विज्ञापन
Story ProgressBack

185 सदस्य, 700 बीघा खेती, 12 कार, इंटरनेट पर वायरल है 6 पीढ़ियों वाली राजस्थान की ये फैमिली

परिवार की बहू लाड़ी देवी बताती हैं कि एक साथ सुबह शाम 13 चूल्‍हें जलते है. जिसमें सुबह 7 किलो सब्जी 35 किलो आटे की रोटी बनाई जाती है. 185 लोगों के लिए खाना घर की महिलाएं साथ मिलकर बनाती हैं, सुबह पांच बजे ही घर के चौके में एक साथ 13 चूल्‍हें जल जाते हैं. आज तक परिवार में कोई विवाद नहीं हुआ. 

185 सदस्य, 700 बीघा खेती, 12 कार, इंटरनेट पर वायरल है 6 पीढ़ियों वाली राजस्थान की ये फैमिली
नसीराबाद के माली परिवार के साथ बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल और सारा अली खान

Joint Family Of Ajmer Nasirabad: राजस्‍थान के अजमेर से 36 किलोमीटर दूर नसीराबाद के रामसर गांव मे रहने वाला का 'बागड़ी माली परिवार' इन दिनों खूब सुर्खियां बटोर रहा है. अजमेर के गांव के इस परिवार की खास बात ये है कि ये 185 सदस्‍यों का संयुक्‍त परिवार है. जिनसे माइन शुक्रवार को एक्‍ट्रेस सारा अली और विक्‍की कौशल मिलने उनके घर आये थे. इस परिवार में एक-दो नहीं बल्कि छह पीढ़ियां एक साथ हंसी खुशी रह रही हैं.

अजमेर जिले के रामसर गांव के इस परिवार को 'बागड़ी माली परिवार' के नाम से जाना जाता है. परिवार की बहू लाड़ी देवी ने बताया कि उनके परिवार के सदस्‍यों के बीच प्‍यार और एकता की मिसाल उनके गांव ही नहीं दूर-दूर के गांवों और शहरों तक दी जाती है. बागड़ी माली परिवार के मुखिया सुल्तान माली थे जिनके छह बेटे थे. अब सुल्तान और उनके दो बेटों भंवरालाल और रामचंद्र की मृत्‍यु हो चुकी है. इस परिवार में छह भाईयों की कुल छह पीढ़ी साथ रहती हैं जिसमें 65 पुरुष, 60 महिलाएं और 60 बच्चे हैं.

छोटा-मोटा मनमुटाव परिवार के बड़े सदस्य निपटा देते हैं  

परिवार का कहना है कि परिवार के बुजुर्ग बिरदीचंद के पिता सुल्‍तान ने हमेशा परिवार को एकजुट रहने की सीख दी. लाडी देवी के ससुर ने ही ये रास्‍ता दिखाया जिस पर चलते हुए आज उनके परिवार की छह पीढ़ियां एक साथ एक छत के नीचे रह रही हैं. उन्‍होंने कहा, 'कुछ मन-मुटाव अगर होता भी है तो हम सब बड़े मिल बैठकर सुलझा लेते हैं. उन्‍होंने कहा कि परिवार के सदस्‍यों के बीच प्‍यार है, सभी सदस्‍यों को रिश्‍ता निभाना आता है."

माली परिवार के सदस्य

माली परिवार के सदस्य

सबने मिलकर कमाई 600 बीघा जमीन 

परिवार के लोग बताते हैं कि उनके परिवार के मुख्या जब जिंदा थे तब उनके बड़े भाई एक बड़े व्यापारी के यहां नौकरी करते थे. तब उनके परिवार के पास केवल चार बीघा जमीन थी और अब 600 बीघा जमीन है. उन्होंने यह अपनी मेहनत से बनाई है. परिवार के पास जो कुल 600 बीघा जमीन है जिस पर खेती और सब्जी उगाकर ये परिवार अपने परिवार का खर्च चलाता है. परिवार के कुछ लोग सरकारी और प्राइवेट नौकरी करते हैं तो बाकी सदस्‍य खेती, पशुपालन और अन्य काम करते हैं. परिवार पर एक महीने करीब 12 लाख रुपए महीने में राशन पर खर्च आता हैं.

दादी से लेकर पोती तक बनाती हैं 13 चूल्हों पर खाना

परिवार की बहू लाड़ी देवी बताती हैं कि एक साथ सुबह शाम 13 चूल्‍हें जलते है. जिसमें सुबह 7 किलो सब्जी 35 किलो आटे की रोटी बनाई जाती है. 185 लोगों के लिए खाना घर की महिलाएं साथ मिलकर बनाती हैं, सुबह पांच बजे ही घर के चौके में एक साथ 13 चूल्‍हें जल जाते हैं. आज तक परिवार में कोई विवाद नहीं हुआ. 

परिवार के साथ बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल और सारा अली खान

परिवार के साथ बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल और सारा अली खान

शूटिंग के दौरान परिवार से मिले विक्की और सारा 

अजमेर में बॉलीवुड एक्‍टर विक्‍की कौशल और सारा अली खान यहां शूटिंग के लिए पहुंचे थे. जब वो इस परिवार से मिलने के लिए उनके घर गए और परिवार के सदस्‍यों के बीच प्‍यार और अपनापन देखकर गदगद हो गए. सारा अली खान ने कहा ऐसा संयुक्‍त परिवार आज भी हमारे देश में है ये आश्‍चर्य में डालने वाली बात तो है. साथ ही ये हमारे लिए गर्व की बात है. 

यह भी पढ़ें- 1 करोड़ का जुर्माना, 10 साल की जेल, रात से लागू हो गया नक़ल और पेपर लीक कानून

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
टीचर ने स्कूल न आने का पूछा कारण, तो छात्र ने तान दी पिस्तौल; मारने की धमकी देकर फरार
185 सदस्य, 700 बीघा खेती, 12 कार, इंटरनेट पर वायरल है 6 पीढ़ियों वाली राजस्थान की ये फैमिली
Protest started regarding new education policy, parents are not aware of this new rule
Next Article
नई शिक्षा नीति को लेकर शुरू हुआ विरोध, पैरेंट्स को नहीं है इस नए नियम की जानकारी
Close
;