामले की मॉनीटरिंग कर रहे हैं. फिलहाल स्थिति शांतिपूर्ण है.

यह भी पढ़ेंः अग्निवीर योजना पर पहली बार बोले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, 'उनके पास स्किल, आरक्षण और 16 लाख होंगे'

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राजस्थान में 11 लोकसभा सीटों पर क्यों हारी बीजेपी? मंथन में बड़ी वजह आई सामने
जोधपुर में झगड़ा सुलझाने गई पुलिस को ग्रामीणों ने बनाया बंधक, छुड़ाने के लिए करनी पड़ी फायरिंग
Bhupendra Yadav again got the Ministry of Environment, Forest and Climate Change, again got a big responsibility
Next Article
भूपेंद्र यादव को फिर मिला पर्यावरण-वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, मिली फिर बड़ी जिम्मेदारी
Close
;