विज्ञापन
Story ProgressBack

भरतपुर राजपरिवार मामले में बढ़ रहा विवाद, विश्वेंद्र सिंह का नया बयान- 'कौन कहता है हम अलग हैं'

भरतपुर राजपरिवार के लिए होने वाली महापंचायत के लिए विश्वेंद्र सिंह ने अपनी परिवरों के साथ मिलकर गुट बनाई है.

भरतपुर राजपरिवार मामले में बढ़ रहा विवाद, विश्वेंद्र सिंह का नया बयान- 'कौन कहता है हम अलग हैं'

Bharatpur Raj Pariwar Dispute: राजस्थान के भरतपुर के मशहूर राजपरिवार में विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. हाल ही विश्वेंद्र सिंह पत्नी दिव्या सिंह ने कहा था कि हमने राज परिवार के खिलाफ कई पंचायत देखी हैं. यानी उनका कहना है कि राज परिवार के अंदर काफी सारी मामलों को लेकर पंचायत हो चुकी है. वहीं इसके बाद पूर्व विधायक विश्वेंद्र सिंह ने अपने परिवारों का गुट बनाकर उनसे मुलाकात की और कहा 'कौन कहता है हम अलग हैं'.

दिव्या सिंह और पुत्र अनिरुद्ध ने हाल ही में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हम लोगों ने काफी पंचायत देखी है. और राज परिवार के सदस्यों का नाम लेकर कहा कि राव राजा काका रघुराज सिंह, पूर्व सांसद और पूर्व मंत्री राजकुमारी कृष्णेन्द्र कौर दीपा के खिलाफ काफी पंचायत हुई है. 

दिव्या सिंह इस बात पर विश्वेंद्र सिंह ने गुरुवार को मोतीझील पर पहुंचकर राव राजा काका रघुराज सिंह, पूर्व सांसद राजकुमारी कृष्णेन्द्र कौर दीपा, कुंवर दीपराज सिंह, कुंवर दुष्यंत सिंह से मुलाकात कर पारिवारिक सदस्यों ने एक दूसरे की कुशलक्षेम जानी. इसके बाद विश्वेंद्र सिंह ने फेसबुक अकाउंट पर लिखा है कौन कहता है हम अलग हैं.

महापंचायत केवल एसडीएम पर दबाव के लिए

पूर्व राज परिवार के विवाद को लेकर कुम्हेर स्थित चामुंडा माता मंदिर पर 36 कौमों की पंचायत हुई थी. इस पंचायत में 51 सदस्यों की कमेटी बनाने साथ ही आगामी दिनों में महापंचायत का आयोजन कर इस पारिवारिक विवाद को समाप्त करना है. लेकिन पूर्व कैबिनेट मंत्री विश्वेंद्र सिंह की पत्नी दिव्या सिंह और बेटे अनिरुद्ध सिंह ने इस पंचायत को लेकर कहा कि यह किसी समाज का नहीं बल्कि एक परिवार का मामला है. इसे कोई पंचायत नहीं सुलझा सकती. यह पंचायत सिर्फ एसडीएम पर दबाव बनाने के लिए की गई है. हम लोगों पर इस पंचायत का कोई फर्क नहीं पड़ता. 

यह भी पढ़ेंः कौन हैं विश्वेन्द्र सिंह? पूर्व मंत्री जो पारिवारिक कलह के लिए हैं सुर्खियों में

क्या है राजपरिवार का विवाद

परिवार में आपसी मतभेद और संपत्ति को लेकर उलझा ये शाही परिवार अब अपने विवादों को लेकर अदालत भी पहुँच चुका है .परिवार के मुख्य भरतपुर के पूर्व राजपरिवार के महाराज विश्वेन्द्र सिंह ने अपनी पत्नी और बेटे पे आरोप लगाया है की अपने ही महल से उन्हें बेदखल कर दिया गया है. पहले पत्नी और बेटे ने उन्होंने महल में बंधक बना के रखा फिर उनका खाना पीना बंद कर दिया.

उनके बेटे अनिरुद्ध सिंह पर भी आरोप है की उसने अपने पिता विश्वेन्द्र सिंह के साथ मार पीट की और उन्होंने महल से बेदखल कर दिया उनके कपडे पहाड़ दिए और उनका सामान महल के बहार फ़ेंक दिया.अब यह मामला एसडीएम कोर्ट में है.इसकी तारीख 24 मई है. अब देखना होगा इस मामले को लेकर क्या फैसला होता है.

यह भी पढ़ेंः विश्वेंद्र सिंह का बड़ा आरोप, पत्नी और बेटे ने बेच दी वाइल्ड लाइफ ट्रॉफी

Rajasthan.NDTV.in पर राजस्थान की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार, लाइफ़स्टाइल टिप्स हों, या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें, सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
राजस्थान के इन दो जिलों में 15 दिन बाद क्यों होती है सावन माह की शुरुआत? जानिए इसके पीछे की वजह
भरतपुर राजपरिवार मामले में बढ़ रहा विवाद, विश्वेंद्र सिंह का नया बयान- 'कौन कहता है हम अलग हैं'
Bundi Nainwa post office Employee fraud crores rupees from more than 20 account holders and invested all money in share market
Next Article
Rajasthan: पोस्ट ऑफिस कर्मचारी ने 20 से अधिक खाताधारकों के हड़पे करोड़ों रुपये, सारा पैसा शेयर मार्केट में किया इन्वेस्ट
Close
;