विज्ञापन
Story ProgressBack

विश्वेंद्र सिंह ने पत्नी और बेटे को लिए अशोक गहलोत से क्यों मांगी माफी, कहा- 'मेरी बगावत के बाद भी...'

पूर्व मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने अब अशोक गहलोत से माफी मांगी है. उन्होंने अपनी बगावत और पत्नी और बेटे के लिए गहलोत से माफी मांगी है.

विश्वेंद्र सिंह ने पत्नी और बेटे को लिए अशोक गहलोत से क्यों मांगी माफी, कहा- 'मेरी बगावत के बाद भी...'

Rajasthan News: राजस्थान के भरतपुर राजपरिवार  में चल रहे पूर्व राज परिवार में पूर्व कैबिनेट एवं राज परिवार सदस्य विश्वेंद्र सिंह और उनकी पत्नी और पुत्र की ओर से आरोप प्रत्यारोप लगाए जा रहे हैं. बुधवार के दिन विश्वेंद्र सिंह की पत्नी और पुत्र द्वारा राज परिवार में विवाद कराने में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का हाथ बताया था. जिसे लेकर पूर्व कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने फेसबुक अकाउंट पर पूर्व सीएम अशोक गहलोत पर मेरी पत्नी और बेटे ने जो आरोप लगाएं हैं. वो सरासर झूठे और बेबुनियाद हैं. मेरी पत्नी व बेटे की आदत है झूठे और बेबुनियाद आरोप लगाने की तीन बार के भूतपूर्व मुख्यमंत्री, तीन बार पीसीसी चीफ व पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक गहलोत जी जो हमारे बहुत ही सीनियर नेता हैं. उनके खिलाफ़ मेरी पत्नी और बेटे ने जो आरोप लगाएं उनके लिए मैं अपनी तरफ़ से गहलोत साहब से माफ़ी मांगता हूं. गहलोत साहब ने तो बहुत ही प्रयास किए थे सुलह करवाने के लिए लेकिन उनकी बातों को इन दोनों ने नकार दिया था.

पूर्व कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह की पत्नी दिव्या सिंह और पुत्र अनिरुद्ध सिंह ने बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस कर पूर्व सीएम अशोक गहलोत का नाम लेते हुए कहा कि उन्होंने दो-ढाई साल तक खूब घी छिड़का है. उन्होंने आग लगाने का काम किया है. साथ ही घाव में घी छिड़कने का काम किया है. उन्होंने कहा हमारे किसी खास व्यक्ति ने जानकारी दी कि हमारे कॉल रिकार्ड किए जा रहे हैं.

विश्वेंद्र सिंह ने अशोक गहलोत से मांगी माफी

पूर्व कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने पत्नी और बेटे के द्वारा पूर्व सीएम अशोक गहलोत का नाम लेकर राज परिवार में विवाद कराने के जो आरोप लगाए है. उसे लेकर विश्वेंद्र सिंह अपनी फेसबुक अकाउंट पर लिखा है कि तीन बार के भूतपूर्व मुख्यमंत्री तीन बार पीसीसी चीफ व पूर्व केंद्रीय मंत्री अशोक गहलोत जो हमारे बहुत ही सीनियर नेता हैं. उनके खिलाफ़ मेरी पत्नी और बेटे ने जो आरोप लगाएं हैं वो सरासर झूठे और बेबुनियाद हैं. मेरी पत्नी और बेटे की आदत है झूठे व बेबुनियाद आरोप लगाने की.  मैनें पूर्व में जब गहलोत सरकार के खिलाफ़ बगावत की थी. उसके बाद भी उन्होंने मुझे अपनी सरकार के मंत्रिमंडल में जगह दी थी. गहलोत साहब ने मेरी विधानसभा में बहुत से ऐतिहासिक कार्यों को मंजूरी दी थी. उन सभी कार्यों को मैनें मंत्री रहते हुए पूर्ण करवाया था. गहलोत साहब हमारे बहुत ही सीनियर और बुजुर्ग नेता हैं उनके खिलाफ़ मेरी पत्नी और बेटे ने जो आरोप लगाएं उनके लिए मैं अपनी तरफ़ से गहलोत साहब से माफ़ी मांगता हूं.

मेरी पत्नी और बेटे ने अपने इंटरव्यू पहले दिए थे. गहलोत साहब ने तो बहुत ही प्रयास किए थे सुलह करवाने के लिए लेकिन उनकी बातों को इन दोनों ने नकार दिया था.

दिव्या सिंह ने अशोक गहलोत पर लगाए थे आरोप

दिव्या सिंह ने कहा कि मोती महल के बाहर जो नगर निगम एरिया है. उसका सौंदर्यीकरण प्रोजेक्ट सेंशन हुआ था. उसे रोक दिया गया. हमें किसी काम की परमिशन चाहिए थी. वह सभी रोक दी गई. पूर्व सीएम अशोक गहलोत से मिलने का कई बार प्रयास किया, मिलने नहीं दिया गया. दिव्या सिंह ने कहा कि मोती महल परिसर ऐतिहासिक धरोहर है. उसमें एंटीक वस्तुएं हैं, जिनकी सुरक्षा के लिए पूर्व सीएम अशोक गहलोत से गार्ड जाप्ता मांगा था. सुरक्षा को लेकर गार्ड लगाने की बात कही, लेकिन उन्होंने उसको ड्रॉप कर दिया. अगर कल कोई कीमती वस्तु महल से लापता होती है तो इसका जिम्मेदार पूर्व सीएम गहलोत होंगे. अपने पक्ष में फेसबुक पर पोस्ट डालने के लिए हमारे लोगों को काफी परेशान किया गया.

यह भी पढ़ेंः भरतपुर राजपरिवार मामले में बढ़ रहा विवाद, विश्वेंद्र सिंह का नया बयान- 'कौन कहता है हम अलग हैं'

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
फोन टैपिंग मामले में राजस्थान सरकार हुई सक्रिय, अशोक गहलोत को घेरने की बना रही यह रणनीति
विश्वेंद्र सिंह ने पत्नी और बेटे को लिए अशोक गहलोत से क्यों मांगी माफी, कहा- 'मेरी बगावत के बाद भी...'
4 soldiers including constable from Jhunjhunu martyred in Jammu and Kashmir's Dota, CM Bhajan Lal pays tribute
Next Article
Encounter in Doda: जम्मू-कश्मीर के डोडा में झुंझुनू के 2 जवान समेत 4 शहीद, सीएम भजनलाल ने दी श्रद्धांजलि
Close
;