विज्ञापन
Story ProgressBack

कौन हैं विश्वेन्द्र सिंह? पूर्व मंत्री जो पारिवारिक कलह के लिए हैं सुर्खियों में

विश्वेंद्र सिंह भरतपुर रियासत के अंतिम शासक के बेटे हैं. वह तीन बार सांसद और दो बार विधायक रह चुके हैं.

Read Time: 3 mins
कौन हैं विश्वेन्द्र सिंह? पूर्व मंत्री जो पारिवारिक कलह के लिए हैं सुर्खियों में

Vishvendra Singh: विश्वेंद्र सिंह पूर्व विधायक और मंत्री हैं जो कांग्रेस पार्टी की ओर से दो बार विधायक रह चुके हैं. साल 2013 और 2018 में वह डीग-कुम्हेर सीट से विधायक रह चुके हैं. हाल ही में वह पारिवारिक कलह को लकर सुर्खियों में हैं. उन्होंने अपने बेटे और पत्नी पर मारपीट करने का आरोप लगाया है. उनकी पत्नी दिव्या सिंह सांसद भी थीं. दरअसल विश्वेंद्र सिंह ने पत्नी दिव्या सिंह और बेटे अनिरुद्ध सिंह पर आरोप लगाया है कि वह उन्हें खाने नहीं देते हैं. इसलिए विश्वेंद्र सिंह ने उपखंड अधिकारी के ट्रिब्युनल में प्रार्थना पत्र देकर भरण पोषण खर्च की मांग की है.

विश्वेंद्र सिंह का कहना है कि खाना नहीं मिलने की वजह से उन्होंने घर छोड़ दिया है. हालांकि पत्नी दिव्या सिंह और बेटे अनिरुद्ध सिंह ने कहा है कि यह पूरा मामला मामला महाराजा सूरजमल की प्रॉपर्टी को लेकर के है. महाराजा विश्वेंद्र सिंह पर आरोप लगाए कि उन्होंने पूरी प्रॉपर्टी बेच दी है. उन्होंने डॉक्यूमेंट पर हमारे फर्जी सिग्नेचर भी कराए हैं. एक मोती महल है, जिसे बेचना चाहते थे और उसे बचाने के लिए यह पूरा मामला बना है. मोती महल महारानी दिव्या सिंह के नाम है और उनके नाम से पट्टा भी है.

कौन हैं विश्वेंद्र सिंह

विश्वेंद्र सिंह एक नेता है जो पूर्व में राजस्थान सरकार में नागरिक उड्डयन विभाग में पर्यटन कैबिनेट मंत्री के रूप में काय किया था. हालांकि 2008 से पहले वह BJP में और जनता दल से जुड़े थे. लेकिन साल 2008 में दिंगबर सिंह से मतभेद की वजह से कांग्रेस में शामिल हुए. इससे पहले वह तीन बार सांसद रह चुके हैं. साल 1989 जनता दल से, 1999 और 2004 बीजेपी से वह भरतपुर सीट से सांसद रह चुके हैं. इसके बाद जब वह कांग्रेस में आए तो 2013 और 2018 में डीग-कुम्हेर सीट से विधायक रहे. हालांकि, कांग्रेस पार्टी में भीतर विवादों की वजह से साल 2019 में ही कार्यकाल समाप्त कर दिया.

आपको बता दें विश्वेंद्र सिंह भरतपुर रियासत के अंतिम शासक के बेटे हैं. 1971 में भारत के संविधान में 26वें संशोधन में भारत सरकार ने उपाधियों, विशेषाधिकारों और रियासती भारत के सभी आधिकारिक प्रतीकों को समाप्त कर दिया.

अब विश्वेंद्र सिंह के परिवार में पत्नी और बेटे के साथ उनकी प्रोपर्टी के लिए विवाद चल रहा है. कहा जा रहा है कि यह मामला 4 साल से चल रहा है. वहीं पत्नी ने कहा है कि विश्वेंद्र सिंह 3 साल से महल नहीं आए हैं.

यह भी पढ़ेंः Royal Family Dispute: विश्वेंद्र सिंह ने महाराजा सूरजमल की बेच दी पूरी प्रॉपर्टी, पत्नी-बेटे ने किए कई खुलासे

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
जयपुर में महिला बैंक मैनेजर के साथ साइबर ठगी, ट्राई सदस्य बनकर लगाया 17 लाख का चूना
कौन हैं विश्वेन्द्र सिंह? पूर्व मंत्री जो पारिवारिक कलह के लिए हैं सुर्खियों में
Preparation for by-elections for 5 assembly seats in Rajasthan, what a big challenge Congress, RLP and BAP pose for BJP.
Next Article
राजस्थान में 5 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव, बीजेपी के लिए कांग्रेस, RLP और BAP कितनी बड़ी चुनौती
Close
;